How to get rid of infections during monsoons? – बारिश के मौसम में इन्फेक्शन से कैसे बचें? मानसून टिप्स

मानसून (Monsoon) के पहले गर्मी की उमस और तपन जब असहनीय हो जाती है तब बारिश की ठंडी बूंदों से सुकून और आराम का अनुभव होता है। गर्मी की उमस और तापमान को कम करने के साथ साथ यह मानसून कई तरह की परेशानियों को भी साथ लेकर आता है। इस मौसम में अनेक बिमारियां और संक्रमण भी फैलने का खतरा लगातार बना रहता है।

मानसून की दिक्कतें Monsoon problems – problems during rainy season

मानसून अपने साथ कई संक्रामक रोग, लेकर आता है जो वायु या संपर्क में आने की वजह से फैलती है। साधारण सर्दी जुकाम, पेट के रोग से लेकर डेंगू, टाइफाइड, मलेरिया, हैजा और जौंडिस जैसे रोग आसानी से फैलने में समर्थ होते हैं। इस मौसम में फंगस और बैक्टीरिया की वजह से कई तरह की त्वचा संबंधी समस्याएँ भी जन्म लेती हैं। बारिश में कई तरह के रोग मच्छर, दूषित पानी और भोजन की वजह से होते हैं। इस आर्टिकल में मानसून में इन्फेक्शन से बचने के उपाय (Monsoon safety tips in Hindi) दिये जा रहे हैं जो इस प्रकार हैं,

बारिश में बिमारियों से बचने के उपाय हिन्दी में (Ways to get rid of infections during monsoons)

  • बारिश (Rainy season) में होने वाली ऊपर लिखित कुछ बिमारियों से बचे रहने का एक मात्र उपाय वैक्सीन है। इसके अलावा अपनी और अपने आस पास की जगह को साफ सुथरा रख कर भी आप रोगों से दूर रह सकते हैं।
  • बारिश में कई तरह के रोगों से बचाव (rainy season and our safety) का एक साधारण सा उपाय हाथों को साबुन से धोना है। दिन में साबुन से हाथ ढोते रहना कई किस्म के रोगों को आपसे दूर रखने में मदद करता है।
  • पानी मानसून के मौसम में रोगों के फैलने की सबसे बड़ी वजहों में से एक है। ज़्यादा बारिश की वजह से नलों से आने वाले पानी में भी मिट्टी या किटाणुओं की संख्या बढ़ जाती है। इस तरह का पानी अगर आप इस्तेमाल कर रहें हैं तो ध्यान दें कि यह पानी साफ फिल्टर किया हुआ या उबला हुआ हो। उसके बाद ही इस्तेमाल किया जाए।
  • मानसून के दौरान हमेशा ताजे भोजन का ही प्रयोग करना बेहतर होता है। फ्रिज में रखें ऐसे भोजन जिसके रंग, स्वाद या गंध में परिवर्तन हो गया हो उसका प्रयोग बिल्कुल न करें। इस मौसम में रास्ते के किनारे लगे ठेलों आदि से खाने का समान या खुली हुई चीजों को न खरीदें। कच्चे भोजन या सलाद का प्रयोग इस मौसम में कम ही करना बेहतर होता है।
  • सबसे ज़रूरी बात इस मौसम में ध्यान देने वाली यह है कि पानी पर विशेष ध्यान देना चाहिए। इस मौसम में पीने के पानी का ध्यान रखें। पानी की वजह से कई रोग शरीर को प्रभावित करते हैं। ये किटाणु पानी के द्वारा शरीर के भीतर पहुँच जाते हैं और लीवर आदि से संबन्धित रोग जैसे जौंडिस आदि को होने का मौका देते हैं।
  • किसी भी हालत में घर के आस पास पानी जमा न होने दें। जमा हुआ पानी मच्छरों की वजह से होने वाली बिमारियों जैसे मलेरिया, चिकनगुनिया, डेंगू आदि की मुख्य वजह बनता है। पानी के टैंक, पीने के पानी को इकट्ठा करने वाला स्थान पूरी तरह ढंका हुआ और सुरक्षित होना चाहिए। मच्छरों से बचने के लिए मच्छरदानी का प्रयोग करें।
  • अपनी त्वचा को मच्छरों से बचाए रखना बहुत ज़रूरी होता है। गीले कपड़ों, मोजे और जूते आदि को सुखकर और साफ कर ही दोबारा इस्तेमाल करना चाहिए नहीं तो इसकी वजह से त्वचा संबंधी इन्फेक्शन होने का खतरा रहता है।
  • नियमित रूप से स्नान करें और समय समय पर अपने हाथों को धोते रहना चाहिए।
loading...