Remedy for indigestion with peppermint juice video – बदहजमी के इलाज के लिए पेपरमिंट / पुदीने के जूस का नुस्खा सहित विडियो

क्या आप पेट से सम्बंधित समस्या से गुज़र रहे है? क्या आपके काम करने के स्थान पर आपकी बदहजमी के समस्या से आपको परेशानी हो रही है? तो फिर आपके इलाज के लिए सही उपाय पेपरमिंट जूस / पुदीने का रस है। आपको केवल पुदीने के पत्ते चाहिए इस जूस को बनाने के लिए।

आपको कोई दवाई की आवश्यकता नहीं है जिस से आपको साइड इफेक्ट्स हो सके। ये प्राकृतिक पुदीने पत्ते से आप अपने बदहजमी की समस्या का इलाज कर सकते है जिसके कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं है। इस विडियो में आप इस जूस को बनाने के अनुदेश के बारे में जान सकते है।

बदहजमी के इलाज के लिए पेपरमिंट का घरेलु नुस्खा (Peppermint home treatment for indigestion)

प्रक्रिया (Procedure)

एक ग्लास पानी में 1 चमच पुदीने का रस / एक्सट्रेक्ट मिलाए। अब इस पानी को पी लें और तुरंत परिणाम पाए।

उल्टी से बचने के लिए घरेलू उपचार

बदहजमी से बचने के लिए सुझाव (Preventive tips to indigestion)

  • एक समय पर भारी खाना ना लें। खाने को कम मात्रा में खाए।
  • धीरे से खाए और खाने का स्वाद लें। खाने को निगले मत।
  • उन खानों से दूर रहे जिसमे भारी एसिड हो।
  • शराब का सेवन कम कर दें, हो सके तो बंद कर दें।
  • बदहजमी का एक कारण स्ट्रेस भी है इसलिए अपने लाइफ स्टाइल को बदलिए और एक स्ट्रेस फ्री लाइफ को जीए।
  • उन टाइट फिटिंग के कपड़ो को दूर रखें जिस से पेट दबता हो और जो पाचन तंत्र के लिए एक दिवार बन गया हो।
  • खाना खाने के तुरंत बाद ना लेटे।
  • सोने के लिए जाने से 3 घंटे पहले रात का खाना खा लें।

पेपरमिंट जूस को कैसे बनाए? (How to prepare peppermint juice?)

आप इस पुदीने के रस को घर पर आसानी से बना सकते है। इस जूस को बनाने के लिए जिन सामग्री की आवश्यकता है वो है :

  • 4 से 5 – पुदीने के पत्ते
  • पानी
  • आइस क्यूब
  • नमक
  • चीनी

प्रक्रिया (Procedure)

मार्किट में उपलब्ध पुदीने के डंठल को सबसे पहले लें। अब इनमें से पत्ते को निकाल लें और साइड में रख दें। अब पुदीने के पत्ते को इस तरह धोए की कोई धुल या गंद ना रह जाए। अब अपना ब्लेंडर लें और इन पुदीने के पत्ते को डालें, इसके साथ आइस क्यूब, नमक और थोडा पानी भी मिलाए। इन्हें अच्छे से ब्लेंड कर लें और फिर इस जूस को ग्लास में डाल लें। अब इसमें और पानी को डालें जब तक ग्लास भर नहीं जाता। अब इसमें 2 आइस क्यूब और डालें और साथ 2 से 3 पुदीने के पत्ते को भी डालें। आपका पुदीना जूस तैयार है।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,326 other subscribers

घरेलू उपचार के साथ जुकाम का इलाज कैसे करें?

पेपरमिंट से क्यों सहायता प्राप्त होती है? (Why peppermint tea helps?)

कुछ लोग ये जानना चाहते होंगे की इस पुदीने के जूस के पीछे ऐसा क्या राज़ है जो ये सहयोगी है। आपना ये तो ज़रूर सुना होगा की पुदीने से गैस और पेट में खराबी की समस्या दूर होती है। अगर आप हार्ट बर्न की समस्या से गुज़र रहे है तो यही पुदीने के पत्ते आपकी सहायता करेंगे। 2011 में एक रिसर्च के अनुसार पुदीने से मल त्याग (bowel movement) में उत्पन्न होने वाली बेचैनी और समस्या को कम किया जा सकता है। ये इसलिए क्यूंकि पुदीने से एंटी पैन चैनल (anti pain channel) शरीर के कोलन में एक्टिवेट होता है। इस चैनल का साइंटिफिक नाम TRPM8 है। ये चैनल दर्द को कम करता है जो सरसों के मसाले पदार्थ को खाने से होता है।  इसके बाद अनेक रिसर्च को किया गया जिस से ये पता चला की पुदीने से बदहजमी का इलाज किया जा सकता है और ये एक श्रेष्ठ नुस्खा है।

loading...