Hindi tips – Best foods to eat during periods – मासिक धर्म के समय खाए जाने वाले सर्वश्रेष्ठ भोजन

पीरियड्स क्या होते है, मासिक धर्म महीने का वो समय है जब आप काफी परेशान और बेचैन होती हैं। माहवारी सम्बन्धी समस्याएं, आपको ना खाने की इच्छा होती है न ही किसी और चीज़ की। यह वह समय होता है जब आपके स्वास्थ्य और आपके शरीर को अतिरिक्त सेवा एवं देखभाल की आवश्यकता होती है। इस समय आपको कुछ ख़ास प्रकार का भोजन ग्रहण करना चाहिए जिससे आपका स्वास्थ्य सही रहे और आप तरोताज़ा रह सकें। यही वह समय है जब आपको शरीर में अकड़ और सूजन महसूस होती है। मासिक धर्म के घरेलू उपाय, नीचे कुछ ऐसे खानपान के विकल्प दिए गए हैं जो इस स्थिति में आपको फायदा पहुंचाते हैं।

मासिक धर्म या पीरियड्स का समय एक महिला के लिए काफी ख़ास और बेचैनी भरा समय होता है। इस समय वे थकान, चिड़चिड़ेपन तथा कमज़ोरी का अनुभव करती हैं। कई महिलाएं ऐसी भी होती हैं, जिन्हें मतली तथा शरीर में मरोड़ की समस्या भी सताती है।

मासिक धर्म के समय सही और पर्याप्त मात्रा में खाद्य पदार्थों का सेवन करने से आपकी समस्याओं को प्रभावी रूप से दूर करने में आसानी होती है। माहवारी की जानकारी, इससे आप इस समय अपने शरीर में काफी ऊर्जा का अनुभव करेंगी तथा आपके शरीर के अंगों को सुचारू रूप से चलाने में भी इनका काफी योगदान होता है। नीचे मासिक धर्म के समय खाए जाने वाले ऐसे ही कुछ खाद्य पदार्थों की सूची दी जा रही है।

पीरियड्स के दौरान – काम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट्स (Complex carbohydrates)

घरेलू उपचार मासिक धर्म के दर्द के इलाज के लिए

मासिक धर्म के समय अपने खानपान में काम्प्लेक्स कार्बोहायड्रेट शामिल करें जो कि काफी फायदेमंद हैं। अपने खाने में फल,साबुत अनाज,हरी पत्तेदार सब्ज़ियाँ शामिल करें। संतरे,गाजर,आड़ू आदि खाएं जिससे आपकी मीठा खाने की आदत कम होगी।

डार्क चॉकलेट (Dark chocolate)

डार्क चॉकलेट खाने के सही समयों में से एक है मासिक धर्म का समय। डार्क चॉकलेट एक तरह का हॉर्मोन निर्मित करते हैं जिसे सेरोटोनिन कहते हैं जो आपके मूड को नियंत्रित करने में मदद करता है। अतः चॉकलेट खाकर आप अच्छा महसूस करेंगी।

विटामिन आधारित भोजन (Vitamin based foods)

विटामिन रहित भोजन करने से परहेज करें। हर महिला को मासिक धर्म के समय अपने खानपान में विटामिन एवं प्रोटीन की मात्रा बढ़ानी चाहिए। आप रसेदार फलों,बेर तथा अंगूर से विटामिन सी प्राप्त कर सकते हैं जो आपकी प्रजनन प्रणाली के स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा है। आप विटामिन इ नाशपाती एवं अंडे से प्राप्त कर सकते हैं। विटामिन इ आपको मासिक धर्म के पहले के सिंड्रोम से भी मुक्ति दिलाता है। विटामिन बी ६ की भी मात्रा लें जो आपको आलू से मिलेगी।

कैफीन से परहेज करें (Not the time for caffeine products)

मासिक धर्म के समय हर तरह के कैफीन युक्त उत्पाद से परहेज करें। इसका कारण यह है कि कैफीन में पेट में ज़्यादा एसिड छोड़ने की प्रवृत्ति होती है जिससे दर्द की उत्पत्ति या उसमें बढ़त होती है। कॉफ़ी की जगह चाय पीने की आदत डालें।

ज़रूरी वसा एसिड्स (Essential fatty acids)

माहवारी के समय पेट में अकड़ उठना मासिक धर्म की बड़ी समस्याओं में से एक है। ये अकड़ हॉर्मोन में अनियमियतता की वजह से होती है और वसा युक्त एसिड्स लेने से ये नियंत्रण में आ सकते हैं। लौकी के बीज,पटसन के बीज तथा सूरजमुखी के बीज को अपने आहार में शामिल करें। इन सबमें लिनोलेनिक एसिड होता है जो गर्भाशय की मांसपेशियों को सूकून देता है।

मासिक धर्म के सिंड्रोम के उपचार

आयरन युक्त भोजन (Iron rich food)

मासिक धर्म में काफी मात्रा में रक्तपात होता है अतः इसकी भरपाई के लिए महिलाओं को काफी मात्रा में आयरन युक्त भोजन ग्रहण करने की आवश्यकता है। आप आयरन युक्त भोजन ग्रहण करके अनीमिया के लक्षणों से लड़ सकते हैं। आयरन कमज़ोरी को दूर करता है और तनाव दूर करने के लिए भी अच्छा होता है। अपने आहार में सूखे बीन्स,हरी सब्ज़ियाँ,अंडे,लाल मांस तथा गुड को शामिल करें जिसमें आयरन की काफी मात्रा होती है।

संतुलित आहार (Balanced diet)

मासिक धर्म के समय एक संतुलित आहार का पालन करें जिसमें प्रोटीन,विटामिन एवं मिनरल की बराबर मात्रा हो। अपने खाने में फल,सब्ज़ियाँ,;डालेंतथा साबुत अनाज शामिल करें। मासिक धर्म के समय काफी मात्रा में पानी पियें।

पानी की महत्ता (Water intake is essential)

इस समय आपके शरीर को काफी मात्रा में पानी की आवश्यकता होती है। इस शरीर में द्रव्य की काम ई होती है अतः किसी भी तरह शरीर में पानी की मात्रा पूरी करने का प्रयास करें। कोला और कॉफ़ी से परहेज़ करें। इनमें कैफीन होता है अतः इससे आपके शरीर में मरोड उठ सकते हैं। पानी शरीर से सारे विषैले तत्व निकालता है और शरीर को तरोताज़ा रखता है।

पीरियड्स के दौरान खानपान – हरी पत्तेदार सब्ज़ियाँ (Green leafy vegetables is good)

जल्दी होने वाले मासिक धर्म के घरेलू उपचार

यह वह समय होता है जब आपको स्वस्थ रहने की आवश्यकता होती है, और इसके लिए हरी पत्तेदार सब्ज़ियों का सेवन करना आपके लिए बहुत ही ज़्यादा आवश्यक है। हरी पत्तेदार सब्ज़ियाँ कई प्रकार के पोषक पदार्थों से पूरी तरह भरी रहती हैं, और यही कारण है कि पीरियड्स के दौरान इन सब्ज़ियों का सेवन करने से आपका स्वास्थ्य काफी अच्छा रहता है। इन सब्ज़ियों में प्रचुर मात्रा में आयरन (iron) भी होता है, और इसी वजह से आप अपने मासिक धर्म के समय इन सब्ज़ियों का सेवन ना करने की बात सोच भी नहीं सकती। जब भी आप रात का भोजन करने बैठें तो सलाद का एक व्यंजन भी अपने खानपान में अवश्य शामिल करें। इसका सेवन करने से आपके शरीर और स्वास्थ्य को बेहतर रहने में काफी सहायता मिलेगी।

पीरियड्स के दौरान खानपान – मछली (Fish can be of help)

पीरियड्स के समय आपको ओमेगा 3 (omega 3) की काफी आवश्यकता होती है, और यही वजह है कि इस समय आप सालमन और टूना (salmon and tuna) के विभिन्न प्रकारों से अपने पसंद की मछली चुन सकती हैं। मछलियों में फैटी एसिड्स (fatty acids) की भी काफी मात्रा होती है और इसी वजह से, खासकर मासिक धर्म के समय, इनका सेवन करने से मांसपेशियों को काफी राहत की प्राप्ति होती है। मछली का सेवन करने से आपके शरीर में मरोड़ें उठने की समस्या काफी कम हो जाती है। इसके फलस्वरूप, इस समय आप खुद को काफी तरोताज़ा और कार्यशील महसूस करने लगती हैं। रात के भोजन में सालमन को शामिल करें और अपने भोजन का पूरी तरह से आनंद लें। यह एक बेहतरीन तरीका है, जिसकी मदद से आप अपने मासिक धर्म के समय भी बिलकुल स्वस्थ और सेहतमंद रह सकती हैं।

पीरियड्स के दौरान खानपान – केला (Banana can look after your health)

एक केले में काफी मात्रा में पोटैशियम (potassium) होता है, और अगर आप मासिक धर्म की प्रक्रिया से गुज़र रही हों तो ये आपकी सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। केले में B6  और अन्य कई प्रकार के विटामिन्स (vitamins) होते हैं। यही कारण है कि यह आपके रक्त में ग्लूकोस (glucose) के स्तर को प्रभावित करता है तथा आपके मूड (mood) को खुशनुमा करने में सहायता करता है। इस फल के नियमित सेवन से पेट भी साफ होता है, जो कि काफी बड़ा उपकार है। ऐसी भी कई महिलाएं हैं, जो मासिक धर्म के समय दस्त होने की शिकायत करती हैं। केले का सेवन करने से इस समस्या से निजात पाने में भी मदद मिलती है और आपका स्वास्थ्य काफी अच्छा बना रहता है।

मासिक धर्म में होने वाली कुछ आम समस्याएं

पीरियड्स के दौरान खानपान – लाल मांस (Red meat is good at the time)

महिलाओं के लिए मासिक धर्म के समय के दौरान लाल मांस भी एक काफी फायदेमंद खाद्य पदार्थ है। लाल मांस के एक टुकड़े का सेवन करने से शरीर में आयरन का संचार होता है। यही कारण है कि इस समय इस भोजन का सेवन करना आपके स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से काफी फायदेमंद साबित होता है। आप पीरियड्स के समय लाल मांस का सेवन करके इस दौरान होने वाली कमज़ोरी और अन्य समस्याओं से आसानी से निजात पा सकती हैं। अगर आप लाल मांस का सेवन हरी सब्ज़ियों, बीन्स (beans) और लेग्युम्स (legumes) के साथ कर सकें तो यह भोजन आपके लिए काफी स्वादिष्ट भी हो जाएगा,और साथ ही साथ आपके स्वास्थ्य को भी सकारात्मक रूप से प्रभावित करेगा।

loading...

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday