How to grow taller for boys at 19 – 19 वर्ष की उम्र में बढ़ाएँ कद, कैसे बढ़ाएँ लड़कों की लंबाई?

हमारे शारीरिक सौष्ठव के लिए कद का बहुत महत्व होता है इसके साथ ही अन्य मानकों जैसे आत्मविश्वास के निर्माण में, कैरियर में उन्नति और आकर्षक दिखने के लिए महत्वपूर्ण होता है। लड़के हो या लड़की, दोनों में ही औसत से ज़्यादा कद को एक अतिरिक्त खास गुण के रूप में देखा जाता है। अच्छे कद वाले लोगों की शारीरिक लंबाई का प्रभाव उनके सफल जीवन और रिश्तों पर भी पड़ता है।

अगर आप एक लड़के हैं और आपकी उम्र 19 है और आप अपनी इस उम्र में अपने कद को लेकर परेशान हैं तो अब आपको ज़्यादा चिंता करने की आवश्यकता नहीं। आपकी लंबाई और भी ज़्यादा हो सकती है। लड़कों की लंबाई सामान्यतः 22 साल की उम्र तक बढ़ती है और अगर आपकी उम्र महज़ 19 साल ही है तो आपके पास अपने कद को बढ़ाने के लिए पर्याप्त समय है।

और इसके अलावा आप 19 साल के हैं और चिंतित हैं क्योंकि आपकी लंबाई परिवार के बाकी सदस्यों की अपेकषा कम है तो भी आपको चिंता करने की ज़रूरत नहीं आप अभी भी कुछ इंच और बढ़ सकते हैं, बस ज़रूरत है अपने कद के बारे में ज़्यादा सचेत होने की। सही उपायों के पालन से आप भी एक लंबा कद पा सकते हैं। इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे कि, कैसे 19 की उम्र में भी सही प्रयासों से एक आदर्श कद पाया जा सकता है।

कद बढ़ाने का रहस्य (The secret of growth)

जब कोई बच्चा जन्म लेता है तो उसकी शारीरिक लंबाई महज़ 18 से 22 इंच होती है। हमरे शरीर में पैरों कि हड्डी जिसका नाम फ़ीमर बोन (femur bone) है और उसके साथ टिबिया (tibia) व फिब्युला (fibula) हड्डियाँ हमारे कद को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। इन हड्डियों में ग्रोथ प्लेट होते हैं जो इन हड्डियों को बढ्ने के लिए जगह उपलब्ध कराते हैं।  उम्र बढ़ने के साथ ये प्लेट्स अपनी अधिकतम लंबाई पर पहुँचकर बंद हो जाती है। लड़कों में यह प्रक्रिया 22 साल की उम्र तक होती है अगर आप 19 साल के हैं तो अभी आपके पास अपने कद को बढ़ाने के लिए पर्याप्त समय है।

मानव शरीर में ग्रोथ हॉर्मोन शरीर की लंबाई बढ़ाने के लिए उत्तरदायी होते हैं।  हमारी हड्डियों और लचीली हड्डियों को यही नियंत्रित और संचालित करने का कम करते हैं। हमारे शरीर की पिट्यूटरी ग्रंथि से ह्यूमन ग्रोथ हॉर्मोन स्त्रावित होता है और अगर इस ग्रंथि में किसी भी तरह की कोई समस्या आई तो इसका प्रभाव लड़के या लड़की दोनों की ही लंबाई पर पड़ता है।

अगर आप 19 की उम्र में अपना कद बढ़ाना चाहते हैं तो आपको पहले यह सुनिश्चित कर लेना चाहिए की आप शारीरिक रूप से बिलकुल स्वस्थ हैं और आपको किसी प्रकार की कोई शारीरिक समस्या नहीं है। उच्च प्रोटीनयुक्त आहार, सही नींद और नियमित एक्सरसाइज़ के साथ आप अपना कद 19 वर्ष की उम्र के बाद भी बढ़ा सकते हैं।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,326 other subscribers

19 की उम्र में कद बढ़ाने के लिए आहार (Diet for growing taller at 19)

शरीर की लंबाई को बढ़ाने के लिए उच्च पोषक तत्वों से भरपूर भोजन बहुत आवश्यक होता है। आप अपने रोज़ के भोजन में जो भी ले रहे हैं उनमें पर्याप्त मात्रा में सभी ज़रूरी तत्व मौजूद होने चाहिए। सही मात्रा में कैलोरी, प्रोटीन, विटामिन और मिनरल्स का होना बहुत ज़रूरी हैं।

प्रोटीन (Protein)

प्रोटीन स्वस्थ शरीर की आधारशिला रखने का कार्य करते हैं। अगर आप 19 की उम्र में अपना कद बढ़ाना चाहते हैं तो आपको रोजाना एक या दोनों वक़्त के भोजन में उच्च प्रोटीन जैसे अंडे, मांस, बीन्स, सोय पनीर आदि का सेवन करना चाहिए।

कैल्शियम (Calcium)

हड्डियों में मुख्य रूप से पाया जाने वाला तत्व कैल्शियम होता है जो हड्डियों के विकास में सहायक होता है और यह हड्डियों को मजबूती भी देता है और ओस्टोपोरोसिस जैसी बिमारी से बचाता है। इसके लिए हरी सब्जियों तथा डेयरी उत्पादों का सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है।

विटामिन D (Vitamin D)

कैल्शियम के अवशोषण के लिए विटामिन डी का सेवन करना बहुत ही ज़रूरी होता है। यह हड्डियों और मांसपेशियों के विकास में सहायक होता है। कई बार हड्डियों के विकास में कुछ विकार उत्पन्न हो जाते हैं, इसके सेवन से हड्डियों से संबन्धित समस्याओं से दूर रहा जा सकता है। मछली और मशरूम के सेवन के साथ नियमित रूप से धूप में बैठने से से विटामिन D की उपयुक्त मात्रा शरीर को प्राप्त हो जाती है। अगर आप मछली का सेवन नहीं करते हैं तो इसकी जगह फिश सप्लिमेंट्स का प्रयोग कर सकते हैं। अगर आपने ज़रूरी मात्रा में विटामिन डी का सेवन नहीं किया तो आपको कैल्शियम की कमी का भी सामना करना पड़ सकता है। यह मुख्य रूप से कुछ मछलियों जैसे सोलमन, टूना और मेकरेल आदि में भी पाया जाता है। डेयरी उत्पादों के अलावा अंडे, पनीर, दलिया और संतरे के रस में विटामिन डी की भरपूर मात्रा पाई जाती है।

विटामिन ए (Vitamin A)

विटामिन ए शरीर में नई कोशिकाओं का निर्माण कर हड्डियों के विकास में सहायता देता है। साथ ही हड्डियों में कैल्शियम को सुरक्षित रखकर कद को बढ़ाने में मदद भी करता है। अंडे, मांस और डेयरी उत्पादों में भी उच्च मात्रा में विटामिन ए पाया जाता है। मछ्ली के तेल और कुछ खास सब्जियों जैसे गाजर, शकरकंद, ब्रोकली, गोभी और सलाद के पत्तों में भरपूर मात्रा में विटामिन ए मौजूद होता है।

loading...