How to soothe nausea and morning sickness – Treat nausea with home remedies – मतली एवं मॉर्निंग सिकनेस को दूर करने के घरेलू नुस्खे

मॉर्निंग सिकनेस गर्भावस्था के दौरान आने वाली मतली है।  ऐसी स्थिति में महिलाएं गंभीर उल्टी, सिरदर्द, खानपान में कमी, मूत्र निकासी में परेशानी एवं पैरों में सूजन जैसी अनेक समस्याओं से प्रभावित होती हैं। कुछ महिलाओं के लिए यह केवल दिन में नहीं बल्कि सारा दिन चलता रहता है। हर महिला में ये लक्षण अलग अलग होते हैं।  मॉर्निंग सिकनेस आमतौर पर पहली तिमाही में सबसे गंभीर होता है, जहां एक बार ऐसा होने से ही गर्भवती महिलाओं को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

नीचे ऐसे कुछ घरेलू नुस्खे दिए गए हैं जो महिलाओं में मॉर्निंग सिकनेस की समस्या का समाधान करते हैं:

नींबू (Lemon)

हैंगओवर उतारने के घरेलु उपाय

हल्के गुनगुने पानी में एक नींबू निचोड़ें एवं इसका सुबह सुबह सेवन करें।  इस नियम का पालन रोज़ाना कुछ उल्टी से छुटकारा पाने एवं मरीज़ को राहत प्रदान करे के।   मरीज़ अच्छे परिणामों के लिए हर दिन या सारा दिन आधा नींबू चूस भी सकता है।

जिंजर एल (Ginger ale)

मॉर्निंग सिकनेस का इलाज करने के लिए अदरक को सबसे श्रेष्ठ पदार्थ कहा जाता है। मरीज़ अदरक चूसकर या कच्चा खाकर राहत प्राप्त कर सकते हैं।  एक गिलास गुनगुने पानी में अदरक का रस मिलाएं एवं तुरंत आराम के लिए मरीज़ को दें।  जिंजर एल एवं अदरक की चाय भी मॉर्निंग सिकनेस का इलाज करने का बेहतरीन तरीका है।

अदरक का सेवन खीरे, मूली, गाजर, टमाटर एवं पालक युक्त सलाद के साथ भी किया जा सकता है।  अदरक को छोटे टुकड़ों में काटें।  इन्हें सलाद पर छिड़कें एवं इसपर नींबू का रस डालकर सलाद का सेवन करें।

बर्फ का पानी (Ice water)

अगर मौसम अनुकूल हो तो मरीज़ को एक गिलास ठन्डे पानी का सेवन करवाएं।  इससे उनकी उल्टी रूकेगी एवं जलन से भी छुटकारा मिलेगा।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,199 other subscribers

संतरे का रस एवं नींबू का रस (Orange juice & sweet lime juice)

संतरे के रस या संतरों का सारा दिन सेवन करने से भी मॉर्निंग सिकनेस से छुटकारा मिलता है।  मीठे नींबू का रस भी मरीज़ों के लिए काफी फायदेमंद होता है।

नारियल पानी (Coconut water)

नारियल पानी हल्का, इलेक्ट्रोलाइट्स (electrolytes) से भरपूर एवं ठंडा होता है। यह मॉर्निंग सिकनेस से ग्रस्त महिलाओं को राहत प्रदान करने के लिए दिया जाना चाहिए। नारियल पानी शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स की मात्रा, जो मरीज़ काफी मात्रा में खोता है, जिसके फलस्वरूप उसे काफी कमज़ोरी महसूस होती है,  पुनः निर्मित करता है।

आइस पैक्स (Ice packs)

मरीज़ के पेट पर आइस पैक रखकर उल्टी रोकें।

संभाली हुई गुलाब की पंखुड़ियां (Preserved rose petals)

संभाली गयी गुलाब की पंखुड़ियों में चीनी बराबर मात्रा में मिलाएं एवं इसका सेवन सारा दिन करें। यह मिश्रण मरीज़ को निरंतर हो रही उल्टी से निजात दिलाता है।

अनार (Pomegranate)

इलायची के स्वास्थ्य लाभ

अनार के बीजों एवं रस का सेवन सारा दिन करें।  अनार का रस ऐसे मरीज़ों के लिए काफी लाभदायक होता है।  अनार विटामिन ए (vitamin A) एवं इलेक्ट्रोलाइट्स से भरपूर होता है।

किशमिश (Raisins)

ऐसे मरीज़ों के लिए किशमिश काफी अच्छा होता है।  आप सारी रात किशमिश भिगोकर रखकर अच्छे परिणामों के लिए पानी के साथ इसका सेवन करें।

आंवला (Amla)

जो महिलायों मॉर्निंग सिकनेस की शिकायत करती हैं, उन्हें बेहतर परिणामों के लिए आंवले के रस का सेवन करना चाहिए।  संरक्षित आंवले का सेवन ऐसे मरीज़ों के लिए काफी फायदेमंद है।

अजवायन (Ajwain)

अजवायन का सेवन सेंधा नमक के साथ भोजन से 15 पहले एवं बाद सारा दिन करें। यह पेट को राहत पहुंचाता है एवं मॉर्निंग सिकनेस से आराम प्रदान करता है।

खजूर (Dates)

अच्छे परिणामों के लिए दिन में दो बार दूध के साथ 5 से 10 खजूरों का सेवन करें।

अंजीर (Figs)

थोड़े से अंजीरों को दूध में उबालें।  मरीज़ को उबले अंजीरों को चबाकर बाद में गुनगुना दूध पीना चाहिए।  इससे महिलाओं के शरीर में आयरन (iron) का संचार होता है एवं शरीर को शक्ति मिलती है।

loading...