Hindi tips to look after your skin in summer – गर्मियों में त्वचा की देखभाल कैसे करें?

हर मौसम अपने में कुछ खूबियां और कुछ बुराइयां समेटे होता है। ठण्ड के मुकाबले आप गर्मियों के मौसम में बाहर ज़्यादा समय व्यतीत कर सकते हैं। यह बात जानना काफी दिलचस्प होगा कि सूरज और तापमान का प्रभाव इतना अधिक होता है कि इसकी कीमत हमें चुकानी पड़ती है। गर्मी का मौसम में सूरज की रौशनी के संपर्क में ज़्यादा देर तक रहने पर त्वचा (skin/स्किन) को नुकसान पहुँच सकता है। इससे और भी कई तरह की समस्याएं जैसे काले धब्बे, टैनिंग, झुर्रियां और त्वचा (skin/स्किन) का कैंसर तक हो सकता है। गर्मियों (सम्मर) के मौसम में लोग कई तरह के खेल खेलना पसंद करते हैं। पर ऐसे खेल खेलने के वक़्त हमें काफी सावधानी बरतनी चाहिए। त्वचा की देखभाल कैसे की जाए :-

गर्मियों में सूरज की रौशनी का मानव शरीर पर प्रभाव (Impact of summer sun on individual)

हम जब सूर्य की रौशनी के हमारे त्वचा (skin/स्किन) पर प्रभाव की चर्चा करते हैं, तो हमें यह भी समझना पड़ेगा कि विभिन्न प्रांतों में रहने वाले लोगों पर सूर्य की किरणों का क्या प्रभाव पड़ता है। सूरज की ये तेज़ किरणें हमारे शरीर के लिए काफी हानिकारक हैं क्योंकि इसके विभिन्न प्रकार हमें काफी नुकसान पहुंचाते हैं। अल्ट्रा वायलेट किरणों को कई भागों में विभक्त किया जा सकता है। अल्ट्रा वायलेट ए सूरज की रौशनी का एक ऐसा स्त्रोत है जो हमारे शरीर के डर्मिस में प्रवेश से जुड़ा हुआ है। त्वचा (skin/स्किन) का ऊपरी भाग अल्ट्रा वायलेट बी नाम की किरणों से प्रभावित होता है। यह वही किरणें हैं जिनसे प्रभावित होने के फलस्वरूप लोगों को सनबर्न की समस्या घेरती है। अल्ट्रा वायलेट सी ओजोन की परत को फ़िल्टर करने की प्रक्रिया है, इसलिए इसका असर शरीर पर ज़्यादा हानिकारक नहीं होता।

गर्मियों में स्किन केयर / त्वचा की देखभाल के तरीके (Tips to take care of your skin in summer for skin ki dekhbhal)

गर्मियों में सूखी त्वचा

ऐसे कई तरीके हैं जिनका इस्तेमाल करके आप गर्मियों (सम्मर) में अपनी स्किन की देखभाल कर सकते हैं। इनमें से कुछ तरीके नीचे दिए गए हैं।

स्किन टिप्स हैं सूरज का सामना ना करें (Don’t face the sun se twacha ki dekhbhal)

सुबह 10 बजे से दोपहर के 3 बजे का समय बाहर निकलने के लिए सबसे गलत समय होता है, क्योंकि इसी समय सूरज की रौशनी अपने चरम ताप में रहती है। इस समय सूरज की रौशनी से कई तरह की त्वचा (skin/स्किन) की बीमारियां भी हो सकती हैं। यह वह समय भी होता है जब आपकी त्वचा (skin/स्किन) कई तरह के रेडिएशन के खतरे में भी रहती है। अगर आप व्यायाम या अन्य किसी भी तरह का कार्य करना चाहते हैं तो उसे या तो सुबह 10 बजे से पहले कर लें, या फिर दोपहर के 3 बजे के बाद करें।

स्किन टिप्स हैं सनस्क्रीन लगाएं (Apply sunscreen se garmiyo me skin care tips)

अगर आपके पास गर्मियों (सम्मर) में धूप में निकलने के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं बचा हो तो आप इसके लिए सुरक्षा कवच का प्रयोग कर सकते हैं। इसके लिए अपने हाथों और चेहरे पर सनस्क्रीन लगाएं क्योंकि ये भाग वो होते हैं जो कि धूप के संपर्क में सबसे ज़्यादा आते हैं। यह सूरज की किरणों से आपको लम्बे समय तक बचाए रखने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। सनस्क्रीन में SPF जितना ज़्यादा हो, उतना ही वह प्रभावी होता है।

टोनर का प्रयोग (Use toner se garmiyon me beauty tips)

गर्मियों (सम्मर) के मौसम में यह काफी आवश्यक है कि आपके रोमछिद्र (Pores) बंद रहे और त्वचा (skin/स्किन) ठंडी रहे। इसके लिए स्किन टोनर का प्रयोग करें। आप अपने मनपसंद ब्रांड का टोनर प्रयोग में ला सकती हैं, बशर्ते वह आपकी त्वचा (skin/स्किन) को सूट करता हो। आप घरेलू टोनर या गुलाबजल का भी प्रयोग भी कर सकती हैं।

शरीर में पर्याप्त पानी की मात्रा बनाए रखें (Keep hydrated se skin treatment in hindi)

गर्मियों में तैलीय त्वचा

पर्याप्त मात्रा में पानी पीकर शरीर में पानी की सही मात्रा बनाए रखें। इस विधि का अच्छे से पालन करने के लिए इसे रोज़ सुबह की आदत बना लें। पानी से युक्त भोजन के पदार्थों का सेवन करें। इस मौसम में नारियल पानी का मज़ा लें।

दिन में दो बार त्वचा (skin/स्किन) को साफ़ करें (Cleanse your face twice a day)

त्वचा की देखभाल कैसे करे, गर्मियों (सम्मर) के कठोर मौसम में ये काफी आवश्यक है कि आप अपनी त्वचा (skin/स्किन) को दिन में दो बार धोएं, भले ही आप सारा दिन घर पर ही क्यों न रहते हों। जो लोग अपना ज़्यादातर समय घर के बाहर बिताते हैं, वे दिन में 3 बार अपना चेहरा धोने की कोशिश करें। ऐसे फेस वाश का प्रयोग करें जो आपकी त्वचा (skin/स्किन) को सूट करता हो और आपको ताज़गी का अहसास दे।

गर्मी से बचाव के वस्त्र पहनें (Protective clothing se skin ke liye gharelu nuskhe)

कपड़ों का चुनाव एक और महत्वपूर्ण कदम है जिसका आपको गर्मियों (सम्मर) के मौसम में ध्यान रखना होता है। इस मौसम में सूती के कपडे पहनना ज़्यादा अच्छा रहता है, क्योंकि ये काफी हलके होते हैं और शरीर से निकला पसीना काफी आसानी से और खूबी से सोख लेते हैं। गर्मियों में शरीर का हर भाग कपड़ों से ढककर रखें, अन्यथा सूरज की किरणें आपके खुले भाग को नुकसान पहुंचा सकती हैं।

अगर आपको छाता पकड़ने में परेशानी होती है तो आप एक हैट भी पहन सकते हैं। गर्मियों (सम्मर) के मौसम में यह स्टाइल काफी प्रचलित होता है और यह आपके कपड़ों के साथ भी काफी जंचेगा।

loading...

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday