Hindi tips for leg pains – पैर दर्द और पैर में ऐंठन का प्राकृतिक घरेलू उपाय

पैरों में दर्द या खिंचाव सम्भवत: एक ऐसी स्वास्थ्य समस्या है जो विभिन्न कारणों से होती है। जो लोग इस समस्या से पीड़ित हैं उन्हें उपचार की सख्त आवश्यकता होती है। कुछ लोगों इसके उपचार के लिये दवाइयां लेना पड़ता हैं लेकिन इसके लिये नियमित दवाइयों का उपभोग अच्छा नहीं है। घरेलू उपचार पैरों और शरीर के विभिन्न अंगों के सभी प्रकार के दर्दों से दूर रहने का एक अच्छा तरीका है। घर पर कुछ साधारण उपाय आपको इन समस्याओं से दूर रखेगा।

लोगों को पैरों के कई तरह के दर्द का सामना करना पड़ता है और ये सारे एक दूसरे से काफी अलग होते हैं। पैरों में दर्द के कारण और लक्षण हर व्यक्ति में अलग अलग हो सकते हैं। कुछ दर्द ज़्यादा गंभीर नहीं होते और उन्हें अधिक देखभाल की आवश्यकता भी नहीं पड़ती। पर ऐसे भी कई दर्द होते हैं, जो काफी पीड़ादायक होते हैं और इनका दवाइयों से भी पूरी तरह इलाज संभव नहीं हो पाता। अगर आप पैरों की अकड़न और दर्द से पीड़ित हैं तो कुछ घरेलू नुस्खों का प्रयोग कर सकते है।

डर्मेटाइटिस और इसे ठीक करने के घरेलू उपचार

पैरों के दर्द और खिंचाव का प्राकृतिक घरेलू उपाय (Natural remedies for paining legs)

  • पैर दर्द का ईलाज, बर्फ या फ्रीज़िंग पैक को उस जगह पर लगायें जहाँ पर पैरों में दर्द है। बर्फ उस जगह को सुन्न करने के द्वारा आराम पहुंचाता है।
  • स्नान करते समय पैरों पर गुनगुने पानि को डालना वास्तविक्ता में आराम पहुंचायेगा।
  • बहुत सारा पानी पियें और पोषक फलों का उपभोग करें जिसमे कैल्शियम और पोटैशियम तत्व पाया जाता है।
  • पैर दर्द का ईलाज, पैरों के व्यायाम करने की भी सलाहा दी जाती है जो अपके शरीर में खून के परिसंचरण को बढ़ाकर आपके पैर के दर्द को आराम पहुंचायेगा।
  • हल्दी पाउडर, नीम्बू रस और नमक को मिलाकर एक चिकना लेप बनायें। इस लेप को प्रभावित क्षेत्र पर लगायें। यह आपको दर्द से तुरंत आराम देगा और पैरों के दर्द को खत्म भी करेगा।
  • ऊंची एड़ियों वाले जूतों / चप्पलों से बचिये इनसे गिरने की सम्भावना रहती हैं और इसी प्रकार पैरों को लपेट कर न बैठें।
  • अपने पैरों की नियमित मसाज करें, यह निश्चित रूप से आपके पैरों के दर्द को दूर करने में सहायता करेगा।
  • अपने पैरों को ठण्ड से बचायें और ऐसे कपड़े का चुनाव करें जो ठण्ड के दिनों में आपके पैरों का न खोले रहे।

पैर दर्द का उपचार के लिए गर्म और ठंडे को लगाना (Heat and cold application)

डकार से बचने के घरेलू उपचार

आप अपने पैरों के दर्द वाले हिस्से पर क्रम से गर्म और ठंडा पानी लगा सकते हैं जो तनावग्रस्त मांसपेशियों को आराम पंहुचयेगा। पैर दर्द का उपचार, आप इसे कई तरीके से कर सकते हैं जैसे कि तौलिये को गर्म पानी में डुबायें और तनावग्रस्त मांसपेशीपर लगा सकते हैं। आप अपनी तनावग्रस्त मांसपेशी पर गुनगुने पानी या भाप का स्नान लें सकते हैं। आप बर्फ लगाकर भी आराम पा सकते हैं।

पैर दर्द का कारण मांसपेशी को खींचना (Muscle stretching)

दिन प्रतिदिन की सामान्य शारीरिक प्रक्रिया के लिये जाने से पहले, मांसपेशियों को खींचना महत्वपूर्ण होगा। अगर आपको रात में सोते समय पैरों में खिंचाव होता है, तो यह अच्छा होगा कि आप मांसपेशियों के खींचने का अभ्यास करें। इससे आपको पैरों की मांसपेशियों में मरोड़ नहीं होगा।

पैर के दर्द का इलाज जलयोजित रहें (Hydration)

तरल पदार्थ के साथ पानी को नियमित अंतराल पर लेकर शरीर में नमी बनायें रखें। 8 ग्लास पानी पीने के साथ आपको रसदार फल या फलों के रस को भी लेना चाहिये। कई बार पानी की कमी के कारण आपको मांसपेशियों में मरोड़ या दर्द की शिकायत होती है। पैर के दर्द का इलाज, पर्याप्त मात्रा में तरल लेना आपके मांसपेशियों में कम मरोड़ पैदा करेगा और आराम देगा।

पैर दर्द उपाय केला से (Bananas pairon ka dard ke liye)

केला एक आश्चर्यजनक प्रकार का प्राकृतिक फल है जो पर्याप्त मात्रा में पोटैशियम को शामिल करता है। पैर दर्द उपाय, यह आपके शरीर के लिये अच्छा होगा। अगर आप नाश्ते या भोजन के बाद प्रतिदिन एक केला खाते हैं तो यह आपको मांसपेशियों को मरोड़ से दूर रखेगा।

पैर दर्द की दवा सोडीयम भरपूर टॉनिक जल (Sodium rich tonic water)

दाद क्या और कैसे होती हैं ?

आप घर पर ही सोडियम भरपूर पानी को सामान्य प्राकृतिक उत्पादों से बना सकते हैं। कुछ पीली सरसों को पीसें और इसका एक चम्मच एक ग्लास पानी में मिला दे और इसमें दो चम्मच शहद भी मिला दें। यह बहुत ही आश्चर्यजनक खनिज पूरक है जो आपके मांसपेशियों को दर्द से मुक्त रखेगा।

पैर दर्द के घरेलू उपाय के लिए हेमंत हरि का तेल (Winter green oil)

घर पर इस तेल को बनाने के लिये एक चम्मच हेमंत हरि तेल लें और 4 चम्मच वनस्पति तेल मिलायें। अब इसे अच्छे से मिलाकर अपने पूरे पैर पर लगा लें और उस जगह भी जहाँ पर मांसपेशियों में दर्द या मरोड़ है। पैर दर्द के घरेलू उपाय, हेमंत हरि तेल में मेथायल सैलीसायलेट नामक यौगिक होता है जो दर्द से छुटकारा दिलाने में लाभकारी है। दर्द कम हो जाता है और यह रक्त संचार को भी बढ़ाता है। इस मिश्रण को दिन में कई बार प्रयोग कर सकते हैं और लम्बे समय तक मांसपेशियों के मरोड़ से दूर रह सकते है।

पैरों में ऐंठन के लिए विद्युत से गर्म करने वाला पैड (Electric heating pad)

एक समय ऐसा था जब लोग गर्म पानी को पैड पर डालकर फिर इस्तेमाल करते थे और शरीर पर लगाकर सभी प्रकार के दर्द से दूर रहते थे। पैर में ऐंठन, लेकिन अब बाज़ार में विद्युत से चलने वाले गर्म करने वाले पैड है जो झंझटों से छुटकारा दिलाकर आपको गर्म पैड के द्वारा आराम दिलायेगा।

पैरों के दर्द औेर अकड़न को दूर करने के घरेलू नुस्खे (Natural home remedies for leg pains, leg cramps)

हल्दी का घरेलू नुस्खा (Turmeric home remedy)

जांघों के नीचे के रैशेस के कारण

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हल्दी में कई तरह के औषधीय गुण होते हैं जिनकी सहायता से कई बीमारियां ठीक हो जाती हैं। पैरों के दर्द और अकड़न को ठीक करने में भी यह काफी चमत्कारी रूप से काम करता है। क्योंकि हल्दी एंटीऑक्सीडेंट (antioxidant) से भरपूर होती है, अतः यह शरीर की सारी अशुद्धियों को निकालने की क्षमता रखती है। हल्दी के घरेलू उपचार से आपको इसके जलनरोधी गुणों का भी लाभ मिलता है।

एप्सम नमक का घरेलू उपचार (Epsom salt home remedy)

पैरों के दर्द को दूर करने का यह काफी आम परन्तु काफी प्रभावी तरीका है। अगर आपके पैर पर चलते चलते मोच भी आ गयी तो भी एप्सम नमक की विधि आपके काफी काम आएगी। एक पात्र में गर्म पानी लें और इसमें एप्सम नमक के कुछ चम्मच का मिश्रण करें। अब अपने पैरों को 10 मिनट तक इस पानी में डुबोकर रखें और आराम का अनुभव करें।

टार्ट चेरी का रस (Tart cherry juice)

कई लोग ऐसे होते हैं, जिन्हें सारा दिन कठोर शारीरिक परिश्रम करना पड़ता है। इससे उनके पैरों में सूजन आ जाती है और उनमें काफी दर्द भी उत्पन्न हो जाता है। डॉक्टर के पास जाने और दवाइयों तथा शल्य क्रिया का प्रयोग करने की बजाय घरेलू नुस्खों का प्रयोग करना ज़्यादा फायदेमंद रहता है। पहले से तैयार टार्ट चेरी का रस पैरों के दर्द और अकड़न का उपचार करने का काफी अच्छा तरीका है।

नीम्बू का घरेलू उपचार (Lemon home remedy)

क्योंकि नीम्बू में एंटीऑक्सीडेंट्स (antioxidants) होते हैं, अतः एक बार आपके शरीर में प्रवेश करने के बाद यह हर प्रकार के दर्द की दवा बन जाते हैं। चाहे आपके पैरों में दर्द हो रहा हो या फिर पूरे शरीर में, नीम्बू आपके शरीर के Ph के स्तर को नियंत्रित रखता है जिससे शरीर का दर्द और जलन दूर हो जाती है। इस विधि का पालन करने के लिए एक गिलास गर्म पानी लें और इसमें आधे नीम्बू का रस निचोड़कर डालें। इसका सेवन करें और असर खुद ब खुद देखें।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday