Home remedies in Hindi for mouth ulcers / oral ulcers – मुंह के छाले कम करने के लिए उत्तम घरेलू उपचार

मुंह के छाले (muh ke chhale) काफी दर्दनाक और खुले भाग में होते हैं तथा इनका रंग सफ़ेद होता है। इनके चारों तरफ लाल बॉर्डर (border) होता है और ये गाल के अंदर, जीभ के नीचे, मुंह की सतह पर और होंठों पर निकलता है। इनके पैदा होने के कई कारण हैं जैसे कब्ज़, हार्मोनल परिवर्तन (hormonal changes) आदि। मुंह के छाले गम्भीर नहीं होते और 7 से 10 दिन में ठीक हो जाते हैं। नीचे मुंह के छाले का कारण, मुंह के छालों के कुछ कारण बताये गए हैं।

  • गलती से गाल काट लेना
  • विटामिन बी कॉम्प्लेक्स (vitamin B complex) की कमी
  • आयरन (iron)
  • किसी ख़ास प्रकार के भोजन का सेवन
  • आनुवांशिक कारक
  • ज़्यादा बदहज़मी हो जाना
  • तनाव
  • विटामिन सी
  • पोषक पदार्थों की कमी।

मुंह के छालों से निपटने के घरेलू नुस्खे (Best natural home remedies for mouth ulcers and how to prevent them)

कैसे बुखार की दवाइयों के दौरान मुंह गले में कड़वे स्वाद से छुटकारा पायें?

मुंह के छाले से निपटने के लिए शहद (Honey best natural home remedy for mouth ulcers)

शहद एक प्राकृतिक एंटीसेप्टिक (antiseptic) का काम करता है और इसमें प्राकृतिक ह्युमेक्टैंट्स (humectants) भी होते हैं। यह आपको शरीर में पानी की कमी और घाव के दाग से बचाता है और त्वचा में नमी का संचार करने में भी काफी मदद करता है। यह नयी कोशिकाओं के तेज़ी से विकास में भी शरीर की सहायता करता है। शहद में एंटी माइक्रोबियल (anti-microbial) गुण होते हैं और इस गुण की वजह से मुंह के छाले (muh ke chale) काफी तेज़ी से ठीक होते हैं। थोड़ा सा ताज़ा शहद लें और इसकी थोड़ी सी मात्रा का प्रयोग अपने मुंह के छालों पर करें। वैकल्पिक तौर पर शहद के साथ हल्दी का मिश्रण करके एक गाढ़ा पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट का प्रयोग प्रभावित भाग पर करें और कुछ देर के लिए छोड़ दें। अगर आप इसे गलती से निगल भी लेते हैं तो भी यह नुकसान नहीं करेगा, क्योंकि ये हर्बल (herbal) उत्पाद होता है और स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा होता है।

बर्फ से मुंह के छाले के उपाय (Ways to treat mouth ulcers with Ice)

बर्फ मुंह के छालों के दर्द को सुन्न करने का काफी प्रभावी नुस्खा है। बर्फ का प्रयोग प्रभावित भागों पर करना काफी फायदेमंद साबित होता है। यह छालों से होने वाले जलन और दर्द के भाव को दूर करने में काफी प्रभावी साबित होता है। यह घर में आसानी से उपलब्ध भी होता है और रोज़ाना इसका कई बार इस्तेमाल किये जाने पर यह काफी अच्छे परिणाम भी प्रदान करता है।

दही से मुंह के छालों का इलाज (How to get rid of mouth ulcers by eating yogurt?)

दही खमीर उठा हुआ दूध होती है जो बैक्टीरिया (bacteria) के खमीर का उत्पादन करने की वजह से बनती है। ये बैक्टीरिया या खमीर जैविक एसिड (acid) की तरह कार्बोहाइड्रेट्स (carbohydrates) में परिणत हो जाते हैं। रोज़ाना दही का सेवन करने से मुंह के छाले भी ठीक हो जाते हैं और स्वास्थ्य अच्छा बना रहता है। यह एक सामान्य स्वास्थ्य उपचार है, जो आपके मुंह में बैक्टीरिया की मात्रा को नियंत्रित करता है। रोज़ाना दिन में 3 बार कम से कम 1 चम्मच दही का सेवन करें और मुंह के छालों से छुटकारा प्राप्त करें। अगर आप चाहें तो छालों को जल्दी ठीक करने के लिए इसमें शहद का मिश्रण भी कर सकते हैं।

मुंह के स्वास्थ्य के लिए दांतों को ब्रश करने के नुस्खे

गर्म नमक के पानी से मुंह के छाले का इलाज (How to prevent mouth ulcers by warm salt water?)

नमक का पानी घनत्व को नियंत्रित करने में आपकी काफी मदद करता है। पानी की मदद से छालों के दौरान हुई सूजन ठीक हो जाती है और इसमें मौजूद द्रव्य भी पूरी तरह से बाहर निकल जाते हैं। अगर आप नमक के पानी से नियमित गरारा करते रहें तो आपके मुंह के छाले पूरी तरह ठीक हो जाएंगे। यह गले की सूजन को भी ठीक करने में मदद करता है और गले के पिछले हिस्से में मौजूद म्यूकस मेम्ब्रेन (mucus membrane) की कोशिकाओं की सूजन को काफी कम कर देता है। गर्म पानी से वैसे भी आपको काफी आराम प्राप्त होता है। इसमें मौजूद नमक मुंह के भागों को साफ़ सुथरा रखता है। एक चौथाई कप गर्म नमक का पानी लें और इसकी मदद से रोज़ाना दिन में 3 बार कुल्ला करें। इससे मुंह के छाले ठीक होते हैं।

मुंह के छाले सभी क्षेत्रों के लोगों के लिए आम समस्याओं में से एक हैं। कुछ खाने या पीने पर मुंह में जलन और दर्द होता है। छाले होंठ और मसूड़ों के अंदर या गाल के अंदर बनते हैं। इसके इलाज के लिए सरल घरेलू उपचार उपलब्ध हैं।

  • नारियल के दूध से छालों का इलाज किया जाता है। नारियल से दूध निकालकर उससे कुल्ला करें । प्रभावी परिणाम पाने के लिए दिन में 3-4 बार यह उपाय करें।
  • सुबह उठाने पर कुछ तुलसी के पत्ते पानी के साथ खाएं। तुलसी जीवाणुरोधी और किटाणुरोधी है और मुंह के संक्रमण के खिलाफ कार्य करती है और इस प्रकार आपको स्वस्थ मुंह प्रदान करती है।
  • मुंह के छाले का उपचार, 1 बड़े चम्मच ग्लिसरीन में 1 चुटकी हल्दी की पाउडर मिलाएं। उसे छालों पर रखें। जलन से रहत मिलती है।
  • छाले कम करने के लिए ठंडे पानी और गरम पानी से बारी बारी कुल्ला करें।
  • धनिया के बीज का अर्क मुंह के छालों से राहत दिलाता है। इसे बनाने के लिए पानी उबाल लें और उसमे 1 चम्मच धनिया के बीज मिलाएं। पानी ठंडा होने पर उससे कुल्ला  करें।

स्वस्थ मुँह की देखभाल की सलह अच्छी मुस्कान के लिए

  • टमाटर एंटीऑक्सिडेंट और कैंसर विरोधी गुणों से समृद्ध है। वे मुंह के छालों का इलाज और बाद में संक्रमण को खत्म कर सकते हैं। दिन में कम से कम 2 बार टमाटर का रस पियें या उससे कुल्ला करें।
  • मुंह के छाले ठीक करने के उपाय, धनिया के पत्ते मसलें और उबलते पानी में मिलाएं। पानी ठंडा होने पर इससे दिन में 3-4 बार कुल्ला करें।
  • मेथी भी मुंह के छालों के इलाज के लिए कार्य करती है। मुंह के छाले की दवा, 1 कप मेथी की पत्तियां 2 कप पानी में उबालें। पानी छाचकर उससे कुल्ला करें।
  • एलोवेरा में सुजनरोधी और कीटाणुरोधी गुण है। एलोवेरा के पत्ते का जेल दिन में 2-3 बार खाएं।
  • कपूर में शक्कर मिलाकर गाढ़ी पेस्ट बनायें। प्रभावित त्वचा पर लगाकर थोड़ी देर रखें और फिर निकाल दें।
  • आमला की पेस्ट छालों पर लगायें। दिन में 2 बार यह प्रयोग करें।
  • 1 कप पानी में 2 बड़े चम्मच नमक मिलाएं। इस पानी से 1 मिनट कुल्ला करें। ठंडे पानी की जगह गरम पानी से भी यह इलाज किया जा सकता है।
  • कपास से टी ट्री ऑइल छालों के आसपास की त्वचा पर लगायें जिससे सुजन कम हो जाती है।
  • छालों का दर्द कम करने के लिए खाने का सोडा उस जगह पर लगायें।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday