Hindi tips for bloodshot or red eyes – रक्तमय और लाल आँखों से बचाव के लिए कुछ जरुरी सुझाव

रक्तमय और लाल आँखे क्या है? (Bloodshot or Red Eyes)

आपकी आँखे ऐसी कई चीज़े है जिनके द्वारा लाल हो सकती है जैसे नींद की कमी के कारण, धुएंयुक्त वातावरण से, क्लोरीनयुक्त स्विमिंग पूल में तैराकी से इन सभी चीजों से आपकी आँखे लाल हो सकती है। आँखों के लाल होने का वास्तविक कारण है आँखों के सफ़ेद भाग में फैलाव होना जिससे धमनियों के आकार में भी परिवर्तन आता है और आपकी आंखे लाल हो जाती है।

लाल आँखों के कारण – मुख्य कारण क्या है? (What are the main leads to?)

वातावरण (Pollution)

वातावरण में हवाई मलबे, धुआं, निकास गैस और रासायनिक पदार्थ सभी के कारण आँखों में जलन हो सकती है जो उन्हें लाल कर सकती है।

तैराकी (Swimming)

आँखों की सुरक्षा के आसान और प्राकृतिक तरीके

स्विमिंग पूल में पाया जाने वाले क्लोरिन से आपकी आँखों में विशेष रूप से जलन हो जाती है, जिससे आँखे लाल हो जाती है । इसके अलावा कंप्यूटर स्क्रीन में लम्बे समय तक काम करने से आँखों में  तनाव में आता है। जिससे अक्सर आँखे लाल हो जाती है।

नींद की कमी होना (Lack regarding sleep)

रात में लगातार कम करते रहने से आपकी नींद पूरी नही हो पाती और आँखे लाल दिखने लगती है।

आँख का लाल होना – लक्षण क्या है? (What are the symptoms? – Aankhon ka lal hona)

आपकी आँखों का वास्तविक सफ़ेद हिस्सा सामान्य से बड़ा दिखने लगता है और छोटी धमनिया लाल हो जाती है। आपकी आँखों में सूजन महसूस होने लगती है। इसे ठन्डे पानी से कम किया जा सकता है लेकिन कोई असुविधा नही होनी चाहिए। आमतौर पर अधिकांश दोनों आँखों  पर प्रभाव पड़ता है तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए, जब:

  • जलन होती है
  • खुजली
  • सूजी हुई आँखे
  • प्रकाश की रोशनी से असहनीयता
  • पलकों में सूजन
  • बाहरी तत्व की झनझनाहट
  • पलको का गिरना
  • आँखों की भोहो का फूल जाना
  • आँखों के आसपास की त्वचा पर जलन होना

इस स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए? (Exactly what do I do over it?)

आँखों के लाल होने की समस्या को ठीक करने के उपाय

रक्तमय द्रष्टि के कारण किसी भी काम को करते समय आपको आँखों में जलन होती है। ( हमेशा उत्पाद के साथ दिए हुए जानकारी और चेतावनी को ध्यान से पड़ना चाहिए) अगर आपकी आँखों में सम्पूर्णता की कमी है लेकिन साथ ही अगर आँखों में थोड़ी पीड़ा होती है तो आपको आँखों की रोशनी का चेकअप कराना चाहिए। इससे आपकी आँखों की रोशनी फिर से सामान्य हो जायगी।

लाल आँखों से छुटकारा – उत्तम सुझाव (Best Tips)

लगातार देर रात तक जागने की बजाय पर्याप्त नींद लेने की कोशिश करे जब आप ज्यादा लम्बी यात्रा के दौरान ड्राइविंग कर रहे हो। तब हर तीन घंटे में एक ब्रेक लेने की कोशिश करे और तैराकी करते समय चश्मा लगाये जिससे की पानी का क्लोरिन आपकी आँखों में न जाये।

नेत्र शोथ – कुछ असरदार और सुरक्षित समाधान (Some safe solutions that is effective)

लाल आँखों के इलाज के लिए हवा की नमी को बरक़रार रखने वाले उपकरण का इस्तेमाल करे जब आप एयर कंडिशनर और रूम हीटर के वातावरण के संपर्क में आते है तो आपकी आँखे सुख जाती है। इन उपकरणों के कारण कमरे की नमी चली जाती है और आपकी आँखों में जलन होने लगती है। जब आप हवा की नमी को बरक़रार रखने वाले उपकरण का इस्तेमाल करते है तो आँखों में सूखापन नही आता और वे किसी भी समय लाल नही पड़ती इस उपकरण से आपकी आँखों की नमी और स्वस्थता बनी रहेंगी।

लगातार आँखों को झपकना उनके सूखेपन और लालपन को दूर करेगा (Blinking helps reducing dryness and redness)

आँख से पानी आना, आँखों को आप लगातार झपकते रहिये जिससे वे लाल नही होगी। जब आप कंप्यूटर पर देर तक काम करते है तो इससे भी आपकी आँखों में सूखापन आता है। लेकिन अगर आप आँखों को लगातार झपकेंगे तो आँखों की नमी वापस आ जायगी।

आँखों के संक्रमण के प्रकार और उपचार

आंखों की लालिमा से छुटकारा पाने के लिए प्राकृतिक आंसू और आँखों का ड्राप (Natural tear and soothing eye wash)

यह आपकी आँखों को चिकनाहट प्रदान करेगा यह आसानी से किसी भी दुकान पर उपलब्ध है और ज्यादा महंगा भी नही है। इसका उपयोग आप लम्बे समय तक आँखों को लाल और फूलने से दूर रख सकेंगे। आप आई ड्राप का भी इस्तेमाल कर सकते है। जब आपको आँखों में थकावट महसूस हो रही हो इससे आँखों को आराम एवं ताजगी मिलेगी।

एलर्जीक वस्तुओ से दूर रहने का प्रयास किया जाना चाहिए (Allergic objects must be considered)

जिन वस्तुओ और पशुओ से आपको एलर्जी है उनसे दूर रहे डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ऐन्टीहिस्टमीन का सेवन करे। इससे आपकी आँखो में जब एलर्जी की वजह से लालपन आ जाता है, उससे राहत मिलेगी।

मेकअप हटाया जाना चाहिए (Makeup should be removed)

रात को सोने से पहले चेहरे को अच्छे से धोये जिससे सारा मेकअप निकल जाये काजल और मस्कारे को हटाने के लिए विशेष उत्पाद का उपयोग करे। दिन के अंत में आँखों की सफाई बेहद जरुरी होती है।

त्वचा की देखभल करने के लिए जिन उत्पादों का हम इस्तेमाल करते है वह कभी कभी आँखों के सवेंदनशील क्षेत्रो को नुकसान पहुंचती है इसलिए उनकी जाँच जरुरी है।

आपके शरीर की त्वचा सवेंदनशील होती है लेकिन आपके आँखों के आसपास की त्वचा ज्यादा सवेंदनशील होती है। इसलिए त्वचा पर कोई भी नयी क्रीम का प्रयोग आपके चेहरे पर इस्तेमाल करने से पहले उसे आपकी हाथो की हथेली पर लगा कर देखे, ऐसा करने से  आपकी आँखे लाल और फूलेगी नही।

सिगरेट का धुआं या प्रदूषण (Cigarette smoke or pollution)

क्या उम्र और लम्बाई के साथ आंखों की रौशनी भी बदलती है?

किसी भी तरह धूम्रपान और प्रदुषण से आँखों के अन्दर जलन पैदा हो सकती है। जिससे आपकी आँखे लाल हो सकती है। जो लोग धूम्रपान नहीं करते उन्हें उन जगह से दूर रहना चाहिए जहाँ दुसरे लोग  धूम्रपान कर रहे हैं।

सूरज की रोशनी से सुरक्षा (Protection from sun)

आँखों को सूरज की रोशनी से दूर रखे धूप का चश्मा आँखों की सुरक्षा के लिए बेहतर विकल्प होता है।

अपनी आंखों को बार बार साफ़ पानी से धोएं (Wash your eyes with clean water frequently)

अगर आप प्रभावी रूप से अपनी आँखों में आए लालपन को कम करना चाहते हैं तो अपनी आँखों को साफ़ और ठन्डे पानी से बार बार धोएं। पानी से आँखों को धोने से ना सिर्फ हर प्रकार के जीवाणु और कीटाणु आपकी आँखों से दूर होंगे, बल्कि इससे आपकी आँखों को काफी आराम भी प्राप्त होगा और वे इन लक्षणों से लड़ने में प्रभावी साबित होंगी।

अपने हाथों को आँखों से दूर रखें (Keep your hands away from your eyes)

हमारे हाथ हमारी आँखों में संक्रमण का संचार करने में सबसे बड़ी और महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हम कई बार अपने गंदे और कीटाणुओं से भरे हाथों से अपनी आँखों को रगड़ देते हैं, जिससे गन्दगी और विभिन्न प्रकार के जीवाणु आसानी से हमारी आँखों में प्रवेश कर जाते हैं। अतः अगर आप आँखों के लाल होने की समस्या से पीड़ित हैं तो इस बात को सुनिश्चित करें कि आपके हाथ आपकी आँखों के संपर्क में बिलकुल ना आने पाएं। अगर आपको अपनी आँखों को रगड़ने या खुजलाने की ज़रुरत महसूस हो रही है तो अपने हाथों को धो लें। एक नर्म साफ़ सूती का कपड़ा लें और इस प्रक्रिया के लिए इसका प्रयोग करें।

बालों की देखभाल के उत्पादों से परहेज करें (Discard your hair care products)

हेयर कलर, हेयर स्प्रे (Hair colors, hair sprays), बालों के तेल और बालों के जेल (gel) का प्रयोग भी तब आपकी आँखों को लाल स्वरुप दे सकता है, जब ये आप पर जंच ना रहा हो। अतः अगर आपको हाल के दिनों से ही आँखों की समस्या होनी शुरू हुई है तो कुछ दिनों के लिए सभी बालों की देखभाल से जुड़े उत्पादों का प्रयोग बंद कर दें। अगर इनमें से कोई उत्पाद आपकी लाल आँखों का कारण है तो आपको एक हफ्ते के अन्दर ही परिणाम दिखने शुरू हो जाएंगे।

सूजी हुई आँखें ठीक करने के घरेलू नुस्खे

इस बात का ध्यान रखें कि आपके कमरे का एयर कंडीशनर साफ़ सुथरा रहे (Make sure that the air conditioner in your room is well maintained)

क्या आप जानते हैं कि अगर एयर कंडीशनर का एक निश्चित समय तक प्रयोग ना किया जाए तो इसमें कई प्रकार के कीटाणु, जीवाणु और हानिकारक उत्पाद जमा हो जाते हैं। ऐसा खासकर सर्दियों के दिनों में होता है, क्योंकि इस समय हम एयर कंडीशनर का प्रयोग नहीं करते। अतः गर्मियां आने पर जब आप इन्हें दोबारा शुरू करना चाहें तो पहले इन्हें अच्छे से साफ़ कर लें। ऐसा नहीं करने पर एयर कंडीशनर में जमी धूल और गन्दगी संक्रमण का कारण बन सकती है। इन्हीं संक्रमणों में से एक आँखों का लाल होना भी हो सकता है। अतः अगर आप एयर कंडीशनर वाले कमरे में काफी समय गुजारते हैं तो इस बात को सुनिश्चित करें कि यह साफ़ सुथरा अवश्य हो।

अपनी आँखों को स्क्रीन से आराम प्रदान करें (Give your eyes a break from screens)

हममें से शायद ही कोई ऐसा होगा, जो कि लैपटॉप, मोबाइल और टीवी (Laptop, mobiles and television) के सामने बैठकर अपने दिन का अधिकतर वक्त नहीं गुजारता होगा। इन स्क्रीन्स की तरफ काफी देर तक बिना किसी अंतराल के देखते रहने से आँखों में चिडचिडापन, जलन और कई प्रकार की अन्य समस्याएं पैदा हो जाती हैं। अगर आपके लैपटॉप या मोबाइल की रोशनी ज्यादा करके रखी गयी हो तो इससे भी आपकी आँखों को काफी नुकसान पहुंचता है। अतः अगर आप आँखों के लाल होने की समस्या से गुज़र रहे हैं तो अपनी आँखों को इन माध्यमों से दूर रखें और थोडा सा आराम प्रदान करें। अगर आप पूरी तरह से आँखों को आराम प्रदान नहीं कर सकते तो इनके सामने पहले से कम वक़्त गुज़ारने की चेष्टा करें, या फिर बीच बीच में अंतराल लेकर या इनकी स्क्रीन पर सुरक्षा कवच लगाकर आप अपनी आँखों को बचा सकते हैं।

अगर आपको 2से 3दिनों के भीतर कोई भी सुधार नज़र नहीं आता या फिर खुजली और जलन समय के साथ बढ़ती ही चली जा रही है तो तुरंत ही किसी अच्छे डॉक्टर से संपर्क करके अपना सही उपचार करवाएं।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday