How to exfoliate your body and facial skin tips in Hindi – त्वचा से मृत कोशिकाएं कैसे निकालें?

आपको ये तथ्य अच्छी तरह से पता होगा की शरीर की त्वचा हर रोज झडती है। हर घंटे आपके शरीर से कम से कम 30 से 40 हजार कोशिकाएं झडती हैं। त्वचा के उपरी स्तर पर हमेशा नई त्वचा बनती रहती है।

त्वचा की उपरी परत से डेड स्किन मृत कोशिकाएं निकालना जरुरी है। कुछ लोग यह तरीका अपनी त्वचा को उजला बनाने के लिए अपनाते हैं और कुछ लोग मुंहासे कम करके त्वचा मुलायम करने के लिए।

त्वचा से मृत कोशिकाएं हटाना (Body exfoliation se scrub kaise kare in hindi)

नहाने के बाद प्राकृतिक रेशों से बना ब्रश इस्तेमाल करना (Natural bristled brush for out of shower)

नहाने के बाद डेड स्किन मृत कोशिकाएं निकालने के लिए प्राकृतिक रेशों से बना ब्रश इस्तेमाल करें। ब्रश से गोलाकार रूप में त्वचा धीरे से रगड़ें। पैरों से शुरू करके छाती तक, फिर हाथों पर और पीठ पर रगड़ें।

नहाने के दौरान लूफा से रगड़ना (Loofah to exfoliate in the shower – dead skin kaise dur kare)

त्वचा के लिए घरेलू बॉडी और फेशियल स्क्रब

लूफा इस्तेमाल करके आप नहाते हुए मृत कोशिकाएं हटा सकती हैं। अच्छी किस्म के लूफा प्राकृतिक स्पंज से बनते हैं जिस कारण त्वचा पर खुजली नहीं होती। स्क्रबिंग, लूफा की जगह आप दस्ताने भी इस्तेमाल कर सकती हैं। ये दोनों चेहरे पर इस्तेमाल न करें।

मृत कोशिकाओं के लिए स्क्रब (Exfoliation scrub se dead skin hatana)

ऐसे स्क्रब का प्रयोग करें जिसमें स्क्रब का नाम लिखा हो। यह लूफा (loofah) की तरह ही त्वचा से मृत कोशिकाओं को दूर करता है।

शरीर को कुछ मिनटों तक चलते हुए पानी से अच्छे से गीला होने दें और इसके बाद स्क्रब या लूफा का धीरे धीरे प्रयोग करें। इस विधि का प्रयोग करते समय खौलते हुए की जगह हल्के गर्म पानी का इस्तेमाल करें। ज़्यादा गर्म पानी से त्वचा रूखी हो जाती है।

स्क्रब को अपनी उँगलियों पर लें और फिर अपनी गीली त्वचा पर गोलाकार मुद्रा में घुमाकर अच्छे से धो लें। अपनी त्वचा के प्रकार के हिसाब से इस विधि का पालन 3 से 7 दिनों तक करें।

चेहरे से मृत कोशिकाएं हटाना (Facial exfoliation – scrub use karne ka tarika)

संवेदनशील त्वचा के लिए उपाय (Facial skin exfoliation for sensitive skin)

  • सौम्य क्लेंसर का इस्तेमाल करें।
  • एक कपडा लेकर उसे गर्म पानी में भिगोकर निचोड़ लें।
  • यह कपडा अपने चेहरे पर 1 से 2 मिनट के लिए रखें।
  • इस कपडे पर थोडा क्लेंसर डालकर 2 मिनट के लिए गोलाकार रूप से चेहरे को नाक से शुरू करके माथे की ओर धीरे से रगड़ें।
  • फिर चेहरा पानी से धोकर सुखा लें।
  • अंत में सौम्य मॉइस्चराइजर लोशन लगाएं।
  • संवेदनशील त्वचा पर कठोर या अम्ल वाले क्लेनज़र का प्रयोग करने से आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचेगा, अतः सौम्य क्लेनज़र का चुनाव करें।
  • एक्सफोलिएशन के लिए चेहरे को हल्की तरह से रगड़ने पर भी काम चल जाएगा, अतः चेहरे पर ज़्यादा कठोरता ना बरतें।
  • हालांकि त्वचा पर क्रीम या लोशन (cream or lotion) लगाने से त्वचा पर लालपन आ जाएगा, पर कुछ घंटों में ही आपको त्वचा पर परिवर्तन नज़र आएगा।

सामान्य त्वचा के लिए उपाय (Facial skin exfoliation for normal skin)

शरीर की देखभाल के लिए घरेलू स्क्रब

  • सौम्य फेशियल स्क्रब खरीदें जिसमे चीनी या जोजोबा हो।
  • थोडा स्क्रब चेहरे पर लगाकर गोलाकार रूप से रगड़ें।
  • सौम्य ब्रश और सौम्य साबुन से त्वचा साफ़ कर लें।
  • ग्लाय्कोलिक मास्क चेहरे पर इस्तेमाल करें जिसमे अल्फ़ा हाइड्रोक्सी और बीटा हाइड्रोक्सी आम्ल होते हैं।
  • यह मास्क हर रोज लगाया जा सकता है।
  • इस उपाय के बाद मॉइस्चराइजर लगाएं।
  • स्क्रब को चेहरे पर धीरे से लगाकर गोलाकार मुद्रा में रगड़ें।
  • त्वचा को साफ़ करने वाली ब्रश और साबुन की मदद से निर्देशों के अनुसार रोज़ त्वचा को साफ करें।
  • ग्लाइकॉलिक मास्क (glycolic mask) का प्रयोग करें क्योंकि यह आपकी त्वचा को अल्फ़ा हाइड्रोक्सी और बीटा हाइड्रोक्सी एसिड (alpha hydroxy acid and beta hydroxy acid) की मदद से एक्सफोलिएट करने में मदद करता है।
  • त्वचा पर भविष्य में मृत कोशिकाओं, रूखेपन एवं लालपन को आने से रोकने के लिए मोइस्चराइज़र (moisturizer) का प्रयोग करना काफी ज़रूरी है।

तैलीय त्वचा के लिए उपाय (Facial skin exfoliation for oily skin)

  • हर दिन के उपाय के लिए फेशियल स्क्रब या ब्रश इस्तेमाल करें।
  • दवाइयों की दुकानों पर उपलब्ध ग्लाय्कोलिक पैड इस्तेमाल करके त्वचा से अतिरिक्त तेल हटायें।
  • फिर मॉइस्चराइजिंग क्रीम या लोशन इस्तेमाल करें।

प्राकृतिक तरीके इस्तेमाल करें (Try natural for mrit twacha hatane ke liye)

शरीर की उपरी सतह पर मौजूद मृत कोशिकाएं रंध्रों को अवरोधित करती हैं और मुंहासे बनते हैं। कई कीटाणु इस मृत त्वचा पर पलते हैं और त्वचा का संक्रमण होता है। कोई मलम लगाने से पहले त्वचा से मृत कोशिकाएं हटायें।

स्क्रब कैसे करे, तैलीय त्वचा के लोगों के लिए अधिक देखभाल जरुरी है। रोज का प्रदुषण यह समस्या बढाता है।

त्वचा की सबसे ऊपरी परत पर कई अदृश्य मृत कोशिकाएं होती हैं। इन्हें बीच बीच में साफ़ करना आवश्यक है क्योंकि ये रोमछिद्रों को बंद कर देती हैं।

आपको स्नान करते समय लूफा के साथ नॉन कोमेडोजेनिक मलहम (non-comedogenic ointment) का इस्तेमाल करना चाहिए। ये आपकी त्वचा के रोमछिद्रों को बंद नहीं होने देते। पर क्या आपको त्वचा को एक्सफोलिएट करने के घरेलू नुस्खों के बारे में पता है ? नीचे ऐसे कुछ नुस्खे बताये गए हैं।

शहद से बने चेहरे के स्क्रब (Honey based face scrub ke fayde)

  • शहद त्वचा के लिए काफी बेहतरीन होता है। फूलों के शुद्ध अमृत में त्वचा को प्यार एवं गहराई से पोषण प्रदान करने के गुण मौजूद होते हैं। इससे आप काफी पोषक स्क्रब का निर्माण कर सकते हैं। इसमें प्रयुक्त तीनों उत्पादों का काफी महत्वपूर्ण स्थान है। क्योंकि यह त्वचा में प्राकृतिक रूप से समा जाता है, अतः आपके रोमछिद्रों की और भी गहराई से सफाई होती है।
  • शहद त्वचा का गहराई से पोषण करता है। 1 बड़ा चम्मच जई , 1 छोटा चम्मच शहद और 1 छोटा चम्मच दही अच्छी तरह से मिलाएं। यह स्क्रब चेहरे पर लगाएं। शहद प्राकृतिक मॉइस्चराइजर और कीटाणुरोधक है। दही से त्वचा के रंध्र साफ़ होकर खुल जाते हैं। दही का लैक्टिक आम्ल त्वचा के फोड़े मिटाता है। जई का खुरदरापन त्वचा से मृत कोशिकाएं हटाता है। यह मिश्रण ज्यादा गाढ़ा न बनाएं जिससे त्वचा का  प्राकृतिक तेल निकल जाएँ।

चमकदार त्वचा के लिए सर्वश्रेष्ठ बॉडी लोशन्स

  • शहद में खाने का सोडा और नींबू का रस मिलाकर उसका काढ़ा बनाएं। यह तैलीय त्वचा के लोगों के लिए उपयोगी है। नींबू का सिट्रिक आम्ल और खाने के सोडे के क्षारीय गुण एक दुसरे को मिटाते हैं पर यह त्वचा के लिए अच्छे किस्म का विरंजन प्रदान करते हैं। 1 बड़ा चम्मच शहद , आधा छोटा चम्मच नींबू का रस और आधा छोटा चम्मच खाने का सोडा मिलाएं। खाने का सोडा अपनी त्वचा पर लगाने से पहले थोड़ी त्वचा पर एलर्जी के लिए आजमायें। अगर कोई तकलीफ न हो तो यह मिश्रण पुरे चेहरे पर लगाएं।
  • अच्छे से पिसा हुआ ब्राउन शुगर (brown sugar) प्राकृतिक रूप से त्वचा को नमी प्रदान करता है और त्वचा की ऊपरी परत से मृत कोशिकाओं को दूर करता है।
  • शहद , जैतून का तेल और ब्राउन शुगर मिलाकर चेहरे का मास्क बनाया जा सकता है। स्क्रबिंग , यह मिश्रण सुखी त्वचा पर इस्तेमाल किया जाता है।
  • बादाम की पाउडर और शहद का मिश्रण भी इसी तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है।

स्क्रब कैसे करे, शहद से बने स्क्रब इस्तेमाल करने से पहले उंगलियाँ साफ़ सुथरी हों। त्वचा गोलाकार रूप में रगड़ी जानी चाहिए। ठोड़ी से शुरू करके माथे की ओर धीरे से स्क्रब लगाएं। कई सौंदर्य विशेषज्ञ स्क्रब लगाने से पहले स्टीम बाथ लेने की सलाह देते हैं। मिश्रण को चेहरे पर 2 से 3 मिनट तक रखें। फिर गुनगुने पानी से चेहरा साफ़ करें। फिर चेहरे पर ठंडा पानी छिडकें। नर्म और साफ़ तौलिये से चेहरा पोछ लें। उपाय से पहले बालों को पीछे बांधकर रखें।

  1. नींबू के रस से बना चेहरे का स्क्रब (Lemon juice face scrub) : अंडे का सफ़ेद भाग, समुद्री नमक और नींबू का रस मिलाकर चेहरे का स्क्रब बनायें। नींबू का सिट्रिक आम्ल सभी कीटाणुओं को मारता है। अंडे में प्रोटीन और वसा होता है। समुद्री नमक से त्वचा को पोषण मिलता है। अगर अंडे की बू और चिकनाहट से आपको परहेज हो तो अंडा इस्तेमाल न करें।
  2. फलों से बना चेहरे का स्क्रब (Fruit based face scrubs) : ककड़ी से बनी पेस्ट चेहरे के लिए अद्भुत स्क्रब है। ककड़ी चेहरे पर ठंडक लाती है और त्वचा को पोषण देती है। स्क्रबिंग, हिसालू या स्ट्रॉबेरी को मसलकर उसमे बादाम, चीनी या जई का मिश्रण चेहरे के स्क्रब जैसे इस्तेमाल किया जा सकता है।
loading...