Best ways in hindi to stay warm during winter – ठण्ड के समय खुद को गर्म रखने के श्रेष्ठ उपाय

क्या आप ठण्ड के मौसम में गर्माहट पाने में असमर्थ हैं? अगर ऐसा है तो आपके लिए नीचे ऐसे कुछ नुस्खे दिए गए हैं, जो कितनी भी ठण्ड क्यों ना हो, आपके शरीर को गर्मी देने में सफल साबित होंगे। ठण्ड का मौसम ऐसा होता है, जिसका सामना करने के लिए अगर आप अच्छे से तैयार हुए तो यह सबसे अच्छा मौसम साबित हो सकता है। और इसका सामना करना ज़्यादा मुश्किल बात नहीं है।

सर्दियों में देखभाल के टिप्स में ज़्यादा कपड़े पहनें (Layering is the best way to go)

एक मोटा जैकेट (jacket) पहनने की तुलना में ज़्यादा मात्रा में कपड़े पहनने से आप ज़्यादा गर्म रह सकेंगे। जब आप कपड़ों की विभिन्न परतें पहनते हैं, तो हवा इन परतों के बीच फंस जाती है। क्योंकि हवा ताप (conductor) की खराब चालक (conductor) होती है, अतः यह शरीर की सारी गर्मी को जमा कर लेती है और आपको गर्म रखती है। अतः अगली बार जब आपको एक मोटे जैकेट तथा दो पतले गर्म कपड़े पहनने में से किसी एक का चुनाव करना हो, तो दूसरे विकल्प का चुनाव करें। अगर तापमान शून्य (zero) को छूने वाला हो तो ऊनी इनर्स (inners) के ऊपर मोटा जैकेट पहन लें। जैकेट और ऊनी इनर्स के ऊपर एक अच्छी क्वालिटी का विंड चीटर (wind-cheater) पहन लेने से शून्य से कम तापमान पर भी आप आराम से रह सकते हैं।

ठण्ड में गर्म रखने के उपाय हैं कार्यशील रहें (Be active hai sardiyo ke liye tips)

ठंड का समय लोगों के लिए आलस करने का नहीं, बल्कि काम करने का समय है। अगर आप असल में ठण्ड से लड़ने के लिए तथा अपने शरीर को गर्म रखने के लिए इस मौसम में तत्पर हैं, तो कार्यशील रहें। यह मौसम सुबह सुबह उठकर भारी व्यायाम करने के लिए काफी अच्छा है। सुबह सुबह जॉगिंग (jogging) करने जाएं तथा सुबह उठते ही कुछ फ्री हैंड (free hand) व्यायाम करें, जिससे आपके सारे शरीर में खून दौड़ने लगे तथा आप गर्मी का अनुभव करने लगें। अपने काम के बीच बीच में छोटे और कठिन वाकिंग सेशंस (walking sessions) लें। इससे आपके शरीर में ना सिर्फ ऊर्जा और गर्मी का संचार होगा, बल्कि आपका अपने काम में भी काफी मन लगेगा। सारा दिन शारीरिक रूप से कार्यशील रहने पर ही ठण्ड में अंदर से गर्मी का अहसास हो सकता है।

इस सर्दी मे त्वचा की सुरक्षा के लिए घरेलू बॉडी लोशन

सर्दियों में देखभाल कैसे करें, गर्म पेय पदार्थ पियें (Drink warm beverages)

गर्म पेय पदार्थ आपके शरीर का कोर (core) तापमान बढ़ाने में काफी बड़ी भूमिका निभाते हैं, जिसके फलस्वरूप आपको प्रभावी रूप से गर्मी का अहसास होता है। ठण्ड का समय गर्म कॉफ़ी (hot coffee), चाय, गर्म दूध, गर्म चॉकलेट (hot chocolate), सूप तथा हर तरह के अन्य पेय पदार्थों के सेवन का समय होता है। ठण्ड में शरीर को गर्म रखने के लिए अल्कोहल (alcohol) भी एक अच्छा उपाय प्रतीत हो सकता है, पर असल में यह अच्छा विकल्प नहीं है। इसका कारण यह है कि अल्कोहल शरीर को डिहाइड्रेट (dehydrate) कर देता है और शरीर के कोर तापमान को कम कर देता है, जिससे आपको ठण्ड लगने की समस्या भी हो सकती है। इस मौसम में निरंतर गर्म पेय पदार्थों का सेवन करना स्वास्थ्य की दृष्टि से सही तो है, पर इसके अपने साइड इफेक्ट्स भी हैं। ज़्यादा कॉफ़ी पीने से आपकी नींद चली जाती है, तथा ज़्यादा चॉकलेट का सेवन करने से वज़न बढ़ने का ख़तरा रहता है। अतः गर्म दूध, हर्बल (herbal) चाय या वेजिटेबल सूप (vegetable soup) का सेवन ही ज्यादा करने का प्रयास करें।

सर्दियों में देखभाल के लिए कानों को ढककर रखें (Cover up your ears)

हम आमतौर पर ठंडी हवाओं से अपने कानों को बचाने का कोई प्रयास नहीं करते। पर असल में कानों को सही प्रकार से ढकने से आपको काफी गर्माहट प्राप्त हो सकती है। जब कानों से ठंडी हवा शरीर में प्रवेश करती है, तो गर्म कपड़े पहने होने के बावजूद आपकी कंपकंपी छूट जाती है। अतः हमेशा बाहर निकलते वक़्त अपने कानों को बाहर ढककर ही निकलें। हैट्स (hats) तथा कैप्स (caps) सिर्फ हमारे सिर की सुरक्षा करते हैं और हमारे कानों को नज़रअंदाज़ कर देते हैं। अतः एक अलग एयर मफलर (ear muffler) का प्रयोग करें, जिसका मुख्य उद्देश्य सिर्फ आपके कानों को ठंड से बचाना है।

सर्दी में केयर के लिए दस्ताने और ऊनी मोज़े पहनें (Put on those gloves and woolen socks)

ठण्ड में स्वस्थ रहने के नुस्खे

हमारे हाथ और पैरों को ठण्ड का अहसास सबसे पहले होता है। ठण्ड के समय शरीर अपने अंदरूनी अंगों को गर्म करने की सबसे पहले कोशिश करता है, और इसलिए हाथ और पैर शरीर के बाहरी अंग होने की वजह से इस मामले में काफी पीछे रह जाते हैं। अतः यह आपके ऊपर होता है कि आप अपने हाथों और पैरों की ठण्ड के मौसम में देखभाल किस तरह करते हैं। हाथ और पैरों को पूरी तरह ढककर रखने वाले गर्म कपड़ों के अलावा ऊनी दस्ताने तथा मोज़े ठण्ड के समय आपको गर्मी प्रदान करने के सबसे बेहतरीन विकल्पों में से एक माने जाते हैं। अच्छी गुणवत्ता के ऊनी दस्ताने खरीदने का प्रयास करें तथा इस बात को सुनिश्चित करें कि आपके हाथ ठण्ड के प्रकोप से पूरी तरह बचे और गर्म रहें। ऊनी मोज़े आपको कठोर ठण्ड की मार से बचाने की क्षमता रखते हैं, और अगर ज़रुरत पड़े तो कई मोज़ों की परत बनाकर पहनने से भी आपको काफी फायदा मिलेगा। यह विधि आमतौर पर तब अपनाई जाती है, जब ठण्ड के मौसम में तापमान शून्य को छूने के कगार पर पहुँच जाता है। एक बार अगर आपके हाथों और पैरों को पर्याप्त मात्रा में ठण्ड से बचाने में सहायता प्राप्त हो गयी, तो आपके शरीर का तापमान आरामदायक स्तर तक पहुँचने में देर नहीं लगेगी।

उच्च गुणवत्ता के ठण्ड के जूते खरीदें (Invest in some high quality winter boots)

सर्दियों के कंपकंपाते मौसम में शरीर के तापमान को आदर्श रूप से बरकरार रखने के लिए उच्च गुणवत्ता के ठण्ड के जूते खरीदना एक काफी अच्छा विकल्प साबित हो सकता है, खासकर तब जब आपको साल के सबसे ठंडक भरे दिनों में भी रोज़ाना बाहर काम करने के लिए जाना पड़े। जैसा कि पहले ही बताया जा चुका है, अगर आप अपने पैरों को गर्म रखने में सफलता हासिल कर लेते हैं तो आपके शरीर को गर्माहट एवं आराम का अहसास करने में ज़्यादा आसानी होती है। ऊनी मोज़ों के साथ अच्छी गुणवत्ता वाले ठण्ड के मोज़े पहनने से आपके पैर प्रभावी तौर पर ठण्ड से बचे रहते हैं। चलने के समय आपके पैर ही शरीर का वो अंग होते हैं जो फर्श से संपर्क में रहते हैं, कि आपके शरीर के तापमान से भी ठंडा होता है। फर्श आपके शरीर की गर्मी को आपके पैरों से सोख लेते हैं। अतः अच्छे जूते पहनने से ठंडी सतह पर चलने पर भी आपके शरीर की गर्मी नहीं जाएगी और इससे आपको ठण्ड से बचे रहने में मदद मिलेगी।

सर्दी / ठण्ड के समय बालों को मॉइस्चराइस्ड रखने के तरीके

गर्म पानी की बोतल का प्रयोग (Use a hot water bottle for sardi mai garam kaise rakhe)

अगर आप घर पर हैं और शरीर को तुरंत गर्माहट देना चाहते हैं तो गर्म पानी की बोतल इसका एक काफी कारगर उपाय है। जब पानी को एक कांच के बोतल में भरा जाता है तो इसकी गर्मी काफी देर तक बरकरार रहती है। यह ठण्ड के दिनों में खुद को गर्म बनाए रखने का एक कारगर और किफायती उपाय साबित हो सकता है। आप सोफे पर बैठे बैठे या किताबें पढ़ते हुए अपने शरीर में गर्मी का संचार करने के लिए गर्म पानी से भरी हुई बोतल का प्रयोग कर सकते हैं। आप ठण्ड की रातों में अपने बिस्तर को काफी जल्दी गर्म करने के लिए एक गर्म पानी की बोतल को अपनी रज़ाई के नीचे भी दबा सकते हैं।

सूरज निकलने पर खिड़कियाँ खोल लें (Open the windows when the sun is up for sardiyo me dekhbhal)

ठण्ड के मौसम के आने पर हम सारे दिन अपने घर की खिड़कियाँ बंद रखना ही पसंद करते हैं, जबकि असल में यह एक स्वास्थ्यकर विकल्प नहीं है। अतः जब सुबह सूरज निकले तो खिड़कियाँ खोल दें तथा अपने कमरे में सूरज की रोशनी को आकर गर्मी प्रदान करने दें। लेकिन अगर बाहर काफी ज़्यादा ठण्ड का माहौल हो और धूप बिलकुल भी ना निकली हो तो आपको अपने घर की खिड़कियाँ बंद ही रखनी चाहिए।

सूरज ढलने से पहले दरवाज़े और खिड़कियाँ करें बंद (Close the doors and windows well before the sun goes off)

सूरज ढलने से और तापमान घटने से पहले खिड़कियाँ और दरवाज़े बंद करने से गर्मी आपके कमरे में कैद होकर रह जाती है। अगर आप किसी ऐसी जगह रहते हैं, जहाँ न्यूनतम तापमान शून्य तक पहुँच जाता है तो दोहरे कांच के दरवाज़े और खिड़कियाँ लगाएं।

सर्दी के मौसम के लिए बाजार मे उपलब्ध बेहतरीन बॉडी लोशन्स

हीटर का प्रयोग (Use a heater or light up that fire place)

रूम हीटर (room heater) या फायर प्लेस का प्रयोग करने से ना सिर्फ आपका शरीर, बल्कि आपका सारा शरीर गर्म हो जाता है। अगर ताप आपके घर के दरवाज़ों तथा खिड़कियों से ना निकलने की व्यवस्था हो, तो ये उपाय तापमान शून्य से कम होने पर भी आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होगा।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday