How to prevent dandruff during winter tips in Hindi – ठण्ड में डैंड्रफ की समस्या से निपटने के उपाय

ठण्ड का मौसम आपकी त्वचा तथा बालों के लिए अच्छा नहीं होता, और सर्दियां आ जाने पर आपको इस बात का अहसास होता है कि आपकी डैंड्रफ या रूसी की पुरानी समस्या फिर से सामने आ रही है। डेंड्रफ के कारण, ठण्ड में हवा सूखी हो जाती है और इसमें आर्द्रता का अभाव होता है। इसकी वजह से त्वचा और सिर में भी सूखापन आ जाता है। ठण्ड में सिर की त्वचा सूखी और पपड़ीदार हो जाती है, जो डैंड्रफ या रूसी के वापस आने का सबसे अनुकूल समय होता है।

डैंड्रफ या रूसी सिर में खुजली पैदा करके अन्य समस्याओं को भी बढ़ावा देता है। हालांकि इस समस्या को सही उपायों की मदद से ठीक किया जा सकता है। आपको सिर्फ ठण्ड के महीनों में अपने बालों की अच्छे से देखभाल करनी है और कुछ एंटी डैंड्रफ नुस्खे अपनाने हैं, जिससे कि डैंड्रफ आपके सिर में घर ना कर पाए।

रुसी का उपचार के लिए गर्म तेल का उपचार (Hot oil treatment)

ठण्ड में सिर की त्वचा के सूखने से डैंड्रफ में काफी बढ़ोत्तरी होती है। अपने अपने बालों और सिर को पोषित रखने से डैंड्रफ की समस्या (dandruff ka desi ilaj) आपके आसपास नहीं फटकेगी। एक स्टील के पात्र को गर्म करें और इसे आंच से हटाने के बाद इसमें एक चम्मच ओलिव आयल, 1 चम्मच नारियल का तेल तथा 1 चम्मच बादाम का तेल डालें। इन तीनों को अच्छे से मिलाएं और रात को सोने से पहले इस मिश्रण से अपने सिर और बालों को अच्छे तरीके से मसाज करें। सुबह एक सौम्य शैम्पू से बालों को धो लें। इस विधि का प्रयोग हर दूसरे दिन करें और डैंड्रफ को दूर भगाएं। आप इन तेलों का मिश्रण बनाने की बजाय अलग अलग रूप से भी इनसे मसाज कर सकती हैं।

घर पर बने अद्भुत दही के हेयर पैक/बाल पैक

डैंड्रफ के उपाय के लिए टी ट्री आयल और कैरियर आयल (Tea tree oil with carrier oil se dandruff ke nuskhe)

टी ट्री आयल में प्राकृतिक रूप से एंटी फंगल तथा एंटी मिक्रोबियल गुण होते हैं, अतः यह डैंड्रफ के उपचार तथा इसे रोकने में काफी प्रभावी सिद्ध होता है। लेकिन कभी भी टी ट्री आयल का प्रयोग सीधे तौर पर अपने सिर पर ना करें, तथा हमेशा ही किसी कैरियर तेल, जैसे नारियल के तेल या इवनिंग प्रिमरोस का प्रयोग साथ में करें। इन्हें 2:1 के अनुपात में मिलाकर अच्छे से अपने सिर पर मसाज करें। यह रात को सोने से पहले करें और सुबह उठकर एक सौम्य क्लीन्ज़र की मदद से इसे धो लें।

रुसी हटाने के उपाय के लिए एलोवेरा और नींबू (Aloevera and lemon se dandruff treatment in hindi)

डैंड्रफ दूर करने का एक और प्रभावी उपचार एलोवेरा के गूदे और नींबू के रस के मिश्रण का प्रयोग करना है। एलोवेरा में प्राकृतिक मॉइस्चराइसिंग के गुण होते हैं, जिनकी मदद से सिर की त्वचा का सूखापन दूर होता है। नींबू एक शक्तिशाली एजेंट हैं जिसमें एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण होते हैं। कुछ एलोवेरा के पत्तों से 2 चम्मच ताज़ा गूदा निकालें और इसमें 1 चम्मच नींबू का रस डालें। इन उत्पादों को अच्छे से मिलाएं तथा इस मिश्रण को अपने सिर पर लगाएं। इसे आधे घंटे के लिए छोड़ दें और फिर सादे पानी या सौम्य क्लीन्ज़र की मदद से इसे धो लें।

रुसी का उपचार के लिए बेकिंग सोडा (Baking soda se rusi hatane ke upay in hindi)

बेकिंग सोडा आपके सिर की त्वचा को साफ़ करने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह आपके सिर से ऐसे किसी भी तत्व को हटा देता है, जो पोर्स को बंद करके डैंड्रफ होने की स्थिति उत्पन्न करते हैं। अगर आपके सिर पर पहले से डैंड्रफ है, तो भी बेकिंग सोडा आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। यह आपके सिर को काफी प्रभावी तरीके से साफ़ करता है। अपने हाथ में दो चम्मच बेकिंग सोडा लें तथा इसे धीरे धीरे मसलकर अपने सिर में लगाएं। अब इसे 3 मिनट के लिए छोड़ दें और हलके गर्म पानी की मदद से अच्छे से धो लें। इसके प्रयोग के बाद आपको शैम्पू की कोई आवश्यकता नहीं होती।

बालों का गिरना कम करने के लिए घरेलु प्राकृतिक उपचार

बालों की देखभाल के नुस्खे के लिए अदरक का रस (Ginger juice se dandruff ka desi ilaj)

अदरक में प्राकृतिक एंटी फंगल तथा एंटी माइक्रोबियल गुण होते हैं, और यह ना सिर्फ डैंड्रफ या रूसी को दूर (dandruff ke nuskhe) करने में, बल्कि सिर की अन्य समस्याओं को दूर करने में भी काफी लाभदायक सिद्ध होता है। 2 इंच के अदरक को अच्छे से किसकर ताज़ा अदरक का रस बनाएं। इस रस को रुई के फाहे की सहायता से अपने सिर की त्वचा पर अच्छे से लगाएं। इसे 30 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर एक सौम्य शैम्पू से धो दें। अदरक आपके डैंड्रफ को ठीक करने तथा इसे पूरी तरह हटाने (rusi hatane ke upay in hindi) की भी क्षमता रखता है। अतः महीने में दो बार इस विधि का अपने सिर पर उपयोग करने से आप डैंड्रफ से आसानी से छुटकारा पा सकते हैं।