Hindi tips to get rid of underarm darkness, lightning armpits – अंडरआर्म से कालापन निकलकर उन्हें गोरा बनाने के उपाय

अंडरआर्म के कालेपन को कम करने के प्राकृतिक तरीके (Natural ways to lighten underarms)

क्या आप बिना आस्तीन के कपडे पहनते हैं और अगर पहनते भी हैं, तो आप उनमे कितना सहज महसुस करते हैं? आप ऐसी छोटी सी बात को लेकर चिंतित हो रही होगी। अपने दोस्तों को किसी भी तरह के कपडे बिना किसी हिचकिचाहट के पहना देख आप दुखी होती हैं। आपको उनके प्रति द्वेषभाव और जलन उत्पन्न होती है। ब्यूटी पार्लर जाकर इसका इलाज करने में भी आप शर्म महसुस करती होगी और इसके उपाय का खर्चा भी ज्यादा होता है। इतना पैसा खर्च करके भी समस्या का समाधान हो ये कोई भी सुनिश्चित रूप से नहीं कह सकता।

इस समस्या के समाधान के बारे में सोचने से पहले हमें इस काँख में हो रहे कालापन पैदा करने वाले कारण सोचने होंगे। इसके विभिन्न कारण हैं जैसे।

काँखों का रंग हल्का बनाने की प्राकृतिक उपाय (Home remedies to lighten dark underarms / armpits)

नींबू का रस (Lemon juice se kali bagal ko saaf karna)

स्नान से पहले नींबू के स्लाइस से अपनी काँखों को घिसें। इसके बाद मॉइस्चराइजर लगाने से त्वचा नरम होगी। डिओडोरेंट थोड़े दिन इस्तेमाल न करें। नींबू एक प्राकृतिक ब्लीचिंग एजेंट है और धीरे-धीरे काँख का रंग हल्का करता है।

घर में बनायें बॉडी लोशन, शरीर की देखभाल के लिए घरेलू बॉडी लोशन

दूध और केसर (Milk and saffron se underarms gora aur saaf karna)

दो चम्मच दूध या क्रीम में केसर की एक चुटकी ले और सोने से पहले काँख में लगा दें। पूरी रात के लिए छोड़ दें, और अगली सुबह इसे धो डाले। इस उपाय से काँख का रंग हल्का होता है और यह बदबु पैदा करनेवाले कीटाणुओं और जीवाणुओं को भी मारता है।

अंडरआर्म्स का कालापन के लिए खीरा और आलू (Cucumber and potato)

आलू या ककड़ी के स्लाइस लें और काँख में रगड़ दें। या उनका रस बनाकर भी काँख में लगा सकते हैं। 15 मिनट रखकर धो डालें। जल्द ही आपको काँख की त्वचा का रंग हल्का दिखने लगेगा। आलू और ककड़ी प्राकृतिक ब्लीचिंग एजेंट हैं।

गुलाब जल और चंदन (Rose water and sandalwood)

गुलाब जल के साथ चंदन का पेस्ट बनायें। काँख में लगाकर कुछ देर रखने के बाद इसे धो डालें। गुलाब जल त्वचा ठंडी करेगा और चंदन त्वचा हलके रंग की कर देगा। रोज इस्तेमाल करने से इसका असर दिखेगा।

वैक्सिंग / एलेक्ट्रोल्यसिस (Underarm waxing / Electrolysis)

वैक्सिंग करके देखें। वैक्सिंग करने में थोडा दर्द होगा पर ये बालों को जड़ से निकल देगा और आपकी काँख गोरी दिखने लगेगी। वैक्सिंग से डेड सेल्स निकलने में मदद होती है। यदि आप एक स्थायी विकल्प चाहते हैं तो इलेक्ट्रोलिसिस कर सकते हैं। कुछ समय में ही काँख के काले धब्बे हलके हो जायेंगे।

अंडरआर्म्स का कालापन के लिए नींबू, ककड़ी और हल्दी (Lime, cucumber and turmeric)

नींबू का रस 1 चम्मच, ककड़ी का रस 1 चम्मच और हल्दी पाउडर की एक चुटकी लें। ये सब मिलकर एक पेस्ट बना लें। काँख में लगाकर 20 मिनट के बाद धो डालें। यह उपाय सप्ताह में 4 बार करना आवश्यक है। कांख के कालेपन के लिए एक बहुत ही कारगर उपाय है।

डिओडोरेंट का इस्तेमाल पूरी तरह से बंद करें। उसके बजाय फिटकरी पाउडर का उपयोग करें।

लैवेंडर तेल के लाभ – शरीर की देखभाल और त्वचा की देखभाल के लिए उपयोग

अंडर आर्म के कालेपन से छुटकारा (Ways to get rid of dark armpits)

नींबू (Lemon)

नींबू एक प्राकृतिक ब्लीच का काम करता है और एक शक्तिशाली एंटी बैक्टीरियल और एंटी सेप्टिक माध्यम है। हल्दी पाउडर, शहद या दही को नींबू के रस के साथ मिलायें और इसे अपनी काँखों पर लगाएं। इसे 10 मिनट तक छोड़ दें और फिर अच्छे से धो दें।

अंडर आर्म के कालेपन से छुटकारा के लिए बेकिंग सोडा (Baking soda for dark armpits)

काँखों के नीचे का कालापन मुख्य रूप से मृत कोशिकाएं जमा होने की वजह से होता है। इसको एक्सफोलिएट करने के लिए बेकिंग सोडा और पानी का पेस्ट बनाएं। इससे त्वचा के रोमछिद्र भी खुलते हैं।

संतरे का छिलका (Orange peel se kankh ko gora karna)

संतरे के छिलके में त्वचा को गोरा करने तथा एक्सफोलिएशन के गुण होते हैं, अतः काँखों के नीचे का कालापन इससे काफी आसानी से निकाला जा सकता है। संतरे के छिलकों को सुखाकर उनका पाउडर बनाएं तथा इसे गुलाबजल तथा दूध के साथ मिलाकर काँखों के नीचे स्क्रब करें। इसके बाद इसे ठन्डे पानी से धो लें।

अंडर आर्म के कालेपन से छुटकारा के लिए सिरका (Vinegar)

सिरके से भी काली हो रही काँखों से छुटकारा मिलता है। यह ना सिर्फ आपकी त्वचा का रंग निखारता है, बल्कि उन जीवाणुओं तथा बैक्टीरिया को भी मारता है, जो बदबू फैलाने वाली मृत कोशिकाओं पर निर्भर होती हैं। चावल के आटे तथा सिरके का एक गाढ़ा पेस्ट बनाएं और इसे अपनी काँखों के नीचे लगाएं। इसे 15 मिनट तक छोड़ दें तथा इसके बाद गर्म पानी से धो दें।

गर्मियों में शरीर की देखभाल के नुस्खे

अंडर आर्म के कालेपन से छुटकारा के लिए बेसन (Gram flour)

बेसन भी काँखों के नीचे की त्वचा का कालापन दूर करने में काफी अहम है। बेसन, दही और नींबू के रस का मिश्रण करके एक पेस्ट बनाएं। त्वचा को गोरा करने वाले इस घरेलू पैक को काँखों के नीचे लगाएं। इसे आधे घंटे तक छोड़ दें और फिर पानी से धो लें।

अन्य घरेलू नुस्खे (Other home remedies to whiten the skin underarms)

प्राकृतिक स्क्रब्स (Exfoliate underarms with natural scrubs)

1. नींबू तथा दानेदार चीनी से काँखों को गीली उँगलियों से 15 मिनट तक स्क्रब करें। ये स्क्रब तब ज़्यादा फायदेमंद होते हैं, जब कांखें शेविंग की वजह से काली होती हैं।

2. अखरोट और मूंगफली को पीसकर इनका पाउडर बनाएं। इस पाउडर में थोड़ा सा नींबू का रस तथा शहद मिलाएं और एक पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को काँखों पर लगाएं। इसे 10 मिनट तक छोड़ दें तथा इसके बाद धो दें।

अंडरआर्म्स का कालापन के लिए तेल का प्रयोग (Oily way to get white underarms)

ऐसे कई तेल हैं जिनकी मदद से काँखों का रंग उजला होता है।

अंडर आर्म के कालेपन से छुटकारा के लिए जैतून का तेल (Olive oil)

ब्राउन शुगर के साथ ये बगल को एक्सफोलिएट करने का काफी अहम माध्यम है। ओलिव आयल में काफी मात्रा ऑक्सीडेंट्स तथा अन्य तत्व होते हैं जो त्वचा के लिए काफी अच्छे होते हैं।

नारियल का तेल (Coconut oil se kankh ko gora karna)

शरीर की देखभाल के लिए घरेलू नमक के स्क्रब्स

इसमें मौजूद विटामिन इ त्वचा का रंग निखारता है। नहाने से पहले अपनी काँखों के नीचे थोड़ा सा नारियल का तेल लगाएं और फिर एक सौम्य साबुन तथा गुनगुने पानी की मदद से धो दें।

विटामिन इ का तेल (Vitamin E oil se underarms ka kalapan kaise dur kare)

इस तेल से ना सिर्फ बगल गोरी होती हैं, बल्कि त्वचा भी नरम और मुलायम होती है। रोज़ाना कुछ मिनटों तक इस तेल को लगाएं और फिर धो दें। वैकल्पिक तौर पर आप विटामिन इ के कैप्सूल्स को पीसकर इन्हें अपनी काँखों पर लगा सकते हैं।

कई तेलों का मिश्रण (A mixture of multiple oils)

जैतून के तेल, जोजोबा के तेल, वीट जर्म तेल या अन्य कोई सिट्रस तेल और अन्य कोई तेल मिलाकर अगर काँखों पर लगाया जाए तो इससे कालापन भी दूर होता है तथा कांखें उजली होती हैं। तेलों में मौजूद विटामिन और फैटी एसिड त्वचा को नमी देते हैं और सिट्रस का तेल त्वचा को ब्लीच करके उसे गोरा बनाता है।

अंडरआर्म्स को बनाएं व्हाइट (Home remedies to get light under arm skin)

अंडर आर्म के कालेपन से छुटकारा के लिए खीरा (Cucumber se underarm ko gora banaye)

आधा खीरा लें, इसे छीलें तथा इसे किसकर इसका गाढ़ा पेस्ट बना लें। अब इसे अपने दोनों बगल पर लगाएं। अगर आप वहां खीरे का गूदा नहीं लगाना चाहते हैं तो खीरे का रस लगा लें। अगर आप और अच्छा उपचार चाहते हैं तो प्रभावित भाग पर नींबू के रस की कुछ बूँदें तथा हल्दी के जड़ को किसकर निकाला गया रस लगाएं। इस पेस्ट को लगाने के बाद 1 घंटे तक प्रतीक्षा करें। अब इसे धो दें और 1 महीने के बाद फर्क देखें।

अंडे का तेल (Egg oil for dark armpits)

आप अंडे के तेल के बारे में पहली बार सुन रहे होंगे। इसे आसानी से अंडे से प्राप्त किया जा सकता है, या फिर आप किसी दुकान से भी इसे प्राप्त कर सकते हैं। अपने हाथ में इस तेल की कुछ बूँदें लें और अपनी काँखों पर लगाएं। अच्छे से मालिश करें तथा सारी रात रहने दें। क्योंकि अंडे के तेल में ओमेगा 3 के अंश होते हैं, अतः यह काफी प्रभावी ढंग से मृत कोशिकाओं को निकालकर नयी त्वचा को जन्म देता है। इस तेल से अच्छे से मालिश कर लेने से आपकी त्वचा काफी उजली और मुलायम हो जाएगी। सुबह उठने के बाद इसे ph नियंत्रित साबुन से धो लें।

शरीर से आने वाली दुर्गंध को कैसे दूर करें?

अंडरआर्म्स का कालापन के लिए डिओडोरेंट (No deodorants)

डिओडोरेंट में रासायनिक पदार्थ होते हैं जो इस गहरे रंग की कांख के लिए कारण हो सकते है। यह रसायन त्वचा का रंग बदलकर उसे हमेशा के लिए काला कर सकते हैं। इनसे छुटकारा पाने के लिए शरीर की बदबु को हटाने के लिए प्राकृतिक उपचार करें।

अंडर आर्म के कालेपन से छुटकारा के लिए हजामत या शेविंग (Armpit shaving)

काँख से बाल निकलने के लिए रेजर का प्रयोग न करें। रेजर सिर्फ उपरी सतह के बाल निकालता है जिसके परिणामस्वरूप काँख साफ़ नहीं दिखती और कालापन दिखने लगता है। ऍन फ्रेंच या वीट जैसे क्रीम इस्तेमाल करके बालों को न निकालें क्योंकि इनमे भी रासायनिक पदार्थ होते हैं जो त्वचा को भी हानि पहुंचाते हैं। त्वचा में एलर्जी या कालापन बढ़ने में ये क्रीम कारणीभूत हुए हैं। इसलिए बालों को जड़ से हटाने के लिए वैक्सिंग का प्रयोग करें।

घर्षण या फ्रिक्शन (Friction)

बाह के नीचे संचित चरबी कपड़ों से घिसकर काँख को काला बनती हैं। बढ़ा हुआ वजन कम करने पर काम शुरू करना चाहिए। तंग कपडे रोज न पहने। इसके बजाय थोड़े ढीले और सुती कपडे पहनना शुरू करें।

अंडरआर्म्स का कालापन के लिए आनुवंशिक (Hereditary)

कई बार वंशानुगत कारण भी हो सकता है। गर्भनिरोधक गोलियां या हॉर्मोन वाली गोलियां इस्तेमाल करने से काँख की त्वचा का रंग बदल सकता है। इन मामलों में चिकित्सक की सलाह लेना उपयुक्त है।

मृत कोशिकाएं या डेड सेल्स (Dead cells)

मृत कोशिकाओं का संचय आपके काँखों को काला कर सकता है। इन सेल्स को निकलने के लिए आप स्क्रब इस्तेमाल कर सकते हैं। लैक्टिक एसिड या एक लूफा के साथ स्क्रब करके इन सेल्स को हलके हाथों से निकालें।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday