Disadvantages of more sugar in diet – ज्यादा चीनी खाने के नुक्सान

शक्कर दो प्रकार की  होती है: कोम्प्लिकेटेड(जटिल) और सिम्पल(सादी) शक्कर। कोम्प्लिकेटेड शककर वह है जो शरीर में आसानी से घुलती नहीं है। यह टूटने में काफी वक़्त लगाती है और आपकी सेहत के लिए अच्छी होती है। यह ग्लूकोस से बनती है जो हमें फल और अनाज से मिलता है।

वही दूसरी ओर सिम्पल शक्कर, आपके शरीर में बहुत जल्दी घुल के कई लाभ और हानि प्रदान करती है। कम चीनी खाने के फ़ायदे, यह आपके घर में डाइनिंग टेबल पर मिलती है और इसी के साथ पुडिंग में भी उपयोग में ली जाती है। सिम्पल शक्कर के अधिक सेवन से कई तरह कि शारीरिक तकलीफे हो सकती है।

प्रतिरक्षा प्रणाली (Immunity system health)

अधिक मात्रा में सिम्पल शक्कर खाने से 5 घंटे के भीतर आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को हानि पहुँचती है। यह आपके शरीर की अंदरुनी शक्ति को कम कर देती है और रक्त में मौजूद सफ़ेद सेल्स को कम करती है। वही कोम्प्लिकेटेड शक्कर इस तरह के साइड इफेक्ट्स (दुष्प्रभाव)नहीं देती।

चीनी के नुकसान – ताकत (Energy)

रागी या बाजरा के स्वास्थ्य गुण

कई लोगों को शक्कर खाने के बाद बदन में एक स्फूर्ति मिलती है क्योकि वह शरीर में जल्दी घुल जाती है। किन्तु ऐसा हर एक के साथ नहीं होता। कई लोगों के शरीर में ऐसा करने पर या तो शक्कर बढ़ जाती है या ज़रूरत से ज़्यादा घट जाती है। इस तरह की परेशानी स्वस्थ को ख़राब कर हानि पहुंचा सकती है।

रक्त संचार (Blood Pressure – Cheeni khane ke nuksan)

यूनाइटेड स्टेट्स द्वारा कार्डिओ वैस्कुलर सिस्टम के तहत यह कहा गया है कि अगर ज़रूरत से ज़्यादा नमक या शक्कर का सेवन किया जाता हो तो आपके रक्त संचार का बढ़ना संभव है। इस तरीके के जवाब फ्रूक्टोस जैसी शक्कर के लिए है जो आपके डाइनिंग टेबल पर उपलबध होती है। शक्कर के कारण बढे हुए रक्त संचार को पुरुषो में खास पाया जाता है।

ओरल (मुँह ) स्वास्थ (Oral health)

इसमें कोई दोहमत नहीं कि अधिक शक्कर से मुँह के स्वास्थ पर कोई असर न पड़े। यूनाइटेड स्टेट्स के डेंटिस्ट्री कनेक्शन द्वारा यह माना गया है कि शक्कर अगर आपके प्लाक के साथ मिल जाता है तो इससे एसिडिटी(गैस) की समस्या बढ़ जाती है। एडीए ने यह कहा है कि अगर आप मिठाई या शक्कर का सेवन करते है तो दाँतों को दिन में दो बार ब्रश करना चाहिए। इससे मुँह की परेशानी नहीं होती।

चीनी के नुकसान – डायबिटीज (मधुमेह)  (Diabetes)

यूनाइटेड स्टेट्स डायटिक कनेक्शन के तहत केवल शक्कर ही मधुमेह का कारण नहीं है। किन्तु इसके अलावा अधिक शक्कर के साथ अनियमित भोजन और तरीके भी इसका कारण हो सकते है। ज़रूरत से ज़्यादा खाना जिसमे अधिक कैलोरीज हो या वज़न का बढ़ जाना भी मधुमेह के कारण में शामिल है।

सूजन का बढ़ना (Promotes inflammation)

अच्छा खाना जो आपके मस्तिष्क शक्ति को बढ़ाये

यह एक तरह से प्रतिरक्षा की प्रतिक्रिया है जो हमेशा ख़राब नहीं होती। यह आपका वज़न बढ़ने के कारण हो सकते है। ज़्यादा मात्रा में शक्कर खाने से शरीर में सूजन बढ़ सकती है जिससे बीमारियां और बुढ़ापा आने लगता है।

मोटापा (Obesity)

कम चीनी खाने के लाभ, जिन खाने की चीज़ो में शक्कर होती है वह फैट्स(वसा) और कैलोरीज से भी भरपूर होते है। इससे वज़न बढ़ने की सम्भावना रहती है। तथा मोटापा हो सकता है। शक्कर मोटापा और वज़न के बढ़ने से जुडी हुई है।

नुस्खे (Tips – kam cheeni khane ke fayde)

खाने की चीज़ो में पोषक तत्वों की मात्रा को परखे जिसमे कम शक्कर हो।

loading...