Natural foods to boost your thyroid health with nutritions – थायरोइड की समस्या, थायरोइड से जुड़े कुछ बेहतरीन आहार

थायरोइड एक बहुत ही महत्वपूर्ण ग्रंथि होती है जो हमारे शरीर में कार्य करती है. यह हमारे गले में सामने की तरफ होती है जिसका आकार बटरफ्लाई की तरह होता है. यह ग्रंथि हार्मोन स्त्रावित करती है जो शरीर के कुछ खास क्रियाकलापों को नियंत्रित करती है जिसमें शरीर का वजन शामिल है. इसके अलावा नींद के दौरान मेटाबोलिस्म का प्रयोग ऊर्जा के रूप में किस तरह हो यह भी इसी के सहयोग से संपन्न होता है. गर्भावस्था और मेनोपोज के समय थाइरोइड का संतुलन अनियंत्रित हो जाता है जो अधिक तनाव का कारण बनता है.

थाइरोइड हार्मोन का सही और उचित मात्रा में स्त्रावण शरीर के सही संचालन के लिए बहुत ज़रूरी है. समस्या तब उत्पन्न होती है जब यह हाइपरथाइरोइडिस्म और हाइपोथाइरोइडिस्म की अवस्था को पैदा करता है. प्राकृतिक उपचार और भोजन द्वारा थाइरोइड को सेहतमंद रखा जा सकता है. थाइरोइड के घरेलू उपाय में यहाँ कुछ आसान से नुस्खे बताये जा रहे हैं जिन्हें घर पर आसानी से किया जा सकता है.

थायरोइड से जुड़े टिप्स हिंदी में (Hindi tips for Thyroid health)

नारियल का तेल (Coconut oil to improve foods)

नारियल के तेल की मदद से थाइरोइड को सही रखा जा सकता है जो आसानी से ऊर्जा में परिवर्तित होकर थाइरोइड के संचालन को सही करती है. इसमें मौजूद फैटी एसिड भी थाइरोइड के लिए बेहतर होते हैं. बाज़ार में आसानी से कोकोनट ऑइल और कोकोनट बटर उपलब्ध हो जाता है जिसका प्रयोग खाने के लिए किया जाता है.

आयोडीन फ़ूड (Iodine foods that have thyroxine)

आयोडीनयुक्त भोजन थायरोक्सिन के निर्माण में सहायक होते हैं जिसका रिसाव थाइरोइड ग्रंथि के द्वारा किया जाता है. अनानस, सीवीड, मछली, आयोडीनयुक्त नमक, अंडे और मछली के तेल में इसकी भरपूर मात्रा पाई जाती है.

फैटी एसिड (Essential fatty acids best home remedy)

ओमेगा3 और ओमेगा6 फैटी एसिड शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते है इसके अलावा मेटाबोलिस्म को संतुलित करने के लिए थाइरोइड को प्रेरित करते हैं. कद्दू, सालमन और टूना फिश, प्याज कल, सूरजमुखी के बीज, पत्तेदार सब्जी, लहसुन, तिल और अखरोट में इसकी बेहतरीन मात्रा मौजूद होती है.

डेयरी उत्पाद (Increase dairy products intake)

थाइरोइड के बढ़ जाने की वजह से रक्त में कैल्शियम का स्तर कम हो जाता है. कैल्शियम की यह क्षति हड्डियों को भी प्रभावित कर सकती है. इसके लिए दूध और दूध से बने उत्पादों के प्रयोग की मात्रा बढ़ा देनी चाहिए. दूध, दही, चीज, मक्खन, पनीर आदि के साथ किशमिश, पालक, तिल, झींगा मछली आदि का सेवन करना चाहिए.

Subscribe to Blog via Email

Join 45,326 other subscribers

केला (Bananas to treat Thyroid)

केला पोटेशियम का बेहतरीन स्रोत है. इसके अलावा इसमें अन्य प्रोटीन भी पाए जाते हैं. हाइपरथाइरोयडीस्म की समस्या को इसकी सहायता से नियंत्रित किया जा सकता है.

एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन बी (How to treat Thyroid in Hindi)

हमारे शरीर में एंटीऑक्सीडेंट का विशेष महत्व है. यह तनाव को कम करने के लिए भी मददगार होता है. यह वंशानुगत रोगों से लड़ने में शरीर को मदद करते हैं. यह एजिंग प्रोसेस को भी धीमा कर आपको युवा बनाये रखता है. इस दौरान होने वाले स्ट्रेस या तनाव को कम करने में इनके साथ विभिन्न तरह के विटामिन जैसे विटामिन सी, विटामिन ई और विटामिन ए का प्रयोग गुणकारी होता है.

समुद्री सब्जियां (Sea vegetables – Natural home remedy for Thyroid)

समुद्री सब्जियों और सी फूड्स में आयोडीन की प्रचुर मात्रा होती है. जो थाइरोइड में राहत देने का काम करता है. इसके लिए आप स्नैक्स आदि में समुद्री नमक को ऊपर से छिड़ककर भी ले सकते हैं. अवोकाडो, सालमन मछली, शकरकंद, अंकुरित अनाज और मगज के दानें बहुत लाभकारी होते हैं.

जिंक का प्रयोग (Add the zinc is natural home food)

अपने नियमित आहार में जिंक की अतिरिक्त मात्रा का प्रयोग कर हाइपरथाइरोयडीस्म की समस्या का उपचार किया जा सकता है. सूखे मेवों जैसे बादाम, मूंगफली और अखरोट में जिंक की मात्रा पाई जाती है.

थाइरोइड से बचने के लिए सेलेनियम (Selenium contained food for thyroid)

थाइरोइड से बचाव के लिए सेलेनियम एक महत्वपूर्ण घटक है. यह हार्मोन के संतुलन को बेहतर कर शरीर को भी सेहतमंद बनाने में मदद करता है. अंडे, मशरूम, सी फूड्स जैसे घोंघे आदि में अत्यधिक मात्रा में सेलेनियम होता है.

आयरन और कॉपर (Iron and copper associated foods)

थाइरोइड के सही क्रियान्वयन में आयरन और कॉपर बहुत प्रभावी भूमिका निभाते हैं. काजू, सूरजमुखी बीज, घोंघे, केकड़े, दलिया और कोको से बने उत्पादों में कॉपर की भरपूर मात्रा होती है, इसके साथ हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे पालक आयरन का बेहतरीन स्रोत है. इसके अलावा रेड मीट, पोल्ट्री प्रोडक्ट में भी यह उचित मात्रा में पाया जाता है. टमाटर, आलू और बेरियों के माध्यम से भी आप विटामिन सी संयुक्त आयरन का सेवन कर सकते हैं.

थाइरोइड से बचने के उपाय में बेरिज़ (Berries –  Best foods for thyroid in Hindi)

हाइपर थायरोदडीज्म से बचने के लिए विभिन्न तरह कि बेरियाँ बहुत उपयोगी मानी गई हैं. ब्लूबेरी और स्ट्रोबेरी का प्रयोग इसके लिए बहुत आसानी से किया जा सकता है. ये एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण इम्यून सिस्टम को मजबूत रखते हैं.

कसावा और बाजरा (Cassava and millet for thyroid)

कसावा और बाजरा दोनों ही अनाज साइनोजेनिक ग्लूकोसाइड्स से बहर्पूर होते हैं. यह ग्रंथि में मौजूद आयोडीन को रोकते हैं. साथ ही इन दोनों हो अनाजों में इम्यून सिस्टम को बेहतर रखने की क्षमता होती है.

loading...