Hindi tips for oily skin – तैलीय त्वचा के उपाय

रूखी त्वचा के नुकसानों की तरह ही तैलीय त्वचा से ग्रसित लोगों को भी कई प्रकार की समस्याएं होती हैं।त्वचा से अतिरिक्त तेल निकलने के कारण कई साइड इफेक्ट्स (side effects) भी हो सकते हैं। इनमें से एक साइड इफेक्ट्स के तौर पर आपके चेहरे पर मुहांसे भी हो सकते हैं।

एक्ने (acne) का कारण भी त्वचा से अतिरिक्त तेल का निकलना हो सकता है। तेल का निकलना कम तथा नियंत्रित करने के लिए लोग कई तरह की ऑइल कंट्रोल क्रीम्स (oil control creams), मॉइस्चराइज़र्स (moisturizers) तथा अन्य सौंदर्य उत्पादों का प्रयोग करते हैं। पर आप प्राकृतिक तरीकों का प्रयोग करके भी मुहांसों को बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के दूर कर सकते हैं। नीचे तैलीय त्वचा को दूर करने के कुछ तरीके बताये गए हैं।

शरीर द्वारा उत्पन्न किये गए प्राकृतिक तेल की वजह से ही त्वचा स्वस्थ रह पाती है। परन्तु अगर चेहरे पर तेल ज़्यादा हो जाए तो इससे एक्ने और मुहांसे जैसी समस्याएं हो जाती हैं। अतः त्वचा के अत्याधिक तेल के हानिकारक प्रभावों से बचने के लिए हम कुछ प्राकृतिक घरेलू उपायों का प्रयोग कर सकते हैं। आइए कुछ ऐसे ही आसान नुस्खों के बारे में जानें जो हमें अत्याधिक तेल से मुक्ति दिला सकते हैं :-

तैलीय त्वचा के लिए 10 उपाय (Oily skin hatane ka tarika)

ऑयली स्किन और चेहरे के लिए घरेलु उपचार

1. फल ऐसे पदार्थ हैं जो आपको आसानी से अत्याधिक तेल से मुक्ति दिला सकते हैं। सेब के रस एवं नींबू के रस की कुछ बूंदों को आपस में मिलाएं तथा इसे चेहरे पर लगाएं। जब ये मिश्रण सूख जाए तो इसे साफ़ कर लें। इससे आपकी त्वचा साफ और निखरी हुई हो जाएगी।

2. तैलीय त्वचा से मुक्ति, दूध भी अत्याधिक तेल हटाने में आपकी मदद करता है। चेहरे को दूध से धोना काफी अच्छा उपचार है क्योंकि इससे त्वचा का वह तेल भी निकलता है जो कि काफी समय से त्वचा से चिपका हुआ होता है। इस प्रक्रिया के बाद त्वचा पर हल्का सा दूध लगाएं और अच्छे से धो लें।

3. आप त्वचा से अत्याधिक तेल हटाने के लिए शहद का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। बस त्वचा पर शहद की एक परत लगाएं और सूख जाने पर धो दें।

4. दही में लैक्टिक एसिड होता है और यह किसी अन्य दुग्ध उत्पाद की तरह ही त्वचा को साफ़ करता है। दही त्वचा को प्राकृतिक तरीके से सुखा देती है और इस प्रक्रिया में त्वचा का प्राकृतिक तेल भी नष्ट नहीं होने देती।

5. तैलीय त्वचा से पाएं छुटकारा, बर्फ भी आपको अतिरिक्त तेल से छुटकारा दिला सकती है। यह त्वचा के अंदर तक समाए हुए अतिरिक्त तेल को त्वचा पर एक बार बर्फ का टुकड़ा घिसते ही निकाल देती है। बर्फ के पानी से भी समान रूप से लाभ होता है।

6. अंडे के सफ़ेद भाग, अंगूर और नींबू का एक मिश्रण बनाएं। इसे अपने चेहरे पर लगाएं और 15 से 20 रखकर धो दें। इससे आपकी त्वचा में एक नयी ताज़गी आएगी क्योंकि नींबू में त्वचा की सफाई के, अंडे के सफ़ेद भाग में त्वचा को कसने के तथा अंगूर में त्वचा को सौम्य रखने के गुण होते हैं और ये सभी मिलकर त्वचा में निखार जगाते हैं।

Subscribe to Blog via Email

Join 44,900 other subscribers

7. नारियल के दूध में बहुत से खनिजों का मिश्रण होता है। इसे अपने चेहरे पर लगाएं और कुछ देर के बाद धो दें। नारियल में मौजूद तेल आपकी त्वचा में मौजूद नमी में वृद्धि करता है और आपकी त्वचा से तेल को कम करता है।

8. मेकअप के सामानों में मौजूद कठोर केमिकल्स त्वचा के तेल की मात्रा में वृद्धि करते हैं। अब धीरे धीरे इस बारे में लोगों की जागरूकता बढ़ रही है।

9. कई लोग अपने चेहरे को दिन में कई कई बार धोते हैं, परन्तु त्वचा को 3 बार से अधिक धोने से उसे हानि पहुँचती है।

मुंहासों को दूर करने के प्राकृतिक घरेलू इलाज

10. पोषक फलों और सब्ज़ियों की मदद से एक संतुलित आहार की शुरुआत करने से त्वचा में तेल की समस्याएं और अन्य समस्याएं भी समाप्त हो जाएंगी।

मुल्तानी मिट्टी से ऑयली त्वचा की देखभाल (Fuller’s earth)

तैलीय त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी एक बढ़िया विकल्प है जो त्वचा को निखारने के साथ अतिरिक्त तेल की मात्रा को भी कम करता है. इसके लिए मुल्तानी मिट्टी में पानी मिलाकर चेहरे पर लगाकर सूखने दें. इसके बाद चेहरे को धोकर साफ़ कर लें.

ऑयली त्वचा के लिए गुलाब जल का प्रयोग (teliy twacha ke upay)

गुलाब जल त्वचा से तेल को कम कर क्लींजिंग का काम करता है. यह चेहरे की त्वचा में जमी गंदगी को गहराई और सौम्यता से साफ़ कर त्वचा को उजली और चमकदार भी बनाता है. गुलाब जल तैलीय त्वचा पर अधिक प्रभावी माना गया है जो चेहरे की अतिरिक्त तैलीयता को दूर करता है. इसे चेहरे पर किसी भी रूप में लगाया जा सकता है, गुलाब जल से बना फेस पैक या इसका सीधे त्वचा पर इस्तेमाल किया जाना बेहतर होता है.

ऑयली त्वचा के लिए नींबू का रस (oily twacha ke liye neem ka ras)

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि नींबू में प्रकृति सिट्रिक एसिड (citric acid) होता है जो त्व्काचा के ph स्तर (ph balance) को नियंत्रित रखता है। नींबू तेल के द्वारा पैदा हुए फैट (fat) को कम करने के लिए जाना जाता है। अतः त्वचा पर नींबू के प्रयोग से तेल की अतिरिक्त परत कम हो जाएगी। इसके लिए एक चम्मच नींबू के रस में इतनी ही मात्रा में डिस्टिल्ड पानी (distilled water) मिलाएं। अब इस मिश्रण में रुई का कपड़ा डुबोएं तथा धीरे धीरे अपनी त्वचा पर लगाएं। परन्तु नींबू का रस आपकी त्वचा के तेल को निकाल देगा, अतः आपको एक तेल मुक्त मॉइस्चराइज़र अपनी त्वचा पर लगाना होगा।

तैलीय त्वचा के लिए टमाटर (Tomatoes se oily twacha ke ilaj)

आज के दौर में करीब हर घर में टमाटर का प्रयोग खाना बनाने में किया जाता है, खासकर तब जब आपको किसी व्यंजन में हल्का चटपटा स्वाद डालना हो। आप अब एक उपचार के रूप में टमाटर का प्रयोग कर सकते हैं। इसके लिए एक टमाटर काटें और इसका रसभरा भाग अपने चेहरे पर अच्छे से रगडें। इसे अच्छे से अपने चेहरे पर लगा लेने के बाद इसके सूखने तक 15 मिनट प्रतीक्षा करें। इसके बाद इसे सादे पानी से धो लें तथा सुखा लें।

ऑयली त्वचा के उपाय – खीरा (Cucumbers se oily twacha ke liye gharelu nuskhe)

सालों से खीरे का प्रयोग त्वचा को सुकून देने के लिए किया जाता है, क्योंकि इसमें एस्ट्रिंजेंट (astringent) के गुण भी होते हैं। यह ख़ास फल पोटैशियम (potassium), विटामिन ए (vitamin A) तथा विटामिन इ (vitamin E) से भरपूर होता है, और इसकी मदद से त्वचा के तेल में नियंत्रण प्राप्त होता है। खीरी का त्वचा पर प्रयोग काफी आसान है क्योंकि आपको सिर्फ खीरे को गोल टुकड़ों में काटकर त्वचा पर रगड़ना है। इससे आप त्वचा पर तेल को नियंत्रित कर सकेंगे। वैकल्पिक तौर पर आप खीरे का गूदा बनाएं तथा इसमें एक चम्मच नींबू का रस डालें। इससे चेहरे पर एक मोटी परत बनाएं और इसके सूखने तक लेट जाएं। 20 मिनट के बाद इसे पानी की मदद से त्वचा से हटा लें।

चेहरे के दाग धब्बे के इलाज के लिए घरेलू नुस्खे

तैलीय त्वचा के लिए नीम (oily twacha ke liye neem)

नीम के पत्ते त्वचा से मुहांसे हटाने में काफी फायदेमंद साबित होते हैं। ज़्यादातर सौन्दर्य कंपनियां नीम के अंशों की मदद से अपने उत्पाद बनाती हैं और ग्राहकों को प्राकृतिक अहसास करवाती हैं। परन्तु आप घर बैठे ही मुहांसों तथा तैलीय त्वचा से लड़ने के लिए प्राकृतिक नीम के पत्तों से एक पेस्ट (paste) बना सकते हैं। मुट्ठीभर नीम की पत्तियाँ लें और इन्हें पानी में उबालें। इन्हें तब तक उबालें जब तक पत्तियाँ अपना रंग ना बदल लें तथा पानी हरे रंग जैसा ना हो जाए। अब पानी को ठंडा होने दें तथा रुई के फाहों की सहायता से इसका प्रयोग धीरे धीरे अपने चेहरे पर करें। अगर आप इस विधि का प्रयोग रोज़ करने में सफल होते हैं तो आपके चेहरे से मुहांसे और एक्ने (acne) काफी कम हो जाएंगे।

तैलीय त्वचा के लिए नमक का स्प्रे (Salt spray)

आप एक गिलास पानी में दो चम्मच नमक डालकर एक घोल बना सकते हैं। इस घोल को इस तरह हिलाएं कि नमक पानी में अच्छे से घुल जाए। अब इस मिश्रण को एक स्प्रे की बोतल में डालें तथा इसे अपने चेहरे पर छिडकें। अपनी आँखों को इस समय बंद ही रखें क्योंकि इस मिश्रण के आँखों में चले जाने पर आपको काफी परेशानी हो सकती है। इस विधि का उपयोग करने वालों के अनुसार उनकी त्वचा की परत में काफी सुधर हुआ है और वे एक्ने तथा मुहांसों से भी बचने में सफल हुए हैं।

loading...