Hindi tips to control grey / white hair – सफ़ेद बालों की रोकथाम के घरेलु नुस्खे

सफ़ेद बालों का दिखना मन को काफी निराश कर देता है। आपको सफ़ेद बालों से बचने की दिशा में काफी सतर्क और जागरूक रहना पड़ता है। समय और उम्र बढ़ने के साथ सबके बाल सफ़ेद होते हैं। बाल काला करने की दवा, सफेद बाल को काला करने की दवा लगाते हैं।

आप बालों की सफेदी (baal safed hona) को नियंत्रित कर सकते हैं और इसके लिए आप पास कई घरेलू उपाय उपलब्ध हैं। बालों का रंग सफ़ेद तब होता है जब पिग्मेंट यानि रंजक तत्व का उत्पादन काफी कम या नहीं के बराबर होता है। बाल सफेद होने से कैसे रोके, लेकिन आप कई नुस्खों की सहायता से सफ़ेद बालों की उत्पत्ति होने से रोक सकते हैं।

बालों की निश्चित वृद्धि, सिर की परत दर परत पोषण पर निर्भर करती है। जीवन के एक ख़ास समय पर बालों की कुछ जड़ें सुस्त पड़ने लगती है, वहीँ बाकी स्वाभाविक ढंग से बढ़ती रहती है। फर के अंत में, रोम आम तौर पर “मेलेनिन” नामक रंगद्रव्य से बनता है। यही द्रव्य बालों के रंग और रंगहीनता के लिए ज़िम्मेदार होता है। सफेद बाल होने के कारण, बालों के रंग में विभिन्नता सिर की त्वचा पर इसी उपरोक्त द्रव्य की पूर्ति ना हो पाने की वजह से होती है।

तथा जब सिर की त्वचा इस द्रव्य को बनाने में पूर्णतः असमर्थ हो जाती है तब हमारे बाल सफ़ेद होने लगते हैं। जब सिर पर सफ़ेद और काले बालों का मिश्रण होने लगता है तब बालों का रंग मट्मैला दिखने लगता है जिसे बालों की वृद्धावस्था समझा जाता है। भूरे बाल होना एक उम्र के बाद आम है पर चालीस वर्ष की आयु से पहले ही अगर आपके 50% से ज़्यादा बाल सफ़ेद हो गए हैं तब यह एक चिंता का विषय है।

भूरे मट्मैले बालों का होना कभी-कभी शारीरिक बीमारियों जैसे थाइरोइड, विटामिन बी 12 की कमी, हड्डियों में पोषक तत्वों की कमी, एनीमिया और स्ट्रेस जैसी तकलीफों के कारण होता है। भूरे मट्मैले और सफ़ेद बालों में प्राकृतिक रूप से कमी तथा उनका दुबारा बढ़ने से पूर्णतः छुट्कारा पाने के उपाय नीचे दिए निर्देशों का पालन करने से मुमकिन है।

सफेद बालों से छुटकारा के लिए आँवला (Indian gooseberry to remove white hair)

साफ्ट और स्मूद बाल कैसे पायें?

भारत में आम तौर पर भूरे और रंगहीन बालों का आसान तथा घरेलु उपाय आँवला को माना जाता है। आँवले को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट कर धुप में अच्छी तरह से सुखा लें। अच्छी तरह से सूख जाने के बाद इन टुकड़ों को मसल कर इनका पाउडर बना लें तथा इस पाउडर को नारियल के तेल में अच्छी तरह से मिला लें। इस तेल के रोज़ाना इस्तेमाल से भूरे, सफ़ेद या रंगहीन हुए बालों का इलाज मुमकिन है।

हिना और नारियल तेल (Henna & coconut oil to get rid of grey hair)

काफी मात्रा में सफ़ेद या भूरे बाल हो तो बालों में हेना लगाना बालों के रंग को समान बनाने के लिए कारगर होता है। नारियल के तेल को तब तक गर्म करें जब तक उसमे उबाल न आ जाये। अब तेल में चार से पांच हेना की पत्तियों को डाल कर तब तक छोड़ दें जब तक तेल का रंग भूरा ना हो जाये। अब इसे ठंडा कर लें तथा सिर की त्वचा पर अपनी उँगलियों से हल्के हाथों से मसाज कर लगाएं। चालीस से पैतालीस मिनटों तक रखने के बाद सिर पर शैम्पू लगा कर बालों को धो लें। इस प्रक्रिया को हफ्ते में तीन से चार बार दोहराने से बालों के रंग में समानता तथा उनका रंग काले करने में मदद मिलती है।

सफेद बाल रोकने के उपाय के लिए करी पत्ते (curry leaves for black hair)

करी पत्तों में बालों के काले रंग और उनको पोषण देने के अहम तत्व मौजूद होते है जो सिर की सफाई कर त्वचा को पोषण प्रदान कर बालों के रंग को समान बनाए रखने में सहायता करती है। करी पत्ते जहाँ खाने के व्यंजनों का स्वाद बढ़ाते हैं वहीँ यह सिर की समस्याओं से निजात दिलाने में भी कारगर है। सफेद बाल रोकने के उपाय, सिर पर इस्तेमाल करने के लिए पहले नारियल के तेल में कुछ करी पत्ते उबाल लें। अब इस तेल के रोज़ाना इस्तेमाल से सिर की समस्याओं से छुट्कारा मिल सकता है।

गर्मियों में दोमुंहे बालों (स्प्लिट एंड्स) को रोकने के उपाय

सफेद बालो का उपचार के लिए नारियल तेल (Coconut oil to work on white / grey hair)

नारियल के तेल का रोज़ाना इस्तेमाल करना सिर की और बालों की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। भूरे और रंगहीन बालों के इलाज में यह काफी असरकारी होता है। रोज़ रात में सोने से पहले नारियल के तेल को सिर पर अच्छी तरह से मसाज कर सोएं। सुबह बालों को धो लें। बालों के रंग की समता और सिर की त्वचा की सफाई सबसे बढ़िया, आसान तथा असरदार तरीका होता है नारियल के तेल में आवला के पाउडर को मिला लें। सफेद बालो का उपचार, उबलते नारियल के तेल में आवला का पाउडर मिलाएं जब तेल का रंग हल्का भूरा होने लगे तब तेल को आंच से उतार कर ठंडा कर लें। इस तेल को रोज़ाना रात में सोने से पहले सिर पर हलके हाथ से मसाज कर लगाएं। सुबह बालों को धो लें।

अमरनाथ के पत्ते (Amaranthus leaves to get black hair back)

अमरनाथ के पत्ते भी सफ़ेद और रंगहीन बालों के इलाज में काफी असरदार होते हैं। अमरनाथ के पत्तों को अच्छी तरह धो कर साफ़ कर लें। फिर इन्हे मिक्सी में पीस कर पेस्ट की तरह बना लें। पूरे बालों में इस पेस्ट को अच्छी तरह से लगा कर पूरे सिर को कवर कर लें। कुछ देर रख कर धो लें। यह बालों की खोई चमक और उनके रंग में समानता लाता है। पत्तों को पानी में उबाल कर इस पानी से सिर धोने से सिर की त्वचा में गुणकारी बदलाव देखा गया है।

शहद और अदरक (Ginger and honey)

बालों की सफेदी को रोकने के लिए आप अदरक की विधि अपना सकते हैं। इसके लिए किसे हुए अदरक इकठ्ठा करें। अब इस अदरक को एक चम्मच शहद के साथ मिलाएं। बालों को समय से पहले सफ़ेद होने से बचाने के लिए इस मिश्रण का सेवन करें। यह सफ़ेद बालों के लिए एक जादुई इलाज है, अतः समय रहते इस विधि को अपनाने से आपके बाल अच्छी स्थिति में रहेंगे।

नारियल के तेल की थेरेपी (Coconut oil therapy)

लंबे बालों के लिए असरदार नुस्खे

नारियल के तेल को नींबू के रस के साथ मिलाकर लगाने पर बालों का सफ़ेद होना रुक जाता है। असल में नारियल के तेल को त्वचा के लिए सबसे अच्छा माना जाता है। त्वचा से जुडी हुई कई समस्याओं के समाधान के लिए यह बेहतरीन उपाय है। यही तेल बालों की सफेदी को भी रोकता है। इस तेल को सही तरीके से लगाने पर बाल काफी अच्छी स्थिति में रहेंगे। नारियल का तेल लें और इसे नींबू के रस के साथ अच्छे से मिलाएं। अब इस मिश्रण को लें और इसे अपने सिर पर लगाएं। इससे आपके निश्चित रूप से चमकदार होंगे और आपको सफ़ेद बालों से मुक्ति मिलेगी।

घी का प्रयोग (Ghee can lessen the greyness of the hair)

घी के प्रयोग से भी सफ़ेद बालों से मुक्ति मिल सकती है। आजकल शुद्ध घी मिलना काफी मुश्किल है। एक बार इसे जमा करके हफ्ते में दो बार इसे बालों में लगाने से फायदा मिलता है। सफ़ेद बालों की समस्या से छुटकारा दिलाने के लिए यह एक बेहतरीन उत्पाद है। कुछ हफ़्तों के बाद आपको निश्चित ही बालों की गुणवत्ता में अंतर दिखेगा और आप इस विधि को जारी रखेंगे।

धारीदार तोरई का तेल (Ribbed gourd oil for grey hair)

इस विधि के अंतर्गत सही मात्रा में धारीदार तोरई लें और इसे नारियल के तेल में उबालें। इसे तब तक उबालें जब तक कि तोरई काली ना हो जाए। उबालने की यह प्रक्रिया 3 से 4 घंटों तक जारी रखें। अगर आप इस तेल से बालों की मसाज करते हैं तो आप समय से पहले बालों के सफ़ेद होने की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। यह सफ़ेद बालों (white hair ka ilaj) के लिए एक और प्रभावी नुस्खा है और इस विधि का पालन अच्छे से करें।

काली चाय का प्रयोग (Black tea se safed balon ka ilaj)

सफ़ेद बालों की समस्या का एक और समाधान है। इसके लिए एक कप काली चाय लें। चाय काफी कड़ी बनाएं जिससे कि प्रभाव ज़्यादा हो। अब इस चाय में 1 चम्मच नमक डालें। इस चाय से अपने सिर की मसाज करें। एक घंटे के बाद अपने बालों को धो दें। यह एक बेहतरीन तरीका है जिसकी मदद से आप बालों की सफेदी से छुटकारा पा सकते हैं। कुछ दिनों में ही आप बालों की गुणवत्ता में फर्क देखेंगे।

सफ़ेद बालों के लिए प्याज (Cure grey hair with onion )

अण्डों से स्वस्थ बाल पाने के नुस्खे

प्याज सफ़ेद बालों के लिए एक बेहतरीन दवा है। बाज़ार से छोटे आकार के प्याज खरीदें और उन्हें अच्छे से तोड़कर अपने सिर पर लगाएं। प्याज का रस बालों की सफेदी को रोकने में काफी प्रभावी है। इसके प्रयोग से बालों के झड़ने से भी मुक्ति मिलती है। इससे आप बालों एक प्राकृतिक रंग भी बरकरार रख सकते हैं और गंजेपन से भी बच सकते हैं। इसके प्रयोग से बालों की गुणवत्ता में भी सुधार आता है तथा आपको काले और चमकदार बाल मिलते हैं।

काली मिर्च, दही और नींबू का रस (Controlling grey hair with black pepper, curd and lemon juice)

बालों की सफेदी की समस्या को काली मिर्च से भी दूर किया जा सकता है। इसके लिए एक ग्राम काली मिर्च और आधा कप दही लें। सिर पर मसाज करने के लिए यह काफी बेहतरीन मिश्रण है। आप इस मिश्रण में नींबू का रस भी मिला सकते हैं। एक बार इस जूस के मिश्रित हो जाने के बाद यह एक चमत्कारी उत्पाद बन जाता है और आपके बालों के प्राकृतिक रंग को बनाए रखने में सहायता मिलती है।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday