Best diet for blood pressure/ hypertension – Foods that reduces BP – हाइ ब्लड प्रेशर को कैसे कंट्रोल करें, उच्च रक्तचाप को कम करने के घरेलू उपाय

दिल के दौरे या हृदयाघात जैसी भयानक बिमारियों के लिए हाइ ब्लड प्रेशर बहुत हद तक जिम्मेदार होता है। इसके अलावा किडनी से जुड़े कई रोगों में भी उच्च रक्तचाप या हाइ ब्लड प्रेशर बिमारी का कारण बनता है। ब्लड प्रेशर को नियंत्रण में रखने और उससे बचाव के लिए इन फूड्स के प्रयोग द्वारा आप ब्लड प्रेशर के खतरे को कम कर सकते हैं साथ ही इनसे काफी हद तक दूर भी रह सकते हैं।

ब्लड प्रेशर का घरेलू इलाज है लाल मिर्च (High blood pressure treatment Chilli pepper)

खास तौर पर लाल मिर्च में मौजूद बेहद गुणकारी तत्व रक्तचाप को कम करने में सहायक साबित होते हैं यह बात सही है लेकिन लाल मिर्च की एक निश्चित मात्रा लेना ज़रूरी है। चिकित्सकों के अनुसार एक चम्मच लाल मिर्च पाउडर को एक गिलास पानी में घोलकर पीना ब्लड प्रेशर का घरेलू इलाज (Blood Pressure ka gharelu ilaj) है। इसके साथ ही यह नुस्खा हृदय संबंधी अन्य खतरों से भी दूर रखता है। इस नुस्खे को इस्तेमाल के पहले अपने चिकित्सक से उचित सलाह अवश्य लें।

हिबिस्कस टी से करें बीपी का प्राकृतिक उपचार  (Hibiscus tea: hypertension natural treatment)

ब्लड प्रेशर कम करने का तरीका हमारे आस पास ही मौजूद होता है। हिबिस्कस या जसवंत की चाय ब्लड प्रेशर कम करने का एक सरल उपाय है। जसवंत के ताजे या सूखे फूलों को पानी में उबाल लें और इसका सेवन करें। ब्लड प्रेशर को कम करने में यह तरीका बहुत सहायक होता है। अगर आपके पास जसवंत के फूल उपलब्ध नहीं हैं तो आप इसे आसानी से ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं।

हिबिस्कस टी बनाने का तरीका (Preparation) :

हिबिस्कस की सूखी हुई मुट्ठी भर पंखुड़ियों को पानी के साथ उबालें और इसे छानकर ठंडा कर लें। इसे आप तुरंत या फ्रिज में कुछ दिनों के लिए सुरक्षित कर के भी रख सकते हैं।

किशमिश से घर पर कैसे करें हाइ ब्लड प्रेशर का इलाज (hypertension prevention and Hindi tips for high blood pressure)

एक शोध के मुताबिक किशमिश का नियमित प्रयोग हाइ ब्लड प्रेशर को दूर रखता है। रोजाना किशमिश के तीन दानों का सेवन हाइ ब्लड प्रेशर को कम करता है और भविष्य में होने वाले हाइपरटेंशन के खतरे को भी दूर रखता है।

कीवी से हाइ ब्लड प्रेशर का घरेलू इलाज (How to control high Blood pressure with Kiwi)

यह भी एक शोध का ही परिणाम है जिसमें कहा गया है कि, कीवी एक ऐसा फल है जो हाइ ब्लड प्रेशर को दूर रखने में मददगार है। अगर आपको हाइ बीपी की शिकायत है तो रोजाना तीन कीवी नियमित रूप से खाएं और इसे तब तक अपनाएं जब तक आपका बीपी कंट्रोल में न आ जाये।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,328 other subscribers

पोटेशियमयुक्त आहार से करें बीपी का घर पर इलाज (High blood pressure ka gharelu ilaaj -Potassium rich foods can lower BP)

तरबूज जैसे फल हाइ ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए सहायक माने जाते हैं इसका मुख्य कारण इसमें पोटेशियम का उपस्थित होना है। साथ ही इनमें मौजूद एमिनो एसिड भी बीपी को कंट्रोल में रखता है। तरबूज के अलावा केले में भी ये दोनों ही तत्व पाये जाते हैं। घर में हाइ ब्लड प्रेशर का उपचार (करने का आसान तरीका यही है कि अपने नियमित आहार के साथ ही साथ इन पोटेशियम व एमिनो एसिड युक्त चीजों का भी सेवन किया जाए।

डार्क चॉकलेट से बीपी कम कैसे करें (With dark chocolate, how to reduce high blood pressure naturally at home)

ब्लड प्रेशर के खतरे को कम करने का यह एक बहुत प्रभावी उपाय है। इसके लिए डार्क चॉकलेट लें जिसमें दूध या क्रीम न हो साथ ही चीनी की मात्रा भी अति अल्प होनी चाहिए। रिसर्च में यह पाया गया है कि कोको में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो रक्त के थक्कों को गला देते हैं और रक्त चाप को कम करते हैं।

मलाईरहित दूध के सेवन से करें उच्च रख चाप का इलाज (Skim milk – high blood pressure home remedies)

मलाईरहित दूध में विटामिन डी और कैल्शियम की भरपूर मात्रा मौजूद होती है। यह 3 से 10 प्रतिशत तक ब्लड प्रेशर कम करने में प्रभावी होता है। यह 15 प्रतिशत तक दिल की बिमारियों को दूर रखने में भी सहायता करता है।

पालक के प्रयोग से बीपी का घरेलू इलाज हिन्दी में (Spinach to reduce BP)

पत्तेदार सब्जी होने के साथ साथ यह फोलेट, मैंगनीशियम और पोटेशियम जैसे गुणकारी तत्वों से युक्त होता है। ये सभी ऐसे तत्व हैं जो ब्लड प्रेशर को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। पालक कम कैलोरीयुक्त होने के साथ ही साथ फाइबर से भी भरपूर होता है। इसे आप अपने नियमित आहार में सलाद व चपाती या रोटी आदि के साथ प्रयोग में ला सकते हैं।

नमकरहित सूरजमुखी के दानों से उच्च रक्त चाप का घरेलू उपचार (Unsalted sunflower seeds)

मैग्निशियम की भरपूर मात्रा के लिए मुट्ठी भर सूरजमुखी के दानों का सेवन किया जा सकता है जो उच्च रक्त चाप के स्तर को कम करता है। पर ध्यान में रहे कि ये दानें नमकरहित हों क्योंकि नमक सोडियम की मात्रा को बढ़ा देता है। इसीलिए सादे बीजों का ही प्रयोग करना बेहतर होता है।

उच्च रक्त चाप को कम करने का उपाय है लोबिया (White beans to reduce High Blood pressure)

हमारे शरीर के लिए दैनिक रूप से ज़रूरी 30 प्रतिशत कैल्शियम और प्रतिशत पोटेशियम कि मात्रा एक कप लोबिया या सफ़ेद बीन्स के दानों में मौजूद होती है।

नोट :

यह एक बहुत ही आसान विधि से प्रयोग में लाया जा सकने वाला आहार है जो शाकाहारी लोगों के लिए प्रोटीन का एक बड़ा स्रोत है। इसे आप सलाद या किसी तरल डिश के रूप में सेवन कर सकते हैं। हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि नमक रहित और डिब्बाबंद या संरक्षित किए हुये बीन के दानों का इस्तेमाल न करें। बीन्स के सूखे हुये दानों को पानी में भिगोकर और प्रेशर कूकर में उबाल कर प्रयोग में लाएँ।

करम साग के प्रयोग से बीपी का उपचार (use kale for hypertension treatment in Hindi)

करम साग पत्तों का गुच्छा होता है जो काफी हद तक पत्तागोभी की तरह दिखाई देता है। लेकिन इसकी एक कप पत्तियों में 9 प्रतिशत पोटेशियम, 9 प्रतिशत कैल्शियम और 6 प्रतिशत मैग्निशियम मौजूद होता है। इसे कच्चे या पकाकर दोनों ही रूपों में खाया जा सकता है।

नोट :

इसमें कैलोरी की मात्रा बहुत ही कम होने के साथ साथ यह एंटी ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो हमारे शरीर की कोशिकाओं की सुरक्षा का कार्य करता है। इसकी कोमल पत्तियों को सलाद के रूप में आसानी से खाया जा सकता है।

 

 

 

loading...