How to make hair straight and silky – बालों को स्ट्रेट और रेशमी कैसे बनाएं?

आप बालों को केमिकल (chemical) लगाकर या हीटिंग के यंत्रों की (heating appliances) मदद से स्ट्रेट कर सकती हैं। परन्तु केमिकल्स और गर्म आयरन (hot irons) बालों को खराब कर देते है तथा उन्हें रूखा बना देते है।

घर पर बालों को स्ट्रेट (straight) करने के लिए कई प्राकृतिक उपाय हैं। आप प्राकृतिक तत्वों की मदद से ये उपचार कर सकती हैं। ये बालों को खराब किये बिना उन्हें स्ट्रेट करते हैं तथा उन्हें रेशमी और चमकदार बाल, नरम, मुलायम और रेशमी बनाते हैं। ये आपको तुरंत परिणाम नहीं देते, परन्तु अगर इनका अच्छे से प्रयोग किया जाए, तो ये काफी सुरक्षित और प्रभावी हैं।

बालों को स्ट्रेट/हेयर स्ट्रेट करने के प्रभावी उपाय (Natural methods to straighten hair)

अजवाइन की पत्तियां (Celery leaves se baal sidha karne ka tarika)

ये पत्तियां बालों को स्ट्रेट (straight) करने तथा इन्हें पोषण देने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। इन पत्तियों का रस निकालने के लिए इन्हें काटें, ग्राइंड (grind) करें और रस निकालें। इस द्रव्य को एक बोतल में रखें तथा रात भर छोड़ दें। इसे सिर पर और बालों की हर एक लट पर अगली सुबह लगाएं। इस रस को बालों पर लगाकर एक चौड़े दांतों वाली कंघी का प्रयोग करके इसे एक घंटा छोड़ दें। अब बालों को अच्छे से धो लें तथा प्राकृतिक ब्रिसल्स (bristles) वाले ब्रश से प्यार से ब्लो ड्राई करें।

बालों को हिना/मेहंदी से हाईलाइट करने के तरीके

बालों को सीधा कैसे करें दूध से (Milk se bal straight karne ka tarika)

दूध की मदद से बालों को स्ट्रेट (straight) बनाना एक काफी प्रसिद्ध विधि है। इसके लिए बालों की गांठों को कंघी की मदद से छुड़ाएं तथा इसके बाद बालों में दूध और पानी का मिश्रण लगाएं। बालों में दूध लगाकर आधे घंटे तक रखें और फिर इसे पानी से धो दें। बालों को एक स्ट्रेट (straight) लुक देने के लिए चौड़े मुंह की कंघी से बाल बनाएं।

बालों को मुलायम बनाने के उपाय नारियल का दूध से (Coconut milk se balo ko mulayam karne ka tarika)

बालों को स्ट्रेट (straight) करने का यह एक और प्रभावी नुस्खा है। आप नारियल को किसकर (mash) तथा ब्लेंड (blend) करके इससे दूध निकाल सकती हैं। इसमें नींबू के रस की कुछ बूँदें मिलाएं और रात भर फ्रिज में रख दें। अगली सुबह आप पाएंगी कि इस मिश्रण से एक क्रीमी परत बन गयी है। अब इसे बालों और सिर की त्वचा पर लगाएं। इसके बाद सिर को एक गर्म तौलिये से लपेट लें और एक घंटे के लिए छोड़ दें। अब बालों को पानी से धो लें और एक चौड़े दांतों वाली कंघी का प्रयोग बाल बनाने के लिए करें। अच्छे परिणामों के लिए इस विधि का प्रयोग हफ्ते में कम से कम तीन बार करें।

बाल सीधे करने के घरेलू उपाय है मुल्तानी मिटटी (Multani mitti)

आप मुल्तानी मिटटी की मदद से भी बालों को स्ट्रेट(straight) कर सकती हैं। मुल्तानी मिटटी, अंडे के सफ़ेद भाग (egg-white) तथा चावल के आटे को अच्छे से मिश्रित करें तथा इनका एक महीन पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को बालों पर लगाएं तथा एक घंटे के लिए छोड़ दें। चौड़े मुंह वाले कंघे का बालों पर प्रयोग करें और फिर एक सौम्य शैम्पू का प्रयोग करके पानी से बालों को धो लें। चमकदार सीधे बाल, आपने मुल्तानी मिटटी के प्रयोग से दमकती त्वचा के बारे में सूना ही होगा, परन्तु इसके बालों पर प्रयोग की विधि निश्चित ही नयी है।

रेशमी बालों के लिए केले और दही का पैक (Banana and curd pack)

ठण्ड में बालों की बेहतरीन मॉइस्चराइसिंग क्रीम्स

केले, दही, ओलिव आयल की कुछ बूंदों तथा एक विटामिन कैप्सूल को अच्छे से मिलाएं और इनकी मदद से एक महीन पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को एक ब्रश के द्वारा अपने बालों तथा सिर की त्वचा पर लगाएं। कंघी की मदद से सिर की त्वचा पर इस मिश्रण को लगाएं और इसे एक शावर कैप (shower cap) से ढक लें। यह मास्क (mask) बालों को मॉइस्चराइस करने में सहायता करता है तथा उन्हें स्ट्रेट और सुन्दर बनाने में काफी मदद करता है। दही और केले का मिश्रण आपके बालों को लम्बे समय तक काफी नरम मुलायम बनाकर रखता है।

रेशमी बालों के लिए केले और अवोकेडो का पैक (Banana and avocado pack)

इस विधि से बालों को पोषण भी मिलता है तथा वे स्ट्रेट भी होते हैं। इससे आपके बाल काफी सुन्दर और संभालने योग्य बनते हैं। अवोकेडो और केले को एक साथ मैश (mash) करें तथा इनका पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को बालों तथा सिर पर लगाएं। एक घंटे के बाद बालों को गुनगुने पानी से धो लें। केले और अवोकेडो का यह मास्क आपके बालों को काफी स्ट्रेट और रेशमी बनाकर रखता है। बालों के स्वास्थ्य को बरक़रार रखने के अलावा यह इन्हें काफी ख़ूबसूरत भी बना देता है। अपने बालों को अच्छी तरह स्वस्थ रखने के लिए इस विधि का प्रयोग आप हफ्ते में दो बार अवश्य करें। इसके अलावा इस पेस्ट को बनाने में अच्छा खास समय लगाएं, क्योंकि समय जितना ज़्यादा लगेगा, पेस्ट उतना ही प्रभावी बनेगा।