How to get rid of milia. Home remedies for milia – सफ़ेद फुंसी का घरेलू इलाज

मिलियम सिस्ट या मिलिया (Milia) छोटे छोटे सफ़ेद रंग के दाने या फुंसी होते हैं जो नाक और गाल के हिस्से को प्रभावित करते हैं. जब केराटीन त्वचा के नीचे जमा हो जाता है तो उभार की तरह सफ़ेद रंग की फुंसी के रूप में त्वचा के उपरी हिस्से में निकल आता है. केराटीन एक प्रभावी प्रोटीन होता है जो बालों और नाखूनों के उत्तकों में पाया जाता है.

मिलिया चेहरे, गरदन, गलों और आँखों के आस पास दिखाई देते है और ये किसी भी उम्र में किसी भी व्यक्ति को हो सकते हैं.

मिलिया के कारण हिंदी में (Causes of Milia in Hindi)

  • त्वचासम्बन्धी समस्याओं की वजह से छाले के कारण
  • छालों या फफोलों की वजह से
  • जलने की वजह से
  • लेसर
  • लम्बे समय तक स्टेरॉयडयुक्त क्रीम का प्रयोग
  • लम्बे समय तक सूर्य के प्रभाव में रहने से

मिलिया के घरेलू उपाय हिंदी में (Home remedies for Milia in Hindi)

चंदन और गुलाब जल (Sandal wood and rose water)

जब आप चंदन और गुलाब जल का प्रयोग चेहरे या अ त्वचा पर करते हैं तो यह डेड स्किन को निकाल कर चेहरे को कोमल और चिकना बनाता है.

  • 2 चम्मच अच्छी गुणवत्ता का चंदन पाउडर लें और इसे गुलाब जल के साथ मिलाकर पेस्ट बनाएं.
  • पेस्ट को अच्छी तरह मिलाकर चेहरे पर एक समान परत के रूप में लगा लें.
  • 15 मिनट तक सूखने दें.
  • ठन्डे पानी से धोकर त्वचा को सुखा लें.
  • इस विधि को सप्ताह में एक बार करें.

अरंडी का तेल (Castor Oil)

अरंडी का तेल या कैस्टर ऑइल एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है. मिलिया और एक्ने आदि के लिए यह बहुत असरकारी माना जाता है.

  • अच्छी गुणवत्ता वाले कैस्टर ऑइल का प्रयोग करें.
  • आधे चम्मच की मात्रा में लेकर इसे सीधे त्वचा पर लगा लें.
  • त्वचा इसे अच्छी तरह सोख पाए, इसीलिए कुछ देर के लिए ऐसे ही छोड़ दें.
  • कुछ महीनों तक इस प्रयोग को दोहराते रहे.

टी ट्री ऑइल (Tea Tree Oil)

टी ट्री ऑइल त्वचा को कई तरह की समस्याओं से दूर रखता है. इसका प्रयोग कई तरह की समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है.

Subscribe to Blog via Email

Join 45,326 other subscribers

  • चेहरे को धोकर साफ़ करें.
  • हाथों में टी ट्री ऑइल लेकर चेहरे में लगा लें.
  • सोने के पहले रोजाना इस प्रयोग को करें.
  • सुबह चेहरा धो लें.

एलो वेरा (Aloe Vera)

एलो वेरा कई तरह के गुणों के साथ एंटीओक्सिडेंट से भी भरपूर होता है. यह मिलिया को दूर करता है और बंद पोरों को खोलने में मदद भी करता है.

  • एलो वेरा के ताज़ा पत्तों के रस या गुदे को चेहरे पर लगा कर मसाज करें.
  • इसे रात भर के लिए लगा रहने दें.
  • सुबह चेहरे को साफ़ पानी से धो लें.
  • मिलिया के प्रभाव को कम करने के लिए रोजाना यह प्रयोग करें.

मेथी (Fenugreek leaves)

मेथी आयुर्वेद में भी बहुत महत्व रखती है. सेहत और सुन्दरता दोनों के लिए ही यह बहुत गुणकारी है.

  • मुट्ठी भर हरी मेथी की पत्तियों को पानी के साथ पीस लें.
  • इस पेस्ट को त्वचा पर 15 मिनट तक लगा रहने दें.
  • इसे तब तक दोहराते रहे जब तक मिलिया का प्रभाव दिखना बंद नहीं हो जाता.
loading...