Hindi home remedies for skin rashes – त्वचा के चकत्ते (स्किन रैशेस) ठीक करने के घरेलू उपचार

चर्म रोग में त्वचा पर रैशेस (skin pe rashes) या चकत्ते होना कोई असामान्य घटना नहीं है। ये रैशेस कई तरह के होते हैं। कुछ तो किसी वस्तु से एलर्जी की वजह से होते हैं तो कुछ वाईरल या फंगल इन्फेक्शन की वजह से होते हैं। आमतौर पर रैश त्वचा का सामान्य रंग और टोन बदल देते हैं और इनके लक्षण होते हैं त्वचा लाल होना, खुजली होना या सूजन। ये पूरी तरह ठीक होने में काफी हफ्ते या महीने भी ले सकते हैं। फिर भी आप कुछ नुस्खों का इस्तेमाल कर सकते हैं:-

त्वचा रोग व उपचार (Skin rashes remedies and treatment)

त्वचा पर चकत्ते – सेब का सिरका (Apple Cider Vinegar)

सेब का सिरका काफी असरदार एंटीसेप्टिक होता है और इसमें एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल तत्व भी होते हैं। आप इसके प्रयोग से खुजली दूर कर सकते हैं जो आमतौर पर सूखी त्वचा की वजह से होती है। आप सनबर्न के हालात में भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। एक साफ़ कपडे में सिरके की कुछ बूँदें मिलाएं और रैश वाले भागों पर लगाएं। स्किन केयर की दिशा में सेब का सिरका एक नया उत्पाद है और आप इसे घर बैठे ऑनलाइन भी मंगवा सकते हैं।

पुदीने की पत्तियां (Peppermint Leaves se skin treatment in hindi)

खुजली या इसी प्रकार की अन्य समस्याओं के लिए ये काफी कारगर इलाज है। यह आपको एक ठंडा और सुकून से भरा एहसास देता है। अच्छे परिणामों के लिए पुदीने के कुछ पत्तों को मसलकर रैशेस पर लगाएं अतिरिक्त ठंडा एहसास पाने के लिए उपयोग में लाने से पहले पत्तियों को फ्रिज में रखें। इससे रैशेस वाले भाग सुन्न हो जाएंगे और आपको जलन और सूजन से राहत मिलेगी।

डिटर्जेंट से होने वाली एलर्जी से प्राकर्तिक रूप से कैसे बचें

तुलसी की पत्तियाँ (Basil Leaves)

ताज़ी तुलसी की पत्तियों में जलन कम करने वाले कई तत्त्व जैसे थाइमोल और कपूर होते हैं। अच्छे परिणामों के लिए तुलसी की कुछ पत्तियां तोड़कर उन्हें मसलें और रैश वाली जगह पर लगाएं। इससे खुजली से तुरंत आराम मिलेगा।

त्वचा पर चकत्ते – एलोवेरा (Aloe Vera se skin treatment in hindi)

त्वचा की जलन और खुजली में एलोवेरा चमत्कारी रूप से असर पहुंचाता है। यह सूजन रोकने और जलन मिटाने का रामबाण इलाज है। भारत का मौसम भी एलोवेरा के पौधों के लिए काफी फायदेमंद है। एक बड़े पौधे से एक मोटा पत्ता तोड़ें और उससे जेल निकालकर त्वचा पर लगाएं। आप इस जेल को एक बोतल में बंद करके फ्रिज में रखकर 1 हफ्ता चला सकते हैं।

फलों के छिलके (Fruit Peels)

त्वचा की एलर्जी, आप केले या तरबूज़ के छिलकों को रैशेस पर लगा सकते हैं। इससे तुरंत आराम मिलेगा।

दलिया (Oatmeal)

त्वचा की एलर्जी, दलिए या जौ के आटे में एवं अंतरामैडस की काफी मात्रा होती है जो जलन को कम करने में काफी सहायक होती है। आप अपने नहाने के पानी में एक कप दलिया मिला सकते हैं। अगर आप इसका लेप बनाना चाहते हैं तो 1 कप सादे दलिये में थोड़ा पानी मिलाएं और इस मिश्रण के पेस्ट बनने की प्रतीक्षा करें। इस पेस्ट को खुजली वाले स्थानों पर लगाएं।

त्वचा रोग का इलाज – कुछ अन्य उपाय (Miscellaneous)

शरीर से आने वाली दुर्गंध को कैसे दूर करें?

  1. रैशेस को कैमोमाइल टी से धोएं। टी बैग्स का प्रयोग करें।
  2. रैशेस वाले भाग में एक्सट्रा वर्जिन ओलिव आयल लगाएं।
  3. तुलसी के पत्तों के सीधे प्रयोग के अलावा आप पत्तों को पीस भी सकते हैं। फिर इसमें एक चम्मच ओलिव आयल, थोड़ा नमक, थोड़ी काली मिर्च और दो लहसुन के टुकड़े डालें। ज़्यादा जलन के समय इस मिश्रण का प्रयोग करें।
  4. बादाम के पत्तों को मैश करके लगाएं।
  5. कई बार लिवर खराब होने से भी रैशेस होते हैं, अतः अपने लिवर का ध्यान रखें।
  6. शहद में एंटी बैक्टीरियल तत्व होते हैं और आप जलन होने पर आयुर्वेदिक शहद का सेवन कर सकते हैं।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday