A spark surge for breast cancer with Angelina Jolie’s Surgery – एंजेलिना जोली की सर्जरी के बाद स्तन कैंसर के प्रति बढ़ी जागरूकता

एंजेलिना जोली,जो कि हॉलीवुड की मशहूर अदाकाराओं में से एक हैं, के दोहरे स्तन उच्छेदन के बाद ब्रिटेन की महिलाओं में इस बारे में जागरूकता फ़ैल गयी है और उनमें अपने स्तन के कैंसर की जांच करवाने की होड़ सी लग गयी है। ऐसा एक शोध के मुताबिक़ पाया गया है।

39 साल की एंजेलिना जोली ने मई के महीने में अपने स्तन की सर्जरी करवाई थी और वे मानव अधिकार अभियान का चेहरा बनकर काफी चर्चा का भी केंद्र बनी थी। उन्होंने अपने शरीर में brca 1 जीन के बढ़ने की भी जांच करवाई थी जो कि स्तन कैंसर का ख़तरा बढ़ाता है।

वे अपनी सर्जरी का समाचार जनता तक और हर घर के हर कोने में पहुंचाना चाहती थी। स्तन कैंसर के प्रति जागरूकता ही उन लोगों की सोच में बदलाव ला सकती है जो इस बीमारी से पीड़ित हैं। इस मध्यम रूप से खतरनाक बीमारी का पता चलना काफी आवश्यक है।

यह शोध 21 क्लीनिक और कई प्रादेशिक केन्द्रों में करवाया गया था। इसमें यह पाया गया कि जून के महीने में सिर्फ 4847 जाँचें की गयी थी। महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर, यह तुलना पिछले साल के जुलाई के आंकड़ों से की गयी थी।

नाम एंजेलिना इफ़ेक्ट दिया गया जो कि एक जाने माने शोध पात्र में छपा जिसका नाम है ब्रैस्ट कैंसर रिसर्च। इसका सारा श्रेय एंजेलिना जोली और अभिनेता ब्रैड पिट को जाता है जिन्होंने इस अभियान में बराबरी से हिस्सा लिया और उनका एकमात्र मकसद हर महिला के दिमाग से इस शल्य क्रिया का डर निकालना था।

यह उदाहरण एंजेलिना जोली ने स्वयं प्रस्तुत किया इसी वजह से इस अभियान का वज़न भी बढ़ गया क्योंकि एंजेलिना की छवि न केवल एक खूबसूरत बल्कि एक सशक्त महिला की भी है।

ई. एफ. टी. क्या है?

एंजेलिना महिलाओं के मन से स्तन कैंसर का डर निकालने में काफी सफल भी रही। जिन लोगों को जान का या किसी लैंगिक असमानता का डर था उनका भी डर कम हुआ। जो लोग जीन्स की जांच की प्रक्रिया के अंतर्गत किसी स्वास्थ्य केंद्र से नहीं भी जुड़े हैं उन्हें भी काफी फायदा मिला है।

विश्व स्वास्थ्य संस्था द्वारा किये गए एक शोध में यह कहा गया है कि विश्व भर में महिलाएं जिस प्रकार के कैंसर का ज़्यादा शिकार होती हैं वह स्तन का कैंसर ही है। भारत में ब्रेस्ट कैंसर, एक आंकड़े के अनुसार 2012 में करीब 521000 से भी ज़्यादा महिलाएं स्तन कैंसर की चपेट में आकर मृत्यु को प्राप्त हुई।

एंजेलिना जोली इन अपने कार्य के लिए ऑस्कर पुरस्कार भी जीता है तथा समाज के लिए किये अपने कार्यों द्वारा सारे विश्व का ध्यान अपनी ओर खींचा है। अंगेलिए जोली द्वारा किये गए कार्यों से उन्हें भी फायदा पहुंचा है जो शारीरिक शोषण की शिकार हैं। उन्हें 2001 में हाई कमिश्नर एंटोनियो गुरेट्स द्वारा unhcr का गुडविल एम्बेसडर भी नियुक्त किया गया है।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday