Horse Gram / Kulthi benefits in Hindi – कुलथी से स्वास्थय लाभ

कुलथी (kulthi dal) एक लाली लिए भूरा दलहन है जिसके कई स्वास्थ्य लाभ है। यह स्वादिष्ट होता है और साथ ही देता है पोषण। इसीलिए यह हर वर्ग के लोगों का प्रिय भोजन है। प्रोटीन, विटामिन, और आयरन की अधिकता के कारण यह अनाज अतिरिक्त वसा व वजन कम करने में मदद करता है। इसमें अच्छी मात्रा में विटामिन बी-काम्पलेक्स और प्रोटीन होता है जिससे माहवारी के दिनों में मदद मिलती है और यह आर्थिराइटिस से बचाता और इसका इलाज भी करता है। ऊँची मात्रा में मौजूद डाइट फाइबर (रेशे) रक्तचाप और शुगर ग्लूकोज के स्तर को संतुलित रखता है।

कुलथी के स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of horse gram)

चने/चिकी मटर से होने वाले अद्भुत स्वास्थ्य लाभ

  • कुलथी की दाल के फायदे, कुलथी का पौधा एंटी आक्सीडेंट, त्वचा से तेल कम करने और ज्यादा पेशाब बनाने के गुण, जिससे अशुद्धियां जल्दी दूर होती हैं, से भरपूर है। यह कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज में इस्तेमाल होती है। खासकर डायरिया, हेमरेज़ और हेमरोइड।
  • कुलथी की दाल, माहवारी के दिनों की दिक्कतों, ल्यूकोरिया और गर्भ के दिनों खून आने जैसी समस्याओं में यह बहुत प्रभावकारी है।
  • कुल्थी की दाल, कमजोर लिवर वाले मरीजों, स्पीलीन बढ़ जाने पर और कोलिक के लिए कुलथी एक दवा का काम करती है।  किडनी व गॅाल-ब्लेडर की पथरी और ऊँचे रक्तचाप में कुलथी की अधिक मात्रा का सेवन करें।
  • दो या तीन छोटे चम्मच कुलथी को पर्याप्त पानी में रात भर भिगोकर पेस्ट बना लें और दिन में दो बार लें। अधिक प्रभाव के लिए इस पानी को भी पी सकते हैं।
  • कुलथी के फायदे (kulthi ke fayde), कुलथी का महत्व आयुर्वैदिक दवाओं में भी बहुत है। कई समस्याओं में जैसे कि गैस, कीड़ों से इंफेक्शन, खाँसी, छालों और अत्यधिक पसीना आना और सांस लेने में हो रही दिक्कत में इसका इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।
  • कुलथी की दाल, रोज इस्तेमाल करने पर कीड़ों से होने वाले इंफेक्शन और पेट की परेशानियाँ जैसे एसीडिटी आदि दूर रहतीं हैं।
  • कुलथी के लाभ, कुलथी को पीस कर पाउडर बना लें। इसके दो चम्मच पानी में डालकर पिएँ। यह मिश्रण त्वचा से रैशेस हटाने में मददगार है।
  • थोड़ी सी कुलथी को पानी में उबालें, इस पानी से बुखार को नियत्रिंत करने में मदद मिलेगी।
  • कुलथी के गुण (kulthi ke gun), क्या आप माहवारी की दिक्कतों का समाधान चाहते हैं? जैसे कि अनियमित खून आना। तो कुलथी एक आदर्श विकल्प है। इसे अपने भोजन में सूप की तरह या कच्चा ही इस्तेमाल करें और बेहतरीन परिणाम देखें।

इसी तरह गर्भधारण के बाद खून आने की समस्या में भी यह बहुत कारगर है। स्त्रियाँ सम्पूर्ण स्वास्थय लाभ के लिए इसे सुबह खाली पेट एक चम्मच लें।

सरसों के बीज के आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ

नोट: गर्भवती महिलाएं इसे इस्तेमाल न करें।

एक छोटा चम्मच कुलथी (kulthi ki daal) पानी में उबालकर गाढ़ा पेस्ट बना लें। अब इसमें चुटकी भर काली मिर्च का पाउडर डालकर निगलें। इस आसान सी प्रक्रिया से आप सामान्य सर्दी, खाँसी और गले की खराश व सूजन से आराम पा सकते हैं।

Subscribe to Blog via Email

Get Hindi tips to your inbox everyday