Time frame after the period: When can you get pregnant – पीरियड्स के बाद गर्भधारण का समय

जब लोग अपने बच्चे को दुनिया में लाने की योजना बनाते रहते हैं, तो महिलाएं यह चाहती हैं कि उनके पीरियड्स किसी तरह छूट जाएं। जिस महिला का कोई पीरियड छूट जाता है, उसके गर्भवती होने की काफी ज़्यादा संभावना होने लगती है। लोगों में एक सामान्य सवाल यह रहता है कि पीरियड्स होने के बाद एक महिला गर्भवती कैसे रह सकती है।

आपने अपनी बायोलॉजी की कक्षा में इससे सम्बंधित कुछ तथ्य पढ़े होंगे। आपके फर्टाइल दिन और पीरियड्स की समय सीमा आपकी गर्भावस्था और आपके पीरियड्स के बीच सम्बन्ध बनाने में काफी मदद करती है।

पिरियोडिक साइकिल की लम्बाई (Length of periodic cycle se  jaldi pregnant hone ke tips in hindi)

आपके स्त्रीरोग विशेषज्ञ के पास आपके गर्भावस्था और मासिक धर्म चक्र (menstrual cycle) के बीच सम्बन्ध से जुड़े सवाल का जवाब होता है। महिलाओं में मेंस्ट्रुअल साइकिल की लम्बाई अलग अलग हो सकती है। आप कब तक गर्भवती बन सकती हैं, यह आपके मेंस्ट्रुअल साइकिल पर निर्भर करता है। आमतौर पर मेंस्ट्रुअल साइकिल उस दिन से शुरू हुआ माना जाता है, जिस दिन आपके पिरियोडिक साइकिल का पहला दिन होता है। अगर आप अपने पीरियड्स के बंद होने के दिन से दिनों को गिनती हैं, तो इससे आपकी गणना में गलती हो सकती है। मासिक धर्म के साइकिल जीन्स, खानपान की आदतों तथा महिलाओं की शारीरिक बनावट को ध्यान में रखते हुए 28 से 32 दिन तक चलते हैं। अमेरिकन प्रेगनेंसी एसोसिएशन के अनुसार महिलाओं के पीरियड्स काफी कम दिनों तक चल सकते हैं। एक महिला के लिए यह काफी आवश्यक है कि वह खुद के मासिक धर्म साइकिल पर नज़र रखे और हर महीने की तारीख को नोट करती रहे।

गर्भावस्था के दौरान अच्छी डाइट और बचाव उपाय

गर्भ धारण करने का उचित समय – ओवुलेशन (Ovulation se pregnant hone ke upay hindi me)

एक महिला गर्भवती है या नहीं इसका पता लगाने का एक अच्छा उपाय ओवुलेशन की प्रक्रिया भी हो सकती है। जैसी ही आपका अंडाशय (ovary) विकसित अण्डों का उत्पादन करती है, वैसे ही ओवुलेशन होता है। ये अंडे आपकी फैलोपियन ट्यूब से होकर जाते हैं और फर्टिलाइज़ होने में 12 से 24 घंटे का समय लेते हैं। अगर इस समयसीमा के अंदर शुक्राणु (sperm) ज़ाइगोट अंडे को फर्टिलाइज़ कर देता है, तो ये अंडे वापस उसी रास्ते से आ जाते हैं जिसे हम फैलोपियन ट्यूब कहते हैं। इससे फैलोपियन ट्यूब के अंदर अंडे विसर्जित (implant) हो जाते हैं। अगर इस समयसीमा में अंडे फर्टिलाइज़ नहीं होते हैं तो आपका शरीर अवश्य ही आपके गर्भाशय की लाइनिंग से बिना फर्टिलाइज़ हुए अण्डों को निकालने लगते हैं।

प्रेगनेंट होने की सही उम्र फर्टिलाइजेशन के लिए समय सीमा (Days for fertilization se periods ke kitne din baad pregnant)

अगर एक महिला अपने ओवुलेशन की प्रक्रिया के दौरान ही कुछ ख़ास दिनों में सेक्स की क्रिया में सम्मिलित होती हैं तो उसके जल्दी ही गर्भवती होने की काफी ज़्यादा संभावनाएं होने लगती हैं। आपको अपने ओवुलेशन की समयसीमा को ध्यान में रखते हुए ही वैज्ञानिक रूप से अपने बच्चे को इस दुनिया में लाने की योजनाएं बनानी चाहिए। आप इसके अलावा भी महीने के बाकी दिनों में सेक्स की क्रिया अवश्य कर सकती हैं, पर इससे आपको फर्टिलाइजेशन की समस्या से गुज़ारना पड़ेगा। ज़्यादातर महिलाएं इस समयसीमा के 11 से 21 दिन के बीच ओवुलेशन की प्रक्रिया को पूरा करती हैं। इससे आपको अगले पिरियोडिक साइकिल के लिए उपलब्ध होने से पहले 12 से 16 दिन का अतिरिक्त समय भी आसानी से मिल जाता है। अगर आप निश्चित तौर पर माँ बनना ही चाहती हैं तो आपको ओवुलेशन की इस प्रक्रिया के दौरान सेक्स अवश्य कर लेना चाहिए।

गर्मियों में गर्भावस्था से जुड़े बचाव के उपाय

गर्भधारण का सही समय ओवुलेशन और मासिक धर्म का समय (Ovulation and menstrual period se grabvati hone ka sahi samay)

गर्भधारण की सही उम्र, आप अपनी पिरियोडिक साइकिल की लम्बाई को भी काफी हद तक नज़रअंदाज़ कर सकती हैं। ओवुलेशन एक बेहतरीन पद्दति है जिसकी मदद से आप उस समय का पता लगा सकती हैं, जब आपके पीरियड्स शुरू होने वाले होते हैं। ऐसे कई कारक हैं जो एक महिला के मासिक धर्म चक्र (menstrual cycle) के सामान्य रूप से चलने में काफी परेशानी उत्पन्न करते हैं। इनमें से कुछ कारक हैं तनाव, किसी प्रकार की कोई बीमारी, स्वास्थ्य के लिए हानिकारक भोजन का सेवन आदि।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday