Skin and hair care tips in Hindi for rainy season – बरसात के मौसम के लिए त्वचा और बालों की देखभाल के नुस्खे

बरसात के मौसम के आने से लोगों को प्रचंड गर्मी से काफी राहत मिलती है। हर मनुष्य मानसून के आने से प्रसन्न होता है क्योंकि इससे तापमान में गिरावट आती है। फिर भी लोग बरसात के मौसम में अपनी त्वचा को लेकर काफी चिंतित रहते हैं। आप इस मौसम में त्वचा के संक्रमणों से बचने के लिए कुछ बचाव के उपाय कर सकते हैं।

त्वचा की समस्याओं के साथ बालों का गिरना भी बरसात के मौसम की एक आम समस्या है। आपको बरसात के मौसम में होने वाली तमाम समस्याओं के निपटारे के लिए अपने बालों और त्वचा का ख़ास ख्याल रखना चाहिए। त्वचा की देखभाल कैसे करे :-

स्किन केयर टिप्स – बरसात के मौसम में होने वाली समस्याएं (Problems during rainy season – how to get glowing skin in hindi)

इस मौसम में विभिन्न प्रकार की समस्याएं होती हैं। इनमें से कुछ नीचे दी गयी हैं :-

1. बालों का गिरना

2. लँगड़ाना

3. चिकनाई

4. त्वचा का संक्रमण

5. त्वचा पर बैक्टीरिया का प्रभाव आदि

महिलाओं के लिए शीतकाल में त्वचा की देखभाल के टिप्स

क्योंकि बरसात का मौसम हवा में अतिरिक्त नमी ले आता है, अतः इस समय आपकी त्वचा और बाल बेजान, उलझे और खराब हो जाते हैं। अतः यह काफी आवस्यक है कि आप बरसात में बालों और त्वचा की देखभाल करें।

बालों की देखभाल के नुस्खे – सुरक्षा के उपाय (Tips for hair protection)

1. अगर आप अपने बालों को टूटने से बचाना चाहते हैं तो बालों में ज़्यादा केमिकल्स का प्रयोग न करें। अपने बालों को किसी सौम्य शैम्पू से धोएं।

2. बरसात के समय अपने बालों और त्वचा को पोषण देने के लिए प्रोटीन और विटामिन युक्त भोजन करें।अपने भोजन में अधिक मात्रा में फल और सब्ज़ियाँ शामिल करें।

3. बालों की देखभाल कैसे करें, रोशन अपने बाल धोएं जिससे बालों में ज़्यादा नमी और चिपचिपेपन से छुटकारा मिल सके।

4. बालों और त्वचा के स्वास्थ्य के लिए रोज़ाना काफी मात्रा में पानी पियें।

5. बालों को बेजान होने से बचाने के लिए अच्छे ब्रांड का कंडीशनर इस्तेमाल करें।

स्किन की देखभाल – त्वचा को चमकदार बनाए रखने के उपाय (Tips of keeping your skin glowing – skin ki dekhbhal)

1. मानसून के समय हफ्ते में कम से कम दो बार त्वचा पर स्क्रब का प्रयोग करें। इससे त्वचा की सारी मृत कोशिकाएं निकल जाएंगी और आपकी त्वचा साफ़ सुथरी हो जाएगी।

2. ऐसे मॉइस्चराइज़र्स से परहेज करें जो कि काफी भारी होते हैं और जो तेल आधारित होते हैं। किसी हलके मॉइस्चराइज़र का प्रयोग करें जिससे आपकी त्वचा स्वस्थ रहे।

3. क्रीम आधारित मेकअप करने से बचें। इसके बदले कैलामाइन लोशन आधारित मेकअप आपके लिए अच्छा रहेगा आप बरसात के मौसम में कैलामाइन लोशन के ऊपर हल्का चमकरहित कॉम्पैक्ट लगा सकती हैं।

4. फलों के अंश युक्त फेस वाश का इस्तेमाल करके अपनी त्वचा को तरोताज़ा रखें। क्योंकि बरसात के मौसम में त्वचा में नमी जम जाती है, अतः फलों के अंश वाले फेस वाश से रोज़ाना मुंह धोने से आपकी त्वचा को अतिरिक्त तेल और अन्य अशुद्धियों से छुटकारा मिलेगा।

5. क्लीन्ज़र के साथ त्वचा को चमक देने वाले टोनर का भी इस्तेमाल करें। इससे त्वचा के रोमछिद्र बंद होंगे और त्वचा का ph स्तर सही रहेगा।

सुन्दर और गोरी के लिए आयुर्वेदिक नुस्खे

बरसात के मौसम के दौरान हम पानी के प्रदूषण के बारे में सुनते हैं। बच्चे पानी से होने वाली बीमारियों के सबसे ज़्यादा शिकार होते हैं। इस मौसम में दस्त तथा आँतों के संक्रमण जैसी बीमारियां हो सकती है। इस मौसम में नल के पानी की बजाय उबला हुआ पानी पियें।

तैलीय त्वचा पर प्रभाव (Effect on oily skin)

बरसात के मौसम के साथ आने वाली नमी तैलीय त्वचा के लिए अच्छी नहीं होती।क्लीन्ज़र का रोज़ाना दो बार प्रयोग करके अतिरिक्त तेल को चेहरे से हटाएं। अपने चेहरे को ज़्यादा क्योंकि इससे भी अतिरिक्त तेल की सृष्टि होती है। ठन्डे पानी की जगह गुनगुने पानी से अपना मुंह धोएं।

सूखी त्वचा का उपचार (Treating dry skin)

अगर आपकी त्वचा सूखी है तो बरसात के मौसम में आपकी त्वचा को नुकसान ही होगा। इस मौसम में त्वचा को ठीक करने वाले विटामिन्स की गैर मौजूदगी में आपकी त्वचा सूखी ही रहेगी। इस मौसम में अपनी त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए क्रीम आधारित क्लीन्ज़र का प्रयोग करें।

सूखी और तैलीय त्वचा का मिश्रण (Combination skin)

यह एक अजीब सी त्वचा होती है जिसमें किसी व्यक्ति का बरसात का मौसम में गालों के अलावा पूरा चेहरा तैलीय रहता है। ऐसी त्वचा वाले लोग सौम्य क्लीन्ज़र का इस्तेमाल करें। रोज़ाना त्वचा को मॉइस्चराइस करना भी अति आवश्यक है।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday