Foods to prevent the bloating and gives flat belly shape – समतल पेट पाने और सूजन रोकने के लिए भोजन

वे भोजन जो आपको समतल पेट देते हैं तथा पेट फूलने से रोकते हैं, वे हैं : –

1. खीरा

2. तरबूज़

3. कोल्ड कॉफ़ी या कोल्ड टी

4. केले

5. अंडे

6. अंगूर

7. दही

8. बादाम

9. नाशपाती

10. पनीर

दही से पेट कैसे कम करें (Yogurt se pet kam karne ke upay)

वजन घटाने और स्वस्थ रखने के बेहतरीन तरीके, वजन घटाने के पेय

अगर आपने कुछ ऐसा खा लिया है जिससे आपके पेट में सूजन आ गयी है तो दही का सेवन करें। यह एक स्वास्थ्यकर पदार्थ है जिससे पेट की सूजन पूरी तरह कम हो जाती है। अगर आपको अपना पेट समतल करना हो तो भी दही आपके लिए काफी फायदेमंद है। क्योंकि दही में प्रोबायोटिक बैक्टीरिया होते हैं, अतः इसके सेवन से आपकी पाचन प्रक्रिया लम्बे समय तक स्वस्थ रहती है। इससे कई और समस्याएं जैसे कब्ज़, गैस और पेट का फूलना भी दूर होते हैं।

पेट कम करने का उपाय नींबू से (Lemon)

नींबू में सिट्रिक एसिड होता है जो कि त्वचा की परतों के अंदर का वसा तोड़ने में काफी फायदेमंद है। आप नींबू का रस बनाने के लिए एक गिलास में नींबू निचोड़कर उसमें एक चम्मच शहद डाल सकते हैं, या फिर नींबू और शहद का रस सीधे पी सकते हैं। कच्चे नींबू का शहद के साथ मिश्रण घुले हुए मिश्रण से ज़्यादा प्रभावी होगा। अगर आप नींबू के रस को गर्म पानी के साथ पीते हैं तो यह एक लैक्सेटिव का काम करता है और पेट को सूजन से बचाकर आपको आराम का अहसास दिलाता है।

पेट को कम करने के तरीके अनानास में (Pineapples)

अनानास बाज़ार में मिलने वाले ज़ायकेदार मौसमी फलों में अग्रणी है। सभी लोग अनानास के स्वाद को पसंद करते हैं तथा इसके फ्लेवर को फलों के रस तथा भोजन में खोजते हैं। एक स्वादिष्ट भोजन होने के अलावा इसमें औषधीय गुण भी होते हैं जो आपको पेट की गड़बड़ी से मुक्ति दिलाते हैं। पेट में गैस तथा पेट के फूलने जैसी समस्याओं को अनानास के सेवन से ठीक किया जा सकता है। क्योंकि अनानास एक रसीला फल है और इसमें पानी की मात्रा भी काफी ज़्यादा होती है, अतः ये आँतों में मौजूद हाज़मे के फाइबर को तोड़ने में अहम भूमिका निभाता है।

पालक से पेट कम करने के घरेलू उपाय (Pet kaise kam kare spinach se)

आपने बाज़ार में हरी पालक बिकते देखी होगी तथा इसका सेवन भी किया होगा। सबके लिए पालक का हफ्ते में ३ बार सेवन करना अति आवश्यक है क्योंकि इससे शौच अच्छे ढंग से होती है तथा पेट की अन्य समस्याओं जैसे गैस और पेट फूलने से भी छुटकारा मिलता है। पालक में प्राकृतिक ड्यूरेटिक होते हैं, जो आसानी से बड़े पैमाने पर हो रही पेट की समस्याओं से निजात दिला सकते हैं। पालक को पकाकर खाना ज़्यादा फायदेमंद होता है क्योंकि इससे पेट की चर्बी कम होती है।

वेट लॉस के घरेलू नुस्खे में लहसुन के फायदे

पेट अंदर करने का तरीका है ग्रीन टी या हर्बल टी (Green tea / herbal tea)

लम्बे समय तक ग्रीन टी का सेवन करने से शरीर के टॉक्सिन्स बाहर निकल जाते हैं और आप स्वस्थ रहते हैं। अगर आप भी पेट फूलने की समस्या से परेशान हैं तो ग्रीन टी में नींबू के रस की कुछ बूँदें डालकर पियें। इससे आपके पेट की अतिरिक्त चर्बी कम होती है तथा आप लम्बे समय तक स्वस्थ और फिट रहते हैं। इससे आपको सारे दिन के लिए ताज़गी भी प्राप्त होती है।

पेट अंदर करने के तरीके हल्दी से (Turmeric se pet kam karne ke tips)

आपने हल्दी के औषधीय गुणों के बारे में सुना होगा। लम्बे समय से ये उत्पाद तमाम बीमारियों एवं समस्याओं से जूझने वाले व्यक्तियों को लाभ देता आ रहा है। खाना बनाते समय रोज़ाना एक चुटकी हल्दी डालें क्योंकि इससे पेट फूलना रुकता है और आपका हाज़मा सही रहता है। इसमें जलन दूर करने वाले गुण भी होते हैं जो आपको तरह तरह के घाव तथा चोटों से निजात दिलाता है। यह आपके लिवर को सही करने में भी काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है तथा आपको लम्बे समय तक स्वस्थ और सेहतमंद रखता है। स्वस्थ रहने के लिए हर रोज़ अपने भोजन में हल्दी अवश्य मिलायें।