Best oils that helps to cure dry cracked lips at home – फटे होंठों को ठीक करने के लिए बेहतरीन तेल

फटे होंठों के कारण (Causes of dry and chapped lips)

फटे होंठों के मुख्य कारण हैं शरीर में पानी की कमी, होंठों का ध्यान ना रखना, किसी ख़ास भोजन या दवाई से एलर्जी और अतिरिक्त गर्म या ठन्डे तापमान के संपर्क में आना।

फटे होंठों के मुख्य लक्षण हैं होंठों में दरार, सूजन, सूखापन, खून आना और त्वचा की परत का निकलना।

सूखे होंठों के लिए प्राकृतिक तेल (Naturally obtained oils used for the dry and cracked lips)

अब आप घर पर ही कई प्रकार के तेल पा सकते हैं जो आसानी से आपके फटे होंठों का इलाज कर सकते हैं। जैतून का तेल ऐसा ही एक तेल है जो महिलाओं द्वारा अपने खानपान को स्वास्थ्यकर तथा कोलेस्ट्रोल से मुक्त रखने के लिए प्रयोग में लाया जाता है। अब इस तेल का प्रयोग आप फटे होंठों के इलाज के लिए भी कर सकते हैं। यह होंठों का रूखापन दूर करने का काफी बेहतरीन मॉइस्चराइज़र है और इससे आपके होंठ काफी सुन्दर दिखते हैं।

होंठों के बचाव में जैतून के तेल की भूमिका (Benefits of olive oil in protecting lips)

जैतून का तेल आपके होंठों की देखभाल में एक अहम भूमिका निभाता है। इसका प्रयोग करने से आपके होंठ रूखे सूखे नहीं रहेंगे। जैतून का तेल आपके होंठों को नुकसान पहुंचाए बिना उनकी देखभाल करता है। सोने से पहले थोड़ा सा जैतून का तेल होंठों पर लगाकर सोएं। इससे सुबह उठकर आपको खूबसूरत होंठ मिलेंगे।

स्त्रियों के होंठों की देखभाल के लिए सबसे अच्छे उपाय

होंठों के स्क्रब के लिए तेल (Oil for lip scrub)

अगर आपके होंठों में मृत कोशिकाओं की संख्या ज़्यादा है तो सबसे अच्छा तरीका है प्राकृतिक स्क्रब लगाना। इसके लिए आपको जैतून के तेल की आवश्यकता होगी। चीनी और जैतून के तेल को मिलाकर एक गाढ़ा मिश्रण बनाएं। इस स्क्रब का थोड़ा सा भाग लें तथा इसे होंठों पर लगाकर धीरे धीरे रगड़ें जिससे मृत कोशिकाएं बाहर निकलें। इससे आपके होंठ काफी मुलायम हो जाएंगे।

पिंक लिप्स के लिए नारियल का तेल (Coconut oil fate honth ke liye)

सदियों से लोग बालों और त्वचा की देखभाल के लिए नारियल के तेल का प्रयोग करते आ रहे हैं। अब ये आपके होंठों के लिए प्राकृतिक मॉइस्चराइज़र भी बन सकता है। अगर आपके होंठों में दरार पड़ने की वजह से खून निकल रहा है तो यह होंठों के अत्यंत सूखेपन की वजह से है। होंठों को चाटने की जगह वहां नारियल का तेल लगाएं। यह लगाने में काफी आसान है। सिर्फ एक बूँद नारियल का तेल लें और इसे होंठों पर लगाएं।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,327 other subscribers

होठों की सुंदरता अरंडी का तेल से (Castor oil hai honton ki khubsurti ke liye)

फटे होठ, अरंडी का तेल घर पर या बाज़ार में आसानी से उपलब्ध हो जाता है। 1 चम्मच अरंडी का तेल, ताज़े नींबू के रस की कुछ बूँदें और 1 चम्मच ग्लिसरीन लें। इन्हें अच्छे से मिलाएं और होंठों पर लगाएं। 10 मिनट रखने के बाद गुनगुने पानी से धो लें।

होंठों की खूबसूरती – फटे होंठों के लिए तेल (Oils to treat cracked lips)

  • कुछ आवश्यक तेलों का प्रयोग करके आप फटे और दर्द भरे होंठों का इलाज कर सकते हैं। आधे कप एलोवेरा तेल में 1 बूँद कैमोमाइल तेल, 1 बूँद एनरोल तेल तथा गुलाब के तेल और जेरनियम के तेल की 2 बूँदें मिलाएं। इस मिश्रण द्वारा आप सूखे और फटे होंठों का इलाज कर सकते हैं।

महिलाओं के लिए होंठों की देखभाल के नुस्खे

  • जोजोबा का तेल एक बेहतरीन पोषक तेल है जो फटे होंठों से मुक्ति दिलाने में सक्षम है। यह त्वचा की कोशिकाओं को पोषण प्रदान करता है और होंठों की खोयी नमी वापस लाता है। होंठों पर जोजोबा के तेल की कुछ बूँदें लगाएं और इसे 15 मिनट तक होंठों पर रहने दें।
  • होठों का फटना, तिल का तेल विटामिन सी से युक्त होता है और त्वचा को विभिन्न समस्याओं से बचाने में महती भूमिका निभाता है। यह फटे होंठों को ठीक करने का भी कारगर इलाज है।
  • बादाम का तेल प्रोटीन, मिनरल तथा स्वास्थ्यकर वसा से भरा होता है जो होंठों की नमी वापस लाते हैं और उन्हें रूखा होने से बचाते हैं। ये तेल होंठों को सूरज की रौशनी से होने वाले नुकसान से बचाता है और उन्हें स्वस्थ और मुलायम रखता है। बादाम के तेल की कुछ बूँदें होंठों पर दिन में 4 से 5 बार लगाएं।
  • गुलाब के फल के बीज का तेल एक आवश्यक तेल है जो इलास्टिन और कोलेजन उत्पन्न करने में मदद करता है जिससे कि समय से पहले उम्रदराज होने की समस्या से छुटकारा मिलता है। गुलाब के फल के बीज के तेल की दो बूँदें 1 चम्मच नारियल तेल या जैतून के तेल या अन्य किसी तेल के साथ मिलाएं और होंठों पर दिन में 4 बार लगाएं। इस तेल से होंठ सूखते नहीं हैं और होंठों पर नयी त्वचा आने में मदद मिलती है। सूरज की रौशनी से होंठों को पहुंचे नुकसान को भी इस तेल द्वारा ठीक किया जा सकता है।
  • सरसों का तेल या नाभि पर घी आयुर्वेदिक उपायों के अंतर्गत फटे होंठों पर सरसों का तेल लगाने से फटे होंठों से राहत मिलती है तथा नाभि पर घी लगाने से अजन्मे बच्चे को पोषण भी मिलता है। सरसों का तेल ओमेगा अल्फा 3 और 6 फैटी एसिड्स, एंटी ऑक्सीडेंट्स तथा विटामिन इ से भरपूर होता है। इन सब उत्पादों की वजह से सरसों का तेल सूखे होंठों के लिए काफी अच्छा होता है। सोने से पहले या नहाने के बाद नाभि पर थोड़ा सरसों का तेल लगाएं। इससे सरसों के तेल के गुण नाभि की ओर से आपके शरीर में प्रवेश करेंगे और आपके होंठ नरम हो जाएंगे।
  • लिप्स टिप्स, घरेलू लोशन फ्रैंकिंसेन्स तेल तथा लैवेंडर के तेल की 15 बूंदों को 1 चम्मच नारियल तेल के साथ मिलाएं और एक रोलर बोतल में रखें। इस मिश्रण को फटे होंठों पर लगाएं।
loading...