How to treat depression after a breakup – ब्रेकअप के बाद डिप्रेशन का इलाज कैसे करें

अगर आपका ब्रेकअप (breakup) हाल ही में हुआ है और आप डिप्रेशन (depression) का शिकार बन चुके है तो आप जान ले की आपको अकेले महसूस करने की कोई आवश्यकता नहीं है।  जब लम्बे समय से चल रहे संबंध अचानक से टूट जाते है तो ज्यादातर लोग इस दौर से गुज़रते है।  संबंध टूटने का दर्द सबको होता है, लेकिन ब्रेकअप को सामान्य सा मानकार आगे बढ़ने की कोशिश करनी चाहिए, यह भले ही मुश्किल है लेकिन ना मुमकिन नहीं।

अचानक से भावना से भरपूर संबंध टूटने का दर्द सबको होता है, जीवन व्यर्थ लगने लगता है लेकिन आप यह जान ले की यह सबके जीवन में होता है और यह एक सामान्य सा दौर है जो कुछ समय बाद दूर हो जायेगा।

ब्रेकअप केवल संबंध को ख़तम नहीं करता बल्कि उस इंसान से जूडी वो सभी यादों से रिश्ता टूट जाता है।  ब्रेकअप से सामना करना आसान नहीं है लेकिन इसका यह मतलब नहीं की आप डिप्रेशन में चलें जाए।  लेकिन जब भी दिल की बात होती है तो समझदारी से पेश आना बहुत मुश्किल हो जाता है। अगर आप ब्रेकअप के कारण डिप्रेशन का शिकार बन चुके है तो इस आर्टिकल को पढिये और डिप्रेशन का इलाज करें।

मनोचिकित्सक (psychiatrist) के पास जाकर एंटी डिप्रेशन (anti depressant) की दवाइयाँ लेने से आपको आराम तो मिल जाएगा लेकिन आप इस दौर का इलाज खुद से भी कर सकते है।  अपनी सोच और लाइफ स्टाइल में बदलाव लाने से आपको डिप्रेशन को दूर करने में आसानी होगी।

इसलिए श्रेष्ठ होगा की आप इन बदलाव से शुरुआत करें, अगर आप इन बदलाव से ब्रेकअप के एक हफ्ते या महीने के बाद डिप्रेशन का इलाज नहीं कर पा रहे है और इस कारण आपका व्यवसायी जीवन और दुसरे संबंध में दिक्कत हो रही है तब आप डॉक्टर के पास जा सकते है और अपने डिप्रेशन का इलाज करा सकते है।  ब्रेकअप के बाद डिप्रेशन में जाना एक सामान्य सी बात है इसलिए अपने आप को अकेला ना महसूस करें और अपने आप को बेहतर समझने की कोशिश करें।

ब्रेकअप के उज्ज्वल साइड की ओर ध्यान दे (Look at the brighter sides of the breakup)

टीनएज रिलेशनशिप, क्या करें क्या न करें

ब्रेकअप से दर्द ज़रूर होता है लेकिन इसके कुछ लाभ भी होते है।  अगर एक व्यक्ति आपसे ब्रेकअप कर रहा है तो इसका सीधा सा मतलब है की वो आपसे अपना बाकी का जीवन बाँटना नहीं चाहता।  यह भले ही आपको चोंट पहुंचाए लेकिन हकीकत यह है की अगर आप ब्रेकअप नहीं करते तब भी आप उस व्यक्ति को अपने जीवन में उस वक़्त ना पाते जब आपको उनकी सबसे ज्यादा ज़रुरत पड़ती।  किसी ऐसे व्यक्ति के साथ रहना जो आपके लिए कुछ महसूस नहीं करता, जो आपको सिर्फ अपने फायदे के लिए इस्तमाल कर रहा हो, उस से अच्छा तो आप अकेले ही अपना जीवन बेहतर रूप से गुज़ार सकते है।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,327 other subscribers

मनुष्य संबंध में इसलिए जुड़ जाते है क्यूंकि इस से उन्हें मान्सिक आनंद और आराम प्राप्त होता है।  ब्रेकअप का सीधा सा यह मतलब हुआ की अब वो संबंध से आप अपने जीवन में आनंद और आराम नहीं प्राप्त कर पायेंगे।  रोजाना झगडा करना, एक दुसरे पर विश्वास ना करना, बद्तमीज़ी से पेश आना, यह सब आनंद की कमी के कारण होता है और इसलिए इन सबको सहने से अच्छा होगा की इस रिश्ते को वहीँ पर ख़तम कर दिया जाए।

ब्रेक-अप के बाद नए जीवन की शुरुआत करें (A chance of a new beginning)

ब्रेकअप के बाद आप अपने जीवन की एक नयी शुरुआत कर सकते है।  इस से आप सीखते है की कैसे बेहतर रूप में अपने रिश्तों को संभाला जाए और जो गलती अब दोहराई है उन्हें नए संबंध में ना दोहराए।  अब हाल ही के समय के लिए आप दर्द में है क्यूंकि आपने उस व्यक्ति को खो दिया है जिसके साथ आप अपना पूरा जीवन गुजारने के सपने संजोया करते थे, लेकिन आप यह नहीं जानते की आपके भाग्य में क्या लिखा रहता है।  आप ब्रेकअप के बाद एक नए बेहतर व्यक्ति के साथ रिश्ता जोड़ सकते है, ब्रेकअप के कारण आप समझ सकते है की आपके भाग्य में आपके लिए क्या लिखा है।

अपने व्यवसाय पर ज्यादा ध्यान दे सकेंगे (More time to focus on your career)

यह भले ही कठोर लगता होगा लेकिन ब्रेकअप के बाद आप अपने व्यवसाय में तरक्की प्राप्त कर सकते है।  ज्यादातर हम रिश्तों पर उतना ध्यान देने लगते है की व्यवसाय के काम से ध्यान दूर होने लगता है।  अब ब्रेकअप के बाद आप अपना पूरा समय अपने काम पर लगा सकते है और व्यवसाय में उन ऊँचाइयों को छु सकते है जिन के आप केवल सपने देखा करते थे।  और यह याद रखें की आपका काम सुबह उठ कर आपको यह नहीं कहेगा की उसे आप से दूर जाना है।

दिल की बात को बहार निकाल लें (Talk your heart out, kya kare after breakup)

टिप्स और उपाय से अपनी रिलेशनशिप को मजबूत बनाएँ

अपनी फीलिंग्स (feelings) और दर्द को दिल में दबा लेने से आप ब्रेकअप को भूला नहीं पायेंगे।  ब्रेकअप के बाद किसी भरोसेमंद व्यक्ति से अपना दर्द बाँट कर आप डिप्रेशन का इलाज कर सकते है।  बात करने से सहायता मिलेगी, भले ही यह उपाय आपको अच्छा ना लग रहा हो लेकीन अपने विचार और भावना को किसी सहायक व्यक्ति के साथ बांटने से आप हल्का और बेहतर महसूस करेंगे।  अगर आपका कोई ऐसा सहायक या दोस्त नहीं है तो घबराए मत, आप कलम और कागज़ पर अपने दिल की बात लिख सकते है।  अपने सारे दर्द और गम को लिखने से आप अपने डिप्रेशन का इलाज आसानी से कर सकते है।

दोस्तों के साथ ज्यादा समय बिताए (Breakup ke baad spend more time with friends)

यह सही समय है जब आप अपने दोस्तों के साथ फिर से संबंध बना सकते है।  दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा समय व्यतीत करने से आप अकेला नहीं महसूस करेंगे, जो ज्यादातर ब्रेकअप के बाद अक्सर लोग महसूस करते है।  ब्रेकअप के बाद डिप्रेशन और अकेलापन एक साथ टूट पड़ते है।  आप यह समझते होंगे की ब्रेकअप के बाद अकेले रहने से आप बेहतर महसूस करेंगे तो आप गलत सोचते है क्यूंकि यह करने से आप अपनी समस्या को और ज्यादा बढ़ा रहे है।  इसलिए ज्यादा से ज्यादा समय अपने परिवार और दोस्तों के साथ गुज़ारना शुरू कर दें ताकि आप अकेला ना महसूस कर सकें।

अपने आप के साथ भी कुछ समय बिताए (Break up hone ke baad kya kare spend quality time with yourself)

दोस्तों और परिवार के साथ समय व्यतीत करने से आप अपने डिप्रेशन का इलाज ज़रूर कर सकते है लेकिन कुछ समय अपने साथ बिताना भी आवश्यक है।  लेकिन यह ध्यान रखें की अपने साथ समय बिताते वक़्त अपने ब्रेकअप या उस व्यक्ति के सम्बंधित यादों को याद ना करें बल्कि अपनी सोच और सपने के बारे में सोचें।  किताबें पढना, अपने मन चाहे गानों को सुनना और स्पा या सैलून में जाकर अपने मस्तिष्क को आराम देना, आप यह सब अपने आप के साथ समय व्यतीत करते वक़्त कर सकते है।

रोजाना व्यायाम करें (Get your daily dose of exercise)

क्या आप जानते है की रोजाना व्यायाम करने से आप डिप्रेशन का इलाज कर सकते है? व्यायाम करने से आप सेरोटोनिन (serotonin) की मात्रा अपने शरीर में बढाते है, जो की एक बढ़िया महसूस करवाने वाला हॉर्मोन है जिस से आप डिप्रेशन को दूर कर सकते है और अपने मूड (mood) को बेहतर बना सकते है। अगर ब्रेकअप के बाद आपको कुछ करना पसंद ना हो तो आप व्यायाम कर सकते है।  यह आपको केवल शाररिक तंदरूस्ती ही नहीं बल्कि आपको अपने आप पर गर्व महसूस करवाता है और साथ ही आपको मान्सिक रूप से भी खुश रखता है।  अगर आपको जिम्नेसियम (gym) जाने में या बहार जॉगिंग (jogging) पर जाना पसंद नहीं तो आप स्विमिंग (swimming) कर अपने डिप्रेशन को सुधार सकते है।  व्यायाम से आपको बहुत से लाभ प्राप्त होते है।

क्या करें और क्या ना करें मीन राशि वाले पुरुषों के साथ डेट के वक़्त?

ब्रेकअप के बाद क्या करे, आपके आहार पर ध्यान दे (Breakup ke baad kya kare, focus on what you eat)

आप जो खाते है उस से आप वैसा ही महसूस करते है।  डिप्रेशन के दौरान ज्यादातर लोग स्वस्थ (healthy) खाना छोड़ देते है।  या तो वे कम खाना खाने लगते है या ज्यादा जंक (junk) खाना शुरू कर देते है।  डिप्रेशन के इलाज के लिए यह महत्वपूर्ण है की आप संतुलित और पौष्टिक आहार को खाना शुरू कर दें।  हरी सब्जियां, नट्स, बीज, ब्रोक्कोली और फैटी फिश (fatty fish) को अपने रोजाना के आहार में मिलाये। सब्जियों में एंटी ओक्सिदंट्स (anti oxidants) भरे पड़े है और इनका असर आपके मस्तिष्क पर अच्छे से पड़ता है।  फैटी फिश, नट्स और बीज में ओमेगा 3 फैटी एसिड (Omega 3 fatty acid) भरपूर है जो आपके मूड को सुधारने में सहायता करते है। अनाज जैसे ओटमील और स्प्राउट्स (sprouts) में फोलिक एसिड (folic acid) होता है जो आपके मूड को बेहतर बनाता है।

अपने आप को रचनात्मक गतिविधियों में शामिल करें (Get involved into some creative activities that you enjoy)

नयी गतिविधियों में जुड़ने से आपको भले ही सही ना लगे लेकिन गतिविधियाँ जिन्हें आप पसंद करते हो और जिनको करने के बाद आप बेहतर महसूस करते हो, उन गतिविधियों को ब्रेकअप के बाद अपनाए और डिप्रेशन से बहार आये।  आप नृत्य, संगीत या कुछ नयी कलाओं को सीखने में अपने आप को व्यस्त कर सकते है जिस से आप डिप्रेशन को आसानी से अपने जीवन से निकाल सकेंगे। नयी चीज़ों को जानना और सीखने में आप अपने आप को बेहतर महसूस करवा सकते है और इस कारण डिप्रेशन का इलाज कर सकते है।

यात्रा करने से भी आपको सहायता मिलेगी (A dream trip can help, breakup hone par kya kare)

किसिंग टिप्स, कैसे करें परफेक्ट किस?

आप भले ही अपने ब्रेकअप के बाद बेहतर महसूस करने लगे हो लेकिन कुछ भावना और यादें आपको अपने ब्रेकअप की याद दिलाते हो तो आपको छुट्टी लेकर कहीं बहार यात्रा पर जाना चाहिए।  अपने सपने की जगह पर जा कर आप अपने अंदर नयी उत्साह और एनर्जी को लाते है जिस से आप अपनी पुरानी यादों को भुला सकेंगे और डिप्रेशन को दूर कर सकेंगे।  वैसे आपको इस यात्रा को अकेले नहीं करना चाहिए जब तक आप ब्रेकअप के बाद उन यादों को भुला चुकें हो तब तक।

अगर ऊपर दिए गए उपाय से आप अपना डिप्रेशन नहीं दूर कर पा रहे है और ब्रेकअप के बाद 2 महीने हो चुकें है और आप अब भी उन यादों को नहीं भुला पा रहे है तो आपको डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता है क्यूंकि ज्यादा समय तक डिप्रेशन को दूर ना करने से यह आपके स्वास्थय को बिगाड़ सकता है इसलिए बेहतर होगा की डॉक्टर या चिकित्सक कर्ताओं की सहायता लें और अपने डिप्रेशन का इलाज करें।  आपका डॉक्टर आपके डिप्रेशन का इलाज करने के लिए स्य्कोथेरपी (psychotherapy), कोगनिटिव बिहेवियरल थेरपी (cognitive behavioral therapy) या दवाइयां निर्धारित कर सकता है।

loading...