How to increase memory power, Sharp memory tips – मेमोरी तेज कैसे करें, याददाश्त बढ़ाने के घरेलू उपाय

प्रत्येक माता पिता चाहते हैं कि उनका बच्चा दिमागी रूप से तेज हो और उसकी याददाश्त भी बेहतर हो ताकि वह चीजों को अच्छी तरह याद कर सके। यह बात केवल बच्चों के लिए परीक्षा या पढ़ाई के दौरान ही महत्व नहीं रखती बल्कि अच्छी याददाश्त की सभी को हर उम्र में ज़रूरत पड़ती है। याद न रख पाने की वजह से हमें कई बार लोगों के सामने शर्मिंदा होना पड़ता है और कई लोगों को तो ‘भुलक्कड़’ जैसा सम्बोधन भी मिल जाता है।

अक्सर लोग याददाश्त अच्छी न होने की वजह से खास दिन या तारीख आदि भूल जाते हैं। ये सब तो बड़ों की बात है लेकिन अगर बच्चों में यह परेशानी हो तो उनके लिए अपने रोज के काम और पढ़ाई आदि बहुत मुश्किल हो जाते हैं। बच्चों को अच्छे नंबर से पास होने में मेमोरी या याददाश्त की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

मेमोरी तेज कैसे करें, याददाश्त बढ़ाने के घरेलू उपाय:-

बादाम (Badam)

याददाश्त बढ़ाने के उपाय, रोज़ाना तीन बादाम खाने से याददाश्त पर बहुत प्रभाव पड़ता है। मेमोरी बढ़ाने के लिए बादाम का प्रयोग सुबह से समय करना सबसे श्रेष्ठ माना गया है। रात को तीन बादाम पानी में भिगो कर रखें। सुबह उठकर बिना मुंह धोये इस बादाम को चबाकर खाएं। इससे याददाश्त तेज होती है।

दूध (Milk)

तेज दिमाग के लिए उपाय, दूध सेहत के लिए एक बहुत ही गुणकारी चीज़ है। अगर आप नियमित रूप से दूध का सेवन करते हैं तो यह आपको सभी प्रकार के लाभ देती है। दूध का सेवन खास तौर पर बच्चों के लिए बहुत फायदेमंद समझा जाता है। बच्चों को रोज़ एक गिलास दूध पीना अनिवार्य है। ऐसे बच्चे जिनका पढ़ने में मन नहीं लगता और जो जल्दी ही भूल जाने की शिकायत करते हैं ऐसे बच्चों को तो रोज दूध पीना ही चाहिए। बच्चों को दूध में चीनी की जगह मिश्री या शहद घोल कर देने से यह और भी अधिक फायदेमंद हो जाती है। अलावा दूध में भरपूर मात्रा में प्रोटीन और कैल्शियम भी होता है जो बच्चों के सम्पूर्ण विकास में सहायक होता है।

बच्चों के लिये बेहतरीन आंखों की देखभाल की सलाह

आंवला (Amla)

याददाश्त बढ़ाने के उपाय, आंवला एक अमृततुल्य फल है जो कई शारीरिक और मानसिक विकारों को ठीक करने में मदद करता है। अगर आप सोच रहें हैं की मेमोरी कैसे बढ़ाएँ (memory kaise badhaye) ऐसे बच्चे जो जल्दी ही पढ़कर चीजों को भूल जाते हैं या याद नहीं रख पाते उनके लिए आँवला किसी वरदान से कम नहीं होता। आंवला एक मौसमी फल है इसे आप फल या रस के द्वारा भी सेबन कर सकते हैं। अगर आपको लंबे समय तक इसका प्रयोग करना है तो आंवले का मुरब्बा या कैंडी बनाकर इस्तेमाल किया जा सकता है।

अखरोट (Akhrot)

अखरोट बहुत ही फायदेमंद ड्राई फ्रूट है जो देखने में मानव मस्तिष्क की तरह ही दिखाई देता है। हमारे दिमाग के लिए अखरोट बहुत ही गुणकारी है, सर्दियों में इसका शरीर पर बहुत ही खास प्रभाव पड़ता है इसीलिए बच्चों को रोज 2 से 3 गिरियाँ अखरोट की देनी चाहिए, अगर आप अधिक लाभ चाहते हैं तो अखरोट की गिरियों के साथ उतनी ही मात्रा में किशमिश भी दें।

तुलसी (Tulsi)

याददाश्त बढ़ाने के उपाय, तुलसी को ऐसे ही पूज्यनीय पौधा नहीं कहा जाता, यह वास्तव में बहुत लाभकारी और गुणों से भरपूर होता है। तुलसी के पत्ते को सुबह खाली पेट चबा कर खाने से दिमाग तेज होता है। रो सुबह उठकर ताज़े तुलसी के पाँच पत्ते चबा कर खाएं यह कई तरह से रोगों से भी शरीर की रक्षा करता है।

मछली (Fish)

बेहतरीन सन टैनिंग तेल का इस्तेमाल कर अपनी त्वचा की करें देखभाल

तेज दिमाग के लिए उपाय, मछली अनेक तरह के प्रोटीन विटामिन और ओमेगा 3 से भरपूर आहार है। अगर आप मांसाहारी हैं तो मछली आपके दिमाग को तेज करने के लिए काफी फायदेमंद हो सकती है। मछली में ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है जो अच्छे कोलेस्ट्रॉल के रूप में जाना जाता है शरीर की भी कई प्रकार से मदद करता है। खास तौर पर यह दिमाग को तेज करने में प्रभावी भूमिका निभाता है।

उपरोक्त चीजों को अपने नियमित जीवन में शामिल कर आप अपनी याददाश्त को तेज कर सकते हैं। खाने के अलावा और भी कई उपाय है जो मेमोरी को तेज करने के घरेलू नुस्खे (memory tez karne ke gharelu nuskhe) के रूप में जानी जाती है, इस उपायों को दैनिक जीवन में अपना कर आप भी अपने और अपने बच्चे की याददाश्त को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं।

सैर पर जाएँ (Sair se)

सुबह की सैर दिमाग तेज करने के लिए बहुत लाभदायक होती है। सुबह की ताज़ी हवा से हमारा दिमाग शांत रहता है और इसका प्रभाव दिन भर के कामों में सकारात्मक रूप से पड़ता है। यह दिमागी सक्रियता को बनाए रखने में भी आपकी मदद करता है।

ध्यान करें (Meditation)

ध्यान दिमाग तेज करने के लिए एक बहुत ही कारगर और अचूक तरीका है। सुबह के वक़्त जहां ज़्यादा शोर गुल नहीं होता ऐसी जगह का चुनाव ध्यान या मेडिटेशन के लिए करना अच्छा होता है। आँखें बंद कर किसी आसान पर बैठ जाएँ। अब लंबी गहरी साँसे लेते हुए मन को शांत करें और किसी प्रकार की कोई बात के बारे में न सोचें और न ही किसी प्रकार का विचार करें। शांतचित्त से ध्यान में जितनी देर हो सके बैठें।

ऐसे बढ़ाएँ स्मरणशक्ति (Yaddasht kaise badhaye)

वर्षा-ऋतु में शिशुओं और बच्चों के स्वास्थ्य की देखभाल हेतु नुस्खे

दिमाग तेज करने के लिए एक सफ़ेद कागज लें और उसमें एक बिन्दु बनाएँ। इस बिन्दु की ओर लगातार एकटक देखते रहें और एकाग्र होने की कोशिश करें। यह क्रिया आपके दिमाग को तेज करने में मदद करती है और आपकी एकाग्रता को भी बढ़ाती है, एकाग्रता बढ्ने से स्मरणशक्ति भी मजबूत होती है।

दिमागी एक्सरसाइज़ (Brain game)

दिमाग को आप जितना ज़्यादा काम देंगे आपका दिमाग उतना ही तेज चलेगा। आपने यह तो सुना ही होगा कि, अगर किसी मशीन का बंद रख दिया जाए तो यह काम करना बंद कर देती है। हमारा दिमाग भी इसी तरह है। अगर हम इसका इस्तेमाल नहीं करेंगे तो यह काम करना बंद कर देगा और अगर हम इसे सक्रिय रखेंगे तो यह और भी अच्छी तरह काम करता रहेगा। दिमागी कसरत वाले कामों में अपने दिमाग को उलझाए रखें। इसके लिए पज़ल, गेम या पहेली आदि का प्रयोग किया जा सकता है। अपने दिमाग को मेहनत करने का मौका दें।

प्राणायाम (Yoga / Pranayam)

दिमाग तेज करने के लिए योग और प्राणायाम स्मरणशक्ति को तेज करने का सबसे प्रभावी और प्राकृतिक उपाय है। प्राणायाम के द्वार आसाध्य रोगों को जड़ से खत्म किया जा सकता है। मेमोरी के क्षेत्र में भी यह विशेष फलदायी है। मेमोरी बढ़ाने के लिए अनुलोम विलोम का नियमित अभ्यास करें।

सुबह जल्दी उठें (Wake up early morning)

तेज दिमाग के लिए उपाय है सुबह जल्दी उठना हर किसी के लिए अच्छा होता है। अगर आप विद्यार्थी हैं तो यह आपके लिए विशेष रूप से लाभदायक हो सकता है। सुबह उठकर पैदल चलें या सैर पर जाएँ। सुबह जल्दी उठने से मन में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है जिससे आपके दिमाग को तेजी से काम करने और चीजों को याद रखने की क्षमता भी बढ़ती है।