Terry’s nail causes, symptoms diagnosis and treatment in Hindi – टेरी नेल – कारण, लक्षण और निदान

टेरी नेल नाखूनों की एक ऐसी समस्या हैं, जिसके अंतर्गत आपके नाखून अस्पष्ट और धुंधले (opaque) दिखने लगते हैं तथा इनके सिरे में एक काली रेखा आ जाती है। आमतौर पर हर व्यक्ति को इस समस्या का शिकार नहीं होना पड़ता, बल्कि उम्रदराज लोगों को यह समस्या ज़्यादा सताती है।

इस समस्या के फलस्वरूप अन्य कई समस्याएं जैसे मधुमेह, कुपोषण, दिल की नसों के बंद होने की वजह से दौरा पड़ना तथा गुर्दे की बीमारी आदि हो सकती है। यह समस्या उन लोगों में भी ज़्यादा देखी जाती है जो गुर्दे की बीमारी से पीड़ित होते हैं। कई बार सही खानपान के अभाव की वजह से भी लोग इस समस्या का शिकार होते हैं।

स्वस्थ शरीर के समान स्वस्थ नाखून भी बहुत ज़रूरी हैं। महिलाएं अपने नाखून को हमेशा सजाकर रखती हैं और वे चाहती हैं कि उनके नाखून बड़े और खूबसूरत रहें और उनके अपनों को आकर्षित करते रहें। सुनने में नाखून एक साधारण सी चीज लगती है पर इनकी भी केयर बहुत ज़रूरी होती है। मनुष्य के नाखून फाइबर प्रोटीन से बने होते हैं और हल्का गुलाबी रंग लिए अर्धपारदर्शी तथा कठोर होते हैं।

पर मिनरल्स और विटामिन्स की कमी की वजह से ये कई बार मुलायम और टूटने लगते हैं। नाखूनों को लेकर लोगों में कई तरह की समस्याएं पाई जाती हैं। और उन्हीं में से एक समस्या है टेरी नेल जिसमे लोगों के उंगली के नाखून और पैर के अंगूठे के नाखून सफेद हो जाते हैं।

नाखून के रोग – कारण (Causes of terry’s nail – nakhun ke rog)

  • गुर्दे की खराबी
  • लीवर की खराबी
  • ह्रदय रोग
  • डायबिटीज
  • माल न्यूट्रीशन (पोषण की कमी)
  • थाइरोइड की परेशानी

बुढ़ापे के कारण में भी यह समस्या देखी जाती है।

लक्षण (Symptoms)

नाखूनों के दाग के घरेलू उपचार

  • देखकर व्यक्ति के बूढ़े होने का आभास होता है।
  • नाखूनों के आसपास रिंकल बनने लगते हैं।
  • नाखूनों की चमक में असमान वृद्धि होती हैं।
  • त्वचा की परत की चमक में असमान वृद्धि होती है।

नाखूनों की देखभाल, इन लक्षणों के अलावा इस प्रकार की समस्या को पहचानने के लिए डॉक्टरी परीक्षण ज़रूरी होता है।

निदान (Treatment for terry’s nail)

इससे बचने के लिए हमेशा अपने नाखूनों को साफ़ और सूखा रखें। नाखून की देखभाल, कुछ लोगों अक्सर नाखून चबाने की आदत होती है पर इस तरह की आदत से बचना चाहिये। विटामिन ई से भरपूर भोजन करें। अगर आप इन सब तरीकों को अपनाते हैं तो, आमतौर पर ये समस्या नहीं होती है, पर इस सब के बाद भी अगर आप को इस तरह की परेशानी हो तो किसी अच्छे और स्पेशलिस्ट डॉक्टर को संपर्क करना ही बेहतर होता है।

बादाम (Almond)

बादा से आपको पर्याप्त मात्रा में विटामिन इ (Vitamin E) प्राप्त होता है। आप या तो किशमिश के साथ ताज़े बादामों का सेवन कर सकते हैं, या फिर सुबह जल्दी उठकर बादाम का पेस्ट बनाकर इसे अपने नाखूनों पर लगाकर इस समस्या से दूर रह सकते हैं।

पालक (Spinach)

पालक उन हरी सब्जियों में से एक है जिसके कई सारे स्वास्थ्य गुण होते हैं। इसमें काफी मात्रा में विटामिन इ भी पाया जाता है जो आपके शरीर से फ्री रेडिकल्स (free radicals) को पूरी तरह साफ़ कर देता है एवं अन्य बीमारियों को पैदा होने से भी रोकता है।

नाज़ुक / आसानी से टूटने वाले नाखूनों के लिये घरेलू उपाय

हरी सरसों (Mustard greens)

आप इसका सेवन अपन भोजन के साथ कर सकते हैं और इसे अपनी सब्जियों में भी डाल सकते हैं। शोधकर्ताओं ने पाया है कि इसमें टेरी नेल की समस्या को ठीक करने के बेहतरीन गुण होते हैं।

टेरी नेल की जांच (Diagnosis of terry’s nail)

आपको यह कैसे पता चलेगा कि अप टेरी नेल के समस्या से जूझ रहे हैं ? इसके लक्षणों से आपको थोड़ा बहुत पता चल सकता है। पर इसके लक्षणों से भी आपको पूरी बात का ज्ञान नहीं होगा। आपको किसी डॉक्टर के पास जाकर इस समस्या की पूरी जांच करवानी चाहिए। इस समस्या के पैदा होने का मुख्य कारण नाखूनों में जोड़ने वाली कोशिकाओं का बढ़ जाना है। इसके अलावा नाखूनों में वैस्कुलरिटी (vascularity) का काफी कम हो जाना भी इसका कारण होता है। एक बार जब डॉक्टर ने यह पता लगा लिया कि आपको टेरी नेल की समस्या है, तो अगला कदम होगा इसका उपचार।

टेरी नेल के उपचार / घरेलू नुस्खे (Treatment / Home remedy of terry’s nail)

साफ़ सुथरे रहें (Keep clean)

कुछ गरेलू नुस्खे टेरी नेल से दूर रहने के काफी अच्छे बचाव उपाय सिद्ध होते हैं। एक बार घर वापस आने पर अपने नाखूनों को काफी साफ़ सुथरा रखने की चेष्टा करें। इसके लिए सिर्फ अपने हाथों और नाखूनों को अच्छे से धोएं। आप एक हैण्ड वाश (hand wash) की मदद से अच्छे से अपने हाथों को धो सकते हैं। इसकी मदद से अपने नाखूनों के अन्दर की गन्दगी को भी साफ़ करें। इसके बाद इसे पानी से धो लें जिससे साबुन का कोई भी अंश अन्दर ना रह जाए।

इसे सूखा रखें (Keep it dry)

हाथ तथा नाखूनों की देखभाल (मैनीक्योर) के लिए सर्वोत्तम सुझाव

टेरी नेल से बचने के लिए अपने नाखूनों को सूखा रखना भी काफी आवश्यक है। साबुन और पानी से नाखूनों को साफ़ करने के बाद एक तौलिया लें और इसमें अतिरिक्त पानी को सोख लें। अपने हाथों को बार बार तौलिये के अन्दर डालें जिससे कि ये पूरी तरह सूख जाए। यह आपके हाथों को सूखा रखने का काफी अच्छा तरीका है।

रसायनों से दूर रहें (No chemical exposure)

अगर आप रसायनों के संपर्क में आते हैं तो आपके टेरी नेल की समस्या से ग्रस्त होने की संभावना काफी बढ़ जाती है। इसके लिए सबसे अच्छा यही होगा कि आप रसायनों से दूर रहें। रसायनों से अपने हाथों को दूर रखने भर से ही आप देखेंगे कि आपकी टेरी नेल की समस्या किस तरह दूर हो रही है।

हाथों को नमी प्रदान करें (Moisturizing hands)

इस बात का ध्यान रखना आपके लिए काफी ज़रूरी है कि आपके नाखूनों को पर्याप्त नमी प्राप्त हो रही है या नहीं। कई बार नाखूनों के शुष्क पड़ जाने की वजह से भी टेरी नेल की समस्या उत्पन्न हो जाती है। अपने हाथों पर एक ऐसी क्रीम (cream) लगाएं जिससे आपके नाखूनों को भी नमी प्राप्त हो। इससे आगे जाकर आपको टेरी नेल की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।