Best tips in hindi for long & strong hair growth – लम्बे और मज़बूत बाल पाने के श्रेष्ठ नुस्खे

आमतौर पर हमारे बाल महीने में आधे इंच तक बढ़ते हैं। बाल बढाने का तेल, ऐसे कुछ कारक हैं, जैसे सामान्य स्वास्थ्य, आनुवांशिक कारक (genetic factors), जीवनशैली आदि, जो कि हमारे बालों की बढ़त को निर्धारित करते हैं। पर इसके लिए कोई सरल उपाय नहीं है। आप कुछ स्वास्थ्यवर्धक टिप्स (tips) और बालों की अच्छी देखभाल करके उनकी बढ़त अच्छी कर सकते हैं। नीचे बाल लंबे कैसे करे, बालों को बढ़ाने के कुछ तरीके बताये गए हैं।

स्वास्थ्यकर खानपान (Having a healthy diet se balo ko majbut karne ke upay)

बाल लंबे करने के तरीके, ऐसी डाइट (diet) जिसमें प्रोटीन (protein), विटामिन (vitamin) तथा मिनरल्स (minerals) भरपूर मात्रा में हों, बालों की बढ़त के लिए काफी फायदेमंद होती है। विटामिन ए, बी, सी और इ (vitamin A, B, C and E) से युक्त भोजन अवश्य ग्रहण करें। विटामिन बी काम्प्लेक्स (vitamin B-complex) भी एक ऐसा विटामिन है,  जो बालों की बढ़त में काफी प्रभावी साबित होता है। मिनरल्स के लिए आयरन (iron), कॉपर (copper), जिंक (zinc), सेलेनियम (selenium) और मैग्नीशियम (magnesium) से युक्त भोजन का सेवन करें।

अपने भोजन में दूध, दही, चीज़ (cheese) आदि दुग्ध उत्पाद शामिल करें। चिकन (chicken), सालमन (salmon), अंडे, साबुत अनाज,  ब्रॉकली (broccoli), पालक, गोभी, अजवायन (parsley), नाशपाती, ब्राउनब्रेड (brown bread) को भी अपने दैनिक भोजन में शामिल करें। ये भोजन आपके सिर की त्वचा को पोषण देंगे और इसमें जान डालेंगे। आप फलों और सब्ज़ियों,  जैसे संतरे, अंगूर, गाजर और बीट (beet)  भी पी सकते हैं।

मछली, अखरोट, बीन्स (beans), पटसन के बीज (flax seeds) ओमेगा 3 फैटी एसिड (omega 3 fatty acids) से युक्त होते हैं, जो बालों की बढ़त के लिए काफी फायदेमंद है। हमारे बालों के शाफ़्ट (shaft) में 3% ओमेगा 3 एसिड की भी मात्रा होती है। भोजन को ओलिव आयल (olive oil) में पकाने से भी बालों को काफी लाभ पहुंचता है।

सर्दी/ठण्ड के समय बालों को मॉइस्चराइस्ड रखने के तरीके

बाल घने करने के घरेलू उपाय में अरंडी के तेल का इस्तेमाल (Usage of castor oil)

अरंडी के तेल (castor oil) में विटामिन इ (vitamin E)  तथा आवश्यक फैटी एसिड्स (essential fatty acids) जैसे ओमेगा  9 (omega 9) काफी मात्रा में पाए जाते हैं। इसी वजह से यह बालों को बढ़ाने का एक बेहतरीन उपाय है। अरंडी का तेल काफी गाढ़ा होता है, अतः इसे सीधे बालों पर ना लगाएं। लगाने से पहले इसे नारियल, बादाम या जैतून के तेल (olive oil)  के साथ मिश्रित कर लें। तेल के इस मिश्रण से बालों को अच्छे से मसाज (massage) करें और इसे 30 से 45 मिनट के लिए छोड़ दें। आप इसे हल्का गर्म भी कर सकते हैं। रोज़ाना की तरह बालों को शैम्पू (Shampoo)  तथा कंडीशन (condition) करें। आप अरंडी के तेल के साथ रोजमेरी (rosemary), यूकेलिप्टस (eucalyptus),  पुदीने, थाइम (thyme) या लैवेंडर (lavender) के तेल जैसे आवश्यक तेल भी मिला सकते हैं।

बालो को लंबा करने के उपाय हैं सिर की रोज़ाना मालिश (Balo ko lamba karne k tips hai regular scalp massage)

जब आप सिर की मालिश करते हैं तो इससे रक्त का संचार तेज़ होता है, जिसके फलस्वरूप आपके बालों के फॉलिकल्स  (follicles) में जान आती है। इसके अलावा बालों को हफ्ते में एक बार गर्म तेल के उपचार या फिर एक डीप कंडीशनिंग हेयर मास्क (deep conditioning hair mask) की मदद से स्वस्थ रखें। गर्म तेल या डीप कंडीशनर बालों में लगाएं सिर में अपनी उँगलियों को 5 मिनट तक गोलाकार मुद्रा में घुमाएं। बालों को अच्छे से धो लें।

तनाव से दूर रहें (Staying stress-less)

तनाव उन स्थितियों में से एक है, जिसकी वजह से बाल झड़ने लगते हैं। तनाव बालों के सामान्य चक्र को तोड़ता है और इसके फलस्वरूप आपके बाल धीरे धीरे गिरने लगते हैं। आपको अपने दिमाग को हमेशा ठंडा रखना चाहिए तथा तनाव कम से कम लेना चाहिए।

तैराकी के दौरान बालों का झड़ना रोकने के उपाय

तनाव को दूर करने के लिए ध्यान लगाने का प्रयास करें  (meditation), साँसों का व्यायाम करें और इसी प्रकार की सुकून दिलाने वाली अन्य क्रियाएँ करते रहें। आपको सही समय पर सोने का भी प्रयास करना चाहिए, क्योंकि सोने के दौरान आपके तनाव के हॉर्मोन्स (hormones) बाहर निकल जाते हैं।

अंडे का मास्क (Egg masks se balo ko badhana)

अंडा बालों की बढ़त का काफी महत्वपूर्ण तत्व है। इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन तथा अन्य कई प्रकार के खनिज होते हैं। बालों को स्वस्थ बनाने तथा उनके सही विकास के लिए महीने में एक से दो बार अंडे का मास्क लगायें। एक अंडा लें और इसे अच्छे से फेंटें। अब 4 चम्मच ग्रेपसीड ऑइल (grape-seed oil) लें। इसमें लैवेंडर ऑइल (lavender oil) की कुछ बूंदें डालें। इन सबको अच्छे से मिलाएं। इस मिश्रण को सिर पर लगाएं तथा आधे घंटे तक रहने दें। सामान्य रूप से शैम्पू और कंडीशनर (conditioner) का प्रयोग करें।

2 अण्डों का पीला भाग लें तथा इसमें दो चम्मच एक्स्ट्रा वर्जिन ऑइल (extra-virgin oil) मिश्रित करें। इन्हें अच्छे से मिलाएं और अपने सिर पर लगाएं। इसके बाद सिर को ठन्डे पानी से धोकर शैम्पू (shampoo) का प्रयोग कर लें।

वैकल्पिक तौर पर, एक अंडे को फेंटें तथा इसमें एक कप दूध डालें। अब इस मिश्रण में 2 चम्मच एक्स्ट्रा वर्जिन तेल का मिश्रण करें। इसके बाद इन सबमें आधे नींबू का अंश मिलाएं। इस मिश्रण का प्रयोग अपने सिर पर करें तथा इसे 30 मिनट के लिए बालों पर सूखने दें। इसके बाद बालों को अच्छे से धोकर शैम्पू का प्रयोग कर लें।

बालों में जड़ीबूटियों का मिश्रण करें (Add herbs to your hair)

जिन जड़ीबूटियों से बालों की प्रभावी बढ़त होती है, उनमें से कुछ हैं रोजमेरी, नेटल, कैटनिप, हॉर्सटेल, सेज तथा बर्डोक (rosemary, nettle, catnip, horsetail, sage and burdock)। रोजमेरी बालों के फॉलिकल्स (hair follicles) को जागृत तथा प्रभावित करने का गुण रखती है। यह बालों में चमक और घनत्व की सृष्टि करती है तथा इन्हें भरापूरा प्रतीत करवाने में काफी मदद करती है। आप वैकल्पिक उपायों जैसे ग्रीन टी (green tea) का भी प्रयोग कर सकते हैं क्योंकि इसमें पोलीफेनोल्स (polyphenols) तथा जलन को दूर करने वाले गुण होते हैं। ये दोनों गुण बालों की बढ़त को सुचारू रूप से चलाने में काफी अहम भूमिका निभाते हैं। ज़्यादातर जड़ीबूटियां रक्त के सही संचार में आपकी काफी मदद करती हैं जिससे इनके बढ़त की संभावना और भी ज़्यादा बढ़ जाती है।

बालों को बिना स्ट्रेटनर के सीधा करने के तरीके

ऊपर बताई गयी जड़ीबूटियों में से किसी को भी गर्म पानी में 20 मिनट तक डुबोकर रखें तथा इसके बाद इसे बालों पर प्रयोग करें। अब बालों पर उसी तरह शैम्पू और कंडीशनर (shampoo and conditioner) का प्रयोग करें जैसा कि आप सामान्य रूप से करते हैं। इसके बाद जड़ीबूटियों के पानी से अंतिम बार बालों को धो लें।

इस विधि से आपके बालों की सही रूप से बढ़त होने में काफी सहायता मिलेगी एवं ये ज़्यादा सुन्दर और संभालने लायक बनेंगे। आप इसके लिए हर्बल चाय (herbal tea) का भी सेवन कर सकते हैं।

विटामिन और हर्बल पूरक (Vitamin and herbal supplements se balo ki care tips in hindi)

आप स्वस्थ खानपान ग्रहण करने के अलावा कुछ पूरक पदार्थ भी प्रयोग में ला सकते हैं। फोलिक एसिड, केल्प, बायोटिन, फ्लैक्ससीड ऑइल, सॉ पल्मेट्टो जिनसेंग, जिंगको बिलोबा आदि (folic acid, kelp, biotin, flax seed oil, saw palmetto ginseng, ginkgo biloba, etc) ऐसे पूरक पदार्थ हैं जिन्हें बालों की बढ़त में कारगर प्रभावी तत्वों में शामिल किया जा सकता है।

फोलिक एसिड और बायोटिन के पूरक पदार्थों में विटामिन बी काम्प्लेक्स (vitamin B complex) मौजूद होता है जिससे आपके बाल बेहतर तरीके से बढ़ने में सक्षम होते हैं। लेकिन इन तत्वों का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से संपर्क अवश्य कर लें।

एलोवेरा से बालों को पोषण दें (Nourish hair with aloe vera)

एलोवेरा बालों की बढ़त में काफी वृद्धि करता है एवं आपके बालों को झड़ने तथा कम होने से बचाता है। इसके प्रयोग से आपको डैंड्रफ (dandruff) से भी पूरी तरह छुटकारा मिलता है एवं बालों की प्राकृतिक चमक लौटकर आती है।

एलोवेरा का ताज़ा जेल (gel) लें एवं इसमें थोड़ा सा नींबू का रस मिश्रित करें। इस मिश्रण को अपने बालों पर अच्छे से लगाएं तथा इसे 20 मिनट तक पूरी तरह सूखने दें। समय समाप्त हो जाने पर बालों में शैम्पू करें तथा इस प्रक्रिया को हफ्ते में एक बार दोहराएं।

एक दिन के लिए बालों को स्ट्रेट कैसे बनाएं?

वैकल्पिक तौर पर एलोवेरा जेल को आधी मात्रा में नारियल के दूध तथा व्हीटजर्म तेल (wheat germ oil) के साथ मिलाएं। इसे बालों पर लगाएं और अच्छे से सूखने दें। अब बालों को अच्छे से धो लें। आप रोज़ाना एलोवेरा के रस का सेवन भी कर सकते हैं।

स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करें (Treat medical issues)

कई बार बालों का झड़ना तथा बालों का धीमी गति से बढ़ना सामान्य नहीं होता। इन समस्याओं के पीछे छिपे कारणों का पता लगाएं जिससे इन्हें जल्दी से जल्दी दूर किया जा सके।

  • अगर आपके शरीर में हार्मोनल असमानता, थाइरोइड डिसॉर्डर (hormonal imbalance, thyroid disorder), भयंकर संक्रमण, गंभीर बीमारी आदि समस्याएं मौजूद हैं तो बालों की बढ़त का प्रयास करना फायदेमंद साबित नहीं होगा।
  • सिर के संक्रमण, डैंड्रफ, सेबोरिक डर्मेटाइटिस (seborrheic dermatitis) आदि ऐसी समस्याएं हैं जिनके अंतर्गत आपके सिर में खुजली होती है तथा थोड़े से बाल भी झड़ते हैं।