Hindi ideas for waxing at home – घर पर वैक्सिंग करने के टिप्स

शरीर के विभिन्न अंगों पर बालों का बढ़ना,खासतौर पर हाथ,पाँव एवं हाथों के नीचे वाले भाग,महिलाओं की खूबसूरती को कम करते हैं। ज़्यादा बाल बढ़ने से गर्मियों में खुजली एवं रैशेस की समस्याएं बढ़ जाती है। हर महिला इन बालों को हटाने के आसान तरीकों की तलाश में रहती है। कुछ नुस्खे ऐसे हैं जो आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचाए बिना वैक्सिंग की समस्या को हल कर सकते हैं।

अगर आप शरीर के सिर्फ कुछ महत्वपूर्ण भागों से ही बाल हटाना चाहती हैं तो ब्यूटी पार्लर जाना, हेयर रिमूवल क्रीम आपके लिए काफी महँगा सिद्ध हो सकता है। परन्तु घरेलु नुस्खों का इस्तेमाल करने से ना सिर्फ आपके पैसे बचेंगे बल्कि आप अपने मन के अनुसार आसानी से वैक्सिंग कर सकती हैं। कुछ नुस्खे नीचे दिए गए हैं:-

बाल साफ करने का तरीका, पहुँचने में कठिन भागों पर वैक्सिंग ना करें (Never try to wax unreachable areas)

शरीर के कुछ भागों की वैक्सिंग काफी मुश्किल है जैसे कि पीठ,हाथों के नीचे का भाग और कमर के आसपास का भाग जिसे बिकिनी क्षेत्र कहा जाता है। इन भागों पर ज़्यादा वैक्सिंग करने या हेयर रिमूवल क्रीम लगाने से खुजली एवं स्किन एलर्जी की परेशानी सामने आती है। अतः इन भागों की वैक्सिंग करने की कोशिश ना करें। आप आसानी से होंठों के ऊपर, भौंहों पर, हाथ और पैर पर वैक्सिंग कर सकती हैं।

बाल हटाने के लिए वैक्सिंग के बेहतरीन नुस्खे

भौंहों की वैक्सिंग और ट्रिमिंग (Eyebrow waxing and trimming se anchahe baal hatane ka tarika)

इस प्रकार की वैक्सिंग आमतौर पर किशोरावस्था से ही शुरू कर दी जाती है अतः भौंहों की वैक्सिंग के समय हमें ज़्यादा सावधानी बरतनी चाहिए। भौंहों की वैक्सिंग किसी अनुभवी व्यक्ति द्वारा ही करवानी चाहिए।

वैक्सिंग के लिए सही सामान चुनना (Choose the material for waxing)

यह घर पर वैक्सिंग करने की दिशा में एक काफी ज़रूरी कदम है। त्वचा की टोन एवं अन्य ज़रूरी सावधानियां बरतते हुए ही किसी भी सामान जैसे कि क्रीम, लोशन या वैक्स स्ट्रिप का चुनाव करना चाहिए।

वैक्सिंग के पहले करें पूरी तैयारी (Study well before using)

वैक्सिंग (wax kaise kare) में काम आने वाली वस्तुओं एवं इस प्रक्रिया का पूरा ज्ञान लेने के बाद ही वैक्सिंग करना शुरू करें।

वैक्सिंग के लाभ, त्वचा को साफ़ करें (Wax while skin is clean)

वैक्सिंग करने के पहले त्वचा को अच्छी तरह साफ़ कर लें। त्वचा का सारा मैल,पसीना एवं तेल धोकर निकालने के बाद ही वैक्सिंग करें। मैली त्वचा पर वैक्सिंग करने से त्वचा को काफी नुकसान हो सकता है।

वैक्स कैसे करे, छोटे बालों की वैक्सिंग ना करें (Do not wax on small hairs)

वैक्सिंग के बाद दानों से छुटकारा कैसे पाएं?

जिन बालों की लम्बाई 1/4 इंच या उससे कम हो, उनकी वैक्सिंग काफी कष्टकारी सिद्ध होती है। अतः हमेशा 1/4 इंच से ज़्यादा लम्बे बालों की ही वैक्सिंग करें।

वैक्सिंग का तरीका, त्वचा को जलने से बचाएं (Do not Burn the skin)

हमेशा वेक्स का तापमान नापकर ही उसे त्वचा पर लगाएं। अगर तापमान ज़्यादा हुआ तो इससे त्वचा जल सकती है या उसका रंग फीका पड़ सकता है।

वैक्सिंग करने का तरीका, वैक्स स्ट्रिप को सीधा ना खींचें (Do not make a painful mistake)

जो गलती आमतौर पर सारी महिलाएं करती हैं वो है त्वचा से वैक्स स्ट्रिप को सीधा खींच देना। हमेशा स्ट्रिप को त्वचा के उलटी तरफ ले जाकर खींचें। इस प्रक्रिया को ध्यान में रखने से खरोंच या दाग की संभावना कम हो जाएगी।

प्रयोग के बाद वेक्स से दूर रहें (Wax on and off se anchahe baal hatane ke upay)

एक बार वैक्सिंग करने के बाद भी अगर उस भाग पर कुछ बाल छूट जाते हैं तो वहां दोबारा वैक्सिंग का प्रयोग ना करें। बचे हुए बालों को ट्वीज़र द्वारा निकालें। एक ही जगह एक से ज़्यादा बार वैक्सिंग करने से जलने, कटने, खुजली एवं रैशेस की समस्या हो जाती है। hinditips.com

वैक्सिंग का तरीका, त्वचा को पोषण दें (Rejuvenate your skin)

वैक्सिंग के विभिन्न प्रकार

वैक्सिंग के बाद त्वचा अपनी नमी खो देती है। अतः वैक्सिंग के बाद त्वचा को नमी और पोषण देने के लिए किसी मॉइस्चराइसिंग क्रीम या लोशन का प्रयोग करें।

लम्बाई का चुनाव (Selection of length)

जब आप घर बैठे ही वैक्सिंग (ghar par wax karna) का काम शुरू कर रही हों तो इस कार्य में सही लम्बाई का चुनाव करना काफी महत्वपूर्ण साबित होता है। इसके लिए सही लम्बाई एक इंच का एक चौथाई हिस्सा होती है। अगर आप इससे छोटी लम्बाई की इच्छा रखेंगे तो इसे पूरी तरह से वैक्स कर पाना काफी मुश्किल काम साबित होगा। अगर आपके बालों की लम्बाई ज़्यादा है तो इस प्रक्रिया में होने वाले दर्द को सह पाना और भी मुश्किल हो जाता है।

प्रैक्टिस (Practice)

कई लोग एक बार में सही तरह से वैक्सिंग नहीं कर पाने की वजह से धैर्य खो बैठते हैं। परन्तु निरंतर प्रयास और प्रैक्टिस से आप जल्दी ही सही प्रकार से वैक्सिंग करने में समर्थ हो जाएंगे।

एक्सफोलिएट (Exfoliate hai sharir ke baal hatane ke gharelu upay)

अगर आप वैक्सिंग करवाने के लिए जाने से पहले अपनी त्वचा को एक्सफोलिएट करना शुरू देती हैं तो यह काफी फायदेमंद साबित होगा, क्योंकि बॉडी स्क्रब (body scrub) की मदद से एक्सफोलिएशन करने से आपके शरीर के बाल नरम हो जाएंगे और बालों के फॉलिकल्स को खुलने में सहायता प्राप्त होगी। इससे आपकी वैक्सिंग कम दर्दनाक और काफी आसान हो जाएगी। खुद को चिंतामुक्त रखें, जिससे एक्सफोलिएशन की प्रक्रिया के दौरान आपकी मानसिक स्थिति अच्छी रहे।

भौहों को घर पर वैक्स कैसे करें?

अतिरिक्त नमी सोख लें (Soak excess moisture)

आज के दौर में 10 में से 5 महिलाओं की त्वचा तैलीय होती है, जो कि वैक्सिंग की प्रक्रिया के दौरान काफी फिसलती है और काफी परेशानी पैदा करती है। पर वैक्सिंग के दौरान त्वचा से अतिरिक्त नमी को दूर करने का एक नुस्खा मौजूद है। अगर आप त्वचा से अतिरिक्त नमी को हटाना चाहती हैं, तो बेबी पाउडर (baby powder) का अपने चेहरे पर प्रयोग करें। इस बात को सुनिश्चित करें कि त्वचा के जिस भाग पर वैक्सिंग होने वाली है, वह तेल से मुक्त रहे।

त्वचा को खींचने की प्रक्रिया (Bracing with pull se wax karne ka tarika)

यह एक ऐसी तकनीक है, जिसके फलस्वरूप वैक्सिंग के दौरान आपको होने वाली पीड़ा में काफी हद तक कमी आ सकती है। एक बार जब आपने अपनी त्वचा पर वैक्स का प्रयोग कर लिया, तो यह काफी गर्म होता है। इस समय वैक्स लगी हुई त्वचा के आसपास के भाग को खींचें। अब वैक्स स्ट्रिप (wax strip) का अंतिम छोर पकड़ लें। यह तरीका इसलिए अपनाया जाता है, क्योंकि इससे आपके वैक्स स्ट्रिप खींचकर निकालने की प्रक्रिया के दौरान यह आपकी त्वचा के काफी करीब रहती है। ऐसे समय आपको यह मानकर इस प्रक्रिया को संपन्न करना है कि आप केले का छिलका निकाल रही हैं।

दर्द को कम करने के तरीके (Minimizing Ouch factor)

आप जब भी वैक्सिंग करवाने जाएँ, तो शरीर के जिन भागों में आपको वैक्सिंग करवानी है, उन जगहों पर दांतों को सुन्न करने वाली क्रीम का प्रयोग करें। इस प्रक्रिया के दौरान इस बात की अपेक्षा ना करें कि आपका अनुभव पूरी तरह दर्द से रहित होगा। पर अगर आप इसके पहले कभी घर पर बैठकर वैक्सिंग की प्रक्रिया को पूरा कर चुकी हैं , तो उस समय हुए असहनीय दर्द के मुकाबले आपको इस विधि के प्रयोग के द्वारा दर्द काफी कम होगा।