Iodine rich food for thyroid problems – थायराइड की समस्या को दूर करने के लिए बेहतर आयोडीन युक्त पदार्थ

अच्छे स्वास्थ के लिए आयोडीन अति आवश्यक खनिज है। इसकी कमी होने पर व्यक्ति को हाइपोथाइरॉइडिस्म की समस्या हो जाती है। आयोडीन की कमी होने का सबसे बड़ा लक्षण है गले में थायराइड का बढ़ जाना जिसे आम भाषा में गोइटर कहा जाता है। यह समस्या का अमेरिका में आयोडीन युक्त नमक का सेवन करने से समाधान हो चुका है। इसके अलावा ऐसे कई पदार्थ है जो आयोडीन युक्त माने जाते है।

  • सी फ़ूड : मछली से  सबसे ज़्यादा आयोडीन की प्राप्ति हो सकती है। आयोडीन के लाभ, कई मछलियों में समुद्र से आयोडीन अवशोषित करने के गुण होते है। कॉड और झींगे में भी भारी मात्रा में आयोडीन होता है। इनके अलावा ट्यूना, हैडॉक और शैल मछली  में भी आयोडीन पाया जा सकता है।
  • आयोडाइज़्ड सोडियम : आयोडीन के स्रोत (iodine ke sarot), आज के वक़्त में आयोडीन का सबसे अच्छा स्त्रोत नमक है। यह नमक हमारे किचन में मौजूद होता है। आयोडाइज़्ड नमक अपनी ही तरह से पूरी दुनिया में पहचान पा चुका है और हर तरह के भोजन में उपयोग में लिया जाता है।
  • थाइरॉयड का इलाज – सिवार : भूरे रंग के सिवार के साथ वाकामे और नोर्इ भी आयोडीन से युक्त है। यह दवाई के रूप में भी काम में लिया जाता है। तथा यह शरीर को आयोडीन प्रदान करने में लाभदायक है।
  • सब्ज़ियाँ: कई तरह की सब्ज़ियाँ जैसे पालक, सोया बीन, हरी पत्तेदार शलजम, स्विस कार्ड, गर्मियों के रस, लाइमा एक्सप्रेसो बींस और लहसुन से भारी मात्रा में आयोडीन प्राप्त किया जा सकता है। इसी के साथ वह मत्वपूर्ण पोषक तत्व, विटामिन और एंटी ऑक्सीडेंट प्रदान करते है।
  • थायराइड के घरेलू उपचार – स्ट्रॉबेरी : कई तरह के फलों में आयोडीन होता है जिनमे से एक स्ट्रॉबेरी होती है। इनमे थोड़ी मात्रा में आयोडीन मौजूद होता है जिसके साथ यह दूसरे पोषक तत्व भी प्रदान करती है। इसी के साथ इसमें कैलोरीज काफी कम किन्तु स्वादिष्ट होती है। यह आपके खाने में स्वाद ला सकती है। स्ट्रॉबेरी प्रोटीन शेक पीने से यह आयोडीन प्रदान करती है।
  • दूध, दही और मक्खन : दही और दूध के बने उत्पाद आयोडीन के अच्छे स्त्रोत है।