Tips, ideas to get beautiful breasts – खूबसूरत ब्रेस्ट / स्तन प्राप्त करने के टिप्स

स्तनों महिलाओं के स्त्री होने का प्रतीक होते हैं, पर किसी वजह से इन्हें हमेशा ही नज़रअंदाज़ किया जाता रहा है। शरीर के इन ख़ास अंगों की देखभाल करना काफी आवश्यक है, क्योंकि ये आपके मातृत्व का भी प्रतीक चिन्ह होते हैं। नीचे खूबसूरत वक्ष प्राप्त करने के कुछ तरीकों के बारे में बताया जा रहा है।

मानव को दो भागों में विभक्त किया गया है – पुरुष और स्त्री। एक पुरुष का व्यक्तित्व काफी सख्त एवं मर्दाना होता है। इसी तरह महिलाओं के व्यक्तित्व में भी ऐसी कुछ खूबियां होती हैं, जो उन्हें पुरुषों से अलग खड़ा करती हैं। स्तन भी महिलाओं के शरीर का एक ऐसा अंग है, जो उन्हें पुरुषों से विभाजित करता है।

पुरुषों में सांवला और अच्छे व्यक्तित्व का धनी होना मुख्य गुण माना जाता है, वहीं महिलाओं के लिए गोरी चिट्टी और खूबसूरत होना सुंदरता का प्रतीक माना जाता है। हर एक महिला अपने लिए सुन्दर स्तन चाहती है, क्योंकि उसके साथियों के स्तन भी आकर्षक एवं खूबसूरत होते हैं।

आपके स्तन ना तो ज़्यादा झूले हुए होने चाहिए और ना ही इतने छोटे होने चाहिए कि नज़र में ही ना आ सकें। शारीरिक और मानसिक रूप से खूबसूरती का अहसास करने के लिए आपके स्तनों का आकार सुडौल होना चाहिए।

स्तन महिलाओं के लिए काफी महत्वपूर्ण अंग होते हैं, पर वे ज्यादातर इसे नज़रंदाज़ करती हैं। आपको इनका काफी ख़ास ख्याल रखना चाहिए क्योंकि ये आपकी पहचान हैं। महिलाओं का स्तन उनके शरीर का एक ऐसा अंग होता है जो उन्हें पुरुषों से अलग करता है। हर महिला अपने स्तनों को अपनी साथी महिलाओं की तरह नर्म मुलायम और आकर्षक रखना चाहती है। नीचे सुगठित वक्ष प्राप्त करने (khoobsurat breast kaise paye) के कुछ तरीके बताये गए हैं।

  • हमेशा ब्रा (bra) पहनें तथा हमेशा मानव शरीर की सीधी मुद्रा बनाए रखने का प्रयास करें।
  • अगर महिलाएँ अपने स्तनों को सुडौल बनाना चाहती हैं तो भारी वज़न ना उठाएं।
  • नहाने के तुरंत बाद अपने स्तनों को धीरे धीरे एक आरामदायक हाइड्रेटिंग ऑइंटमेंट (hydrating ointment) की मदद से मालिश करें।
  • गर्म पानी से नहाने से बचें क्योंकि इससे स्तनों की कोशिकाएं प्रभावित होती हैं।
  • नहाने के बाद अपने स्तनों पर एक मग ठंडा पानी डालें। इससे इनका आकार आकर्षक बना रहेगा।
  • पेक्टोरल मांसपेशियों (pectoral muscles) को स्वस्थ बनाए रखने के लिए इलेक्ट्रो स्टिमुलेशन चेस्ट सेशन (electro-stimulation chests session) या तैराकी करने का प्रयास करें।
  • ज्यादा चुस्त कपड़े जो आपके स्तनों को दबा देते हैं, ब्रेस्ट में दर्द हो, पहनने से परहेज़ करें।
  • छाती को सुगठित बनाए रखने के लिए पेट के बल सोने की आदत को त्याग दें।
  • इसके अलावा जब आपने सूरज से बचने के लिए कोई क्रीम (cream) नहीं लगाईं हो तो धूप में ज़्यादा देर तक रहने से बचें।
  • जिन महिलाओं के ब्रेस्ट स्तन ढीले हों उन्हें उसी के अनुसार ब्रा पहननी चाहिए।
  • गर्भवती महिलाओं को अपनी ब्रेस्ट छाती की मालिश रोजाना बादाम के तेल से करनी चाहिए।

