How to remove wrinkles between eyebrows / Furrow lines? – भौंहों के बीच की झुर्रियों को दूर करने के उपाय

भौंहों के बीच झुर्रियां आपको अपनी उम्र से काफी बड़ा प्रतीत करवा सकती हैं, परन्तु ये उम्र बढ़ने की वजह से नहीं होती हैं। इन्हें 11 रिंकल्स (“11” wrinkles)  भी कहा जाता है और ये जवानी में भी हो सकती हैं।

आँखों के बीच ऊपर से नीचे (vertical) जाने वाली झुर्रियां आमतौर पर कोरुगेटर सुपरसिली (corrugator supercilii) मांसपेशियों के अतिरिक्त इस्तेमाल तथा सिकुड़ने की वजह से बनती हैं, जिनका प्रयोग हम रोज़ाना बात करने और भावनाएं व्यक्त करने में प्रयोग करते हैं। इनकी गंभीरता के अनुसार इनका इलाज प्राकृतिक या कॉस्मेटिक (cosmetic) तरीकों से किया जा सकता है।

कॉस्मेटिक प्रक्रिया से झुर्रियां निकालना (Removing between eyebrow wrinkles through cosmetic processes)

झुर्रियों से छुटकारा बोटॉक्स से (Botox se jhurriyan ka ilaj)

FDA द्वारा स्वीकृत तथा काफी ज़्यादा प्रयोग में लाए जाने वाला यह कॉस्मेटिक उपचार भौंहों के बीच की झुर्रियों को स्थाई रूप से हटाने में मदद करता है। बोटॉक्स का उपचार इन झुर्रियों को दूर करने के लिए सबसे कारगर सिद्ध होता है। इसकी मदद से झुर्रियों को आने से रोका भी जा सकता है। अच्छे परिणाम पाने के लिए इस उपचार को हर 3 से 6 महीनों में दोहराएं।

झुर्रियों से छुटकारा हायाल्यूरोनिक एसिड आधारित डर्मल फिलर्स से (Hyaluronic acid based dermal fillers)

चेहरे से झुर्रियां हटाने के घरेलू उपाय

यह काफी नवीनतम तकनीकों से लैस उपचार है। इसके अंतर्गत ज्युवडर्म या रेस्टाइलिन (Juvederm or Restylene) झुर्रियों वाले भाग पर लगाया जाता है। इससे एक स्थाई उपचार मिलता है। प्रभावित भाग पर हाईलाफॉर्म जेल (hylaform gel) लगाने से यह आसानी से ठीक हो जाता है। इस उपचार का परिणाम तुरंत होता है एवं इसका असर लम्बे समय तक रहता है। इस प्रक्रिया को हर 6 से 12 महीने में अवश्य दोहराएं। डर्मल फिलर्स के प्रयोग से भौंहों के बीच की गंभीर झुर्रियाँ भी दूर हो जाती हैं।

झुर्रियां हटाने के उपाय तथा प्राकृतिक तरीके से झुर्रियां निकालना (Removing wrinkles between the eyebrows in natural ways, wrinkles ka ilaj)

भौंहों की झुर्रियों को दूर करने के लिए कॉस्मेटिक उपचार का प्रयोग तभी किया जाता है, जब ये झुर्रियाँ उम्र बढ़ने की वजह से होती हैं और अन्य किसी उपचार से ठीक नहीं हो रही होती। अन्य किसी भी स्थिति में आप इस स्थिति को ना सिर्फ संभाल सकते हैं, बल्कि काफी कम देखभाल करके भी पूरी तरह इन दागों को हटा सकते हैं। इसके लिए आपको अपनी जीवनशैली तथा आदतों में काफी परिवर्तन करने होंगे। इसके साथ ही आपको अपनी त्वचा के प्रभावित भाग की भी अच्छे से देखभाल करनी होगी।

झुर्रियां हटाने के उपाय के लिए जीवनशैली में ज़रूरी परिवर्तन (The lifestyle changes that you need to implement, aankhon pe wrinkles)

त्वचा के अच्छे स्वास्थ्य के लिए काफी मात्रा में पत्तेदार सब्जियां, फल और पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन (protein) का सेवन करना काफी ज़रूरी है। त्वचा में पानी की कमी ना होने देने के लिए नियमित अंतराल में पर्याप्त मात्रा में पानी पियें। चेहरे पर झुर्रियां ना होने देने के लिए आपका अच्छे से सोना भी काफी ज़रूरी है। सोने के समय इस बात को सुनिश्चित करें कि आप ऐसी मुद्रा में ना सोएं जिससे आपके सिर की मांसपेशियों पर दबाव पड़े। आँखों के बीच की झुर्रियाँ आमतौर पर उस मांसपेशी की अतिरिक्त हरकत की वजह से भी होती है। बात करते समय इस मांसपेशी का ज़्यादा प्रयोग बंद करने का प्रयास करें। धूप में निकलते समय चश्मा पहनकर ही निकलें जिससे कि आँखों को सिकोड़ने के फलस्वरूप झुर्रियां ना पड़ जाएं।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,326 other subscribers

झुर्रियां मिटाने के उपाय के लिए आँखों के बीच की झुर्रियां निकालने के व्यायाम (Exercise for removing lines between the eyebrows, aankho se wrinkles kaise hataye)

प्राकृतिक रूप से चेहरे से झुर्रियां हटाने के घरेलू नुस्खे

इन झुर्रियों और दागों को हटाने के लिए इन प्रभावित भागों से जुड़े व्यायाम करना भी काफी फायदेमंद होता है। नीचे इस स्थिति में किये जाने वाले सबसे कारगर व्यायाम के बारे में बताया गया है।

  • अपने दोनों हाथों की तर्जनी ऊँगली (index finger) को सिर के बीचोंबीच आँखों की पुतलियों के ऊपर ले जाएं।
  • अब उँगलियों को धीरे से दबाएं और इन्हें गोलाकार मुद्रा में घुमाएं।
  • इस प्रक्रिया को रोज़ाना 3 से 5 मिनट तक दोहराएं।

इस व्यायाम की मदद से आपके आँखों के बीच की मांसपेशियों का तनाव काफी हद तक दूर होता है एवं इसे काफी आराम प्राप्त होता है। इसके अलावा यह इस प्रभावित भाग के रक्त संचार में भी वृद्धि करता है और त्वचा की प्राकृतिक रूप से खुद की मरम्मत करने की क्षमता को बढ़ाता है। इस प्रक्रिया का करीब 2 महीनों तक इस्तेमाल करने पर आपको काफी अच्छे परिणाम मिलेंगे।

loading...