Hindi tips for facial toners for glowing face – उजले चेहरे के लिए घरेलू प्राकृतिक फेशियल टोनर

टोनर क्या है? टोनर त्वचा को सामान्य स्थिति में लाने में मदद करता है। टोनर से त्वचा साफ़ और उजली होती है। त्वचा का पीएच नियंत्रित करने में टोनर मदद करते हैं। वह चेहरे के क्षतिग्रस्त कोशिकाओं की मरम्मत करता है। यहाँ पर कुछ घरेलु प्राकृतिक फेशियल टोनर दिए गए हैं। इनको बनाकर इस्तेमाल करें।

रोजाना चेहरे को खूबसूरत बनाए रखने के लिए क्लींजिंग और टोनिंग (Cleansing and toning) काफी ज़रूरी है। इनके अलावा त्वचा से मृत कोशिकाएं निकालने की प्रक्रिया, जिसे हम एक्स्फोलियेशन (exfoliation) भी कहते हैं, काफी महत्वपूर्ण होती है। इससे त्वचा खूबसूरत और दमकती हुई बनती है।

आमतौर पर टोनर का प्रयोग चेहरे का अतिरिक्त तेल, गंदगी और मृत कोशिकाएं  साफ़ करने के बाद किया जाता है। बाज़ार में कई प्रकार के टोनर उपलब्ध हैं, पर इनमें से ज़्यादातर हमारी त्वचा पर हानिकारक साबित होते हैं। प्राकृतिक उत्पादों से बने घरेलू टोनर ज़्यादा प्रभावी तथा किफायती साबित होते हैं।

त्वचा के घरेलू टोनर (Homemade Skin Toner)

गुलाबजल, ग्लिसरीन और फिटकरी का टोनर (Rosewater, glycerine and alum Toner) – इन तीनों उत्पादों को अच्छे से मिश्रित करके फ्रिज (fridge) में अच्छे से जमाकर रखें और इसका प्रयोग रोजाना करें। यह सामान्य त्वचा के लिए काफी बेहतरीन टोनर साबित होता है। इसे अपने चेहरे पर इन तीनों उत्पादों के मिश्रण में रुई का कपड़ा डुबाकर इससे अच्छे से लगाएं और 10 मिनट के बाद पानी से धो लें।

टोनर का उपयोग – खीरे और दही का टोनर (Cucumber and curd toner) – ताज़े खीरे को किस लें और इसे फेंटी हुई दही के साथ मिश्रित करें। इसे अपने चेहरे और गले पर अच्छे से लगाएं और 15 मिनट के बाद अच्छे से धो लें। इस मिश्रण को फ्रिज में भी कुछ दिनों तक जमाकर रखा जा सकता है।

शहद, नींबू और अंडे का टोनर (Honey, lemon and egg toner) – इस टोनर को बनाने के लिए फेंटे हुए अंडे, शहद और नींबू का मिश्रण तैयार करें। आँखों और  होंठों को बचाते हुए इस टोनर को चेहरे पर लगाएं और 10 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद इसे सादे पानी से धो लें।

दूध के उपयोग से करें त्वचा की देखभाल

बर्फ का टोनर ( Ice toner) – यह त्वचा को ठंडा रखने तथा इसके स्वरुप में निखार लाने के लिए सबसे प्रभावी टोनर माना जाता है। सूती के कपड़े में बर्फ के एक टुकड़े को लपेटें और इसे धीरे धीरे चेहरे पर रगडें। यह गर्मियों के लिए सबसे श्रेष्ठ टोनर है। आप इस काम के लिए गुलाबजल युक्त बर्फ के टुकड़ों का भी प्रयोग कर सकते हैं।

टोनर का प्रयोग – अदरक और तुलसी का टोनर (Ginger tulsi toner) – इसे बनाने के लिए तुलसी की पत्तियों के साथ अदरक के पेस्ट का मिश्रण करें। इस पेस्ट का प्रयोग त्वचा को साफ़ करने के बाद चेहरे और गले पर टोनर की तरह करें और फिर चेहरे को ठन्डे पानी से धो लें।

नीम टोनर (Neem Toner) – नीम की पत्तियों को पानी में उबालें और इसे ठंडा होने के लिए छोड़ दें। इसके आबाद इसे छानकर फ्रिज में एक कांच की बोतल में संभालकर रख लें। यह मुहांसों और दाग धब्बों को दूर करने के लिए काफी बेहतरीन साबित होता है।

स्किन टोनर – तरबूज़ का टोनर (Water Melon toner) – ताज़े तरबूज से रस निकालें और इसे बाद में प्रयोग में लाने के लिए फ्रिज में रख दें। आप इसे 3 दिनों तक आराम से प्रयोग में ला सकते हैं।

लाल अंगूर के रस का टोनर (Red grape juice toner) – यह रस अंगूर से निकाला जाता है और इसे भी आप फ्रिज में कुछ दिनों तक जमा करके रख सकते हैं। यह रस ना सिर्फ आपकी त्वचा को टोन करता है, बल्कि त्वचा की रंगत में निखार भी लाता है।

नारियल का दूध (Coconut milk) – यह रूखी त्वचा के लिए बेहतरीन मोइस्चराइज़र (moisturizer) और टोनर का काम करता है। नारियल के दूध को कैस्टर ऑइल (castor oil) की कुछ बूंदों के साथ मिश्रित करें और अपने चेहरे पर इसका प्रयोग करें। आप इस टोनर से अपनी त्वचा को 2 से 3 बार पोंछ सकते हैं। यह आपकी त्वचा की रंगत को भी निखारने में मदद करता है और त्वचा को नर्म मुलायम बनाए रखता है।

टमाटर और नींबू (Tomato and lemon) – ताजा टमाटर लेकर उसका रस निकालें। ताजा नींबू का रस निकालें। इन रसों को मिलाकर कपास से चेहरे पर लगाएं। यह टोनर चेहरे के रंध्रों को खोल देते हैं।

स्किन टोनर – कपूर और गुलाब जल (Camphor and rose water) – एक कटोरे में गुलाब जल लें। इसमें थोडा कपूर मिलाएं। यह मिश्रण कपास या कपडे से चेहरे पर लगाएं। गुलाब जल प्राकृतिक टोनर है और कपूर कीटाणुरोधक है जिससे मुंहासे नहीं होते। कपूर चेहरे की जलन को शांत करता है।

पुदीना (Mint leaves – toner ke fayde) – आधा लीटर पानी में तुलसी के पत्ते उबालें। त्वचा की ज्यादा समस्याएँ हैं तो 2 कप तुलसी के पत्ते मिलाएं और साधारण इस्तेमाल के लिए 1 कप तुलसी के पत्ते मिलाएं। उबलने के बाद 10 मिनट के लिए ठंडा होने के लिए छोड दें। कपास से यह टोनर लगाएं। बचा हुआ फ्रिज में रखकर भविष्य में इस्तेमाल करें।

टोनर का उपयोग – सिरका और गुलाब जल (Vinegar and rose water) – 1 बड़ा चम्मच सिरका (विनेगर) और गुलाब जल एक साथ मिलाएं। कपास से यह मिश्रण चेहरे पर लगाएं। यह चेहरे के लिए प्राकृतिक टोनर है।

स्किन टिप्स – ग्रीन टी (Green tea) –

आलू के फेस पैक चेहरा निखारने के टिप्स

ग्रीन टी पानी में उबालें। इस पानी को टोनर की तरह इस्तेमाल करें। पानी ठंडा होने के बाद कपास से इसे चेहरे पर लगाएं।

नींबू रस – (Lemon juice – toner ke gun)

नींबू का रस प्राकृतिक टोनर है। ताज़ा नींबू निचोड़कर उसका रस कपास से चेहरे पर लगाएं। 10 मिनट के बाद चेहरा धो डालें। नींबू से चेहरे के पीएच के स्तर का नियंत्रण होता है।

टोनर का प्रयोग – वोडका और तरबूज (Vodka and watermelon) – 1 बड़ा चम्मच नींबू का रस, 2 बड़े चम्मच वोडका और 2 बड़े चम्मच तरबूज का रस अच्छी तरह से मिलाएं। इस मिश्रण को कपास से चेहरे पर लगाएं।

लैवेंडर का तेल और नींबू के तेल से बना चेहरे का टोनर (Lavender oil and lemon toner) – आधा बड़ा चम्मच लैवेंडर का तेल, आधा बड़ा चम्मच नींबू का तेल और 1 बड़ा चम्मच पानी अच्छी तरह से मिलाएं। इस मिश्रण को चेहरे पर लगाएं। लैवेंडर का तेल चेहरे के निशान मिटा देता है।