प्राकृतिक रूप से वक्षों को बढ़ाने के उपयोगी तरीके

मॉइस्चराइसिंग से ब्रेस्ट केर (Breast care tips by moisturizing in Hindi )

हमेशा शरीर के अन्य हिस्सों की तरह अपने स्तनों पर भी मॉइस्चराइज़र (moisturizer) का प्रयोग करें जिससे कि आपके स्तन की त्वचा झुर्रियों से मुक्त रहे। हर दिन नहाने के तुरंत बाद त्वचा पर अच्छे से मॉइस्चराइज़र लगाएं जिससे कि इसे अच्छे से नमी मिलती रहे।

पुश अप ब्रा से खूबसूरत ब्रेस्ट (Beautiful breast with push up bra)

जब आप अपने स्तनों को सुडौल आकार में रखने के बारे में सोचती हैं, तो आपके लिए सही ब्रा का चयन भी इस समय काफी ज़रूरी हो जाता है। सामान्य ब्रा आपके लिए सही नहीं होंगे क्योंकि ये आपके स्तन को बिलकुल ढीला छोड़ देंगे। पुश अप ब्रा एक ख़ास तकनीक से बनाई जाती है जिससे आपके स्तनों को हर तरफ से सहारा मिलता है और ब्रेस्ट का आकार सुडौल एवं स्वस्थ बने रहते हैं। जैसा कि नाम से ही पता चलता है, यह नीचे से धक्का देने का काम करता है और आपके स्तनों को ऊपर करके रखता है, जिससे कि ये झूलकर ढीले ना पड़ जाएं।

पीठ सीधी रखना से ब्रेस्ट का आकार (Good shape of breast by keeping back straight)

जब आप कुर्सी या बिस्तर पर बैठी हों तो आपके लिए सीधा बैठते हुए अपनी रीढ़ की हड्डी को सीधा रखना काफी आवश्यक है। अगर आप इस प्रक्रिया के दौरान झुक जाती हैं तो इससे पीठ दर्द और असमान स्तनों की गंभीर समास्याएं जन्म ले लेती हैं। यह पाया गया है कि ज़्यादातर महिलाएं अपने शरीर को झुकाकर रखती हैं जिससे कि एक काफी खराब मुद्रा तैयार होती है। इसके साथ ही यह आपके ब्रेस्ट का आकार को भी बुरी तरह प्रभावित करती है।

रक्त संचार (Blood circulation se stan ko sudol banane ke upay)

घरेलू उपचार ढीले स्तनों से दृढ़ स्तनों के लिए

अगर आप सुन्दर और आकर्षक स्तन प्राप्त करना चाहती हैं, तो आपके स्तनों में रक्त का संचार प्रभावी रूप से होना काफी आवश्यक है। नहाते समय पहले गर्म पानी का प्रयोग करें और उसके बाद ठन्डे पानी का, जिससे कि रक्त का संचार सही तरह से हो सके। एक बार जब आपके स्तनों में रक्त का संचार बढ़ जाता है तो ये काफी स्वस्थ और सुन्दर हो जाते हैं।

मालिश (Massage)

आप कोई भी मालिश का तेल लें और इसकी मदद से अपने स्तनों के ऊपर मालिश करें। आप जैतून का तेल (olive oil), बादाम का तेल या किसी और प्रकार का एलोवेरा (aloe vera) का तेल स्तनों पर अच्छे से मालिश करने के लिए प्रयोग में ला सकती हैं। यह स्तनों पर मालिश करने का काफी बेहतरीन तरीका है तथा इसे भरा पूरा एवं खूबसूरत बनाए रखता है। इससे आपको एक खूबसूरत आकार एवं प्रकार  की प्राप्ति होगी तथा ये काफी आकर्षक भी लगेंगे। आपको खुद से शर्माने की कोई आवश्यकता नहीं है। स्नान करते समय आप खुद के स्तनों पर आराम से मालिश कर सकती हैं और अपने खूबसूरत एवं आकर्षक स्तनों को वापस प्राप्त कर सकती हैं। स्तनों को खूबसूरत बनाने के लिए इनपर मालिश अच्छे से करें तथा इसके बाद स्तनों को ऊपर की ओर खींचें।

स्तनों का व्यायाम (Breast exercise se vaksho ko sundar banana)

आपने भी इस बात पर गौर किया होगा कि कुछ वर्षों के बाद एक महिला के स्तन ढीले पड़ने लगते हैं। ऐसा कई कारणों के फलस्वरूप हो सकता है। अपने स्तनों को कसा हुआ और अच्छे आकार में बनाकर रखने के लिए महिलाओं के लिए स्तनों का व्यायाम करना काफी आवश्यक होता है। इससे उनके स्तन खूबसूरत एवं अच्छे आकार में बने रहते हैं। अगर आप अपने स्तनों को ठोस बनाना चाहती हैं तो पुश अप्स एवं बेंच प्रेस (push-ups and bench press) आपके लिए काफी लाभकारी साबित हो सकते हैं।

स्तनों के मध्य भाग के लिए मेकअप (Makeup for cleavage)

अगर आप अपने स्तनों के मध्य भाग को आकर्षक बनाना चाहती हैं तो इसके लिए मेकअप काफी अच्छा विकल्प साबित होगा। अगर आपका क्लीवेज चौड़ा तथा आकर्षक नहीं भी है, फिर भी मेकअप कलाकार आपको खूबसूरत एवं प्रभावी क्लीवेज से नवाज़ देंगे। यह चमत्कार स्तनों के मध्य के भाग में ब्रॉन्ज़र (bronzer) के प्रयोग से होता है। ब्रॉन्ज़र का प्रयोग करने के बाद आपके लिए अच्छी छायाकारी का प्रयोग करना अहम् होगा, क्योंकि इससे एक तरह का भ्रम पैदा होता है।

सनस्क्रीन का प्रयोग (Application of sunscreen)

आपके लिए यह भी ज़रूरी है कि आप अपने स्तनों के मध्य भाग को सूरज के टैन (sun tan) से मुक्त रखें। आप सनस्क्रीन की मदद से अपने स्तनों को यह सुरक्षा कवच प्रदान कर सकती हैं। इसके लिए आपको सिर्फ इतना करना है कि दफ्तर के लिए या कहीं बाहर घूमने के लिए निकलने से पहले अपने स्तनों के मध्य के भाग में सनस्क्रीन का प्रयोग कर लें। एक बार जब आप अपनी छाती पर सनस्क्रीन का प्रयोग कर लेंगी तो इससे आपकी त्वचा गोरी एवं आकर्षक प्रतीत होगी।

देसी इलाज – स्तन / ब्रेस्ट मसाज / मालिश (Desi ilaaj for beautiful breast by massage in Hindi)

आप कोई भी मसाज का तेल (massaging oil) ले सकती हैं और इनकी मदद से अपने स्तनों पर मालिश कर सकती हैं। जैतून के तेल (olive oil), बादाम के तेल या एलो वेरा के तेल (aloe vera oil) से स्तनों की अच्छे से मालिश की जा सकती है। यह ब्रेस्ट मसाज करने तथा इन्हें सुन्दर और सुडौल बनाए रखने का काफी असरदार तरीका है। इससे आपके स्तनों को एक अच्छा आकार मिलेगा और ये दिखने में काफी आकर्षक लगेंगे। आपको खुद के साथ ज्यादा शर्माने की आवश्यकता नहीं है। नहाते समय आप अकेली होंगी और इस समय आप स्तनों की मालिश करके इन्हें खूबसूरत रूप दे सकती हैं। मालिश करते समय स्तनों को ऊपर की ओर उठाएं। इससे इनका आकार बेहतरीन हो जाएगा।