Health benefits of cranberry juice – करौंदे के रस के स्वास्थ्य लाभ

करौंदा फाइबर एवं विटामिन सी (fiber and vitamin C) से भरपूर होता है। इसमें इतने गुण हैं कि इसे सुपर फ़ूड (superfood) समझा जाता है।  करौंदे के रस में मूत्रमार्ग की समस्याओं, किडनी में पथरी, कैंसर (cancer), दिल की बीमारियों एवं श्वसन की समस्याओं को दूर करने की शक्ति मौजूद होती है।

करौंदे के रस के स्वास्थ्य लाभ (Cranberry juice health benefits)

मूत्रमार्ग के संक्रमण को ठीक करे (Cures urinary tract infections)

तरबूज के स्वास्थ्य एवं पोषक गुण

करौंदे के रस का सेवन मूत्रमार्ग के संक्रमण को दूर करने का एक प्राकृतिक तरीका है। प्रस्तावित औषधियों के साथ इस रस का सेवन आपको संक्रमण से त्वरित रूप से ठीक करता है। एक बार ठीक होना शुरु होते ही रस पीना बंद ना करें।  इस रस को पीते रहने से यह समस्या दोबारा आपको परेशान नहीं कर पाएगी। करौंदे का रस मूत्रमार्ग की दीवारों की रक्षा करता है एवं इनसे बैक्टीरिया (bacteria) को अन्दर आने से रोकता है तथा शरीर से अन्य हानिकारक वस्तुओं को भी निकालता है।

प्रोबायोटिक की तरह काम करे (Acts like probiotic)

करौंदे का रस शरीर के लिए प्रोबायोटिक की तरह काम करता है तथा आँतों एवं आँतों के मार्ग की रक्षा करता है।  यह अंतड़ियों के अन्दर आवश्यक एवं फायदेमंद बैक्टीरिया की बढ़त सुनिश्चित करता है।  यह इ कोली (E.coli) से लड़ता है जो मूत्रमार्ग के संक्रमणों के लिए उत्तरदायी होती है। इन सबके अलावा यह आँतों के अन्दर मौजूद बैक्टीरिया से भी लड़ने में सक्षम है।

गुप्तांगों में हर्पीज़ की समस्या को दूर करे (Ward off the occurrence of genital herpes)

प्रोएंथोसायानाइडिन ए-1 कंपाउंड (Proanthocyanidin A-1 compound) की मौजूदगी की वजह से करौंदे का रस हर्पीज़ के वायरस (virus) को शरीर में गहरे जाने से रोकता है, जिसके माध्यम से यह गुप्तांगों में हर्पीज़ की रोकथाम करता है। यह ‘हर्पीज़ सिम्पलेक्स वायरस-2’ (herpes simplex virus-2) पैदा करने वाले गुप्तांगों के हर्पीज़ से भी लड़ता है।

कई जानलेवा बीमारियों की करे रोकथाम (Cranberry juice prevents many lethal diseases)

करौंदे के रस में मौजूद विशेष फ्लैवोनॉइड्स (flavonoids) एंटीऑक्सिडेंट्स (antioxidants) की तरह कार्य करते हैं एवं फ्री रेडिकल मोलेक्युल्स (free radical molecules) की रोकथाम करने में काफी प्रभावी साबित होते हैं, जिसकी वजह से हमारे शरीर पर फ्री रेडिकल मोलेक्युल्स के नकारात्मक प्रभाव कम होते हैं। करौंदे के रस का नियमित सेवन धमनियों के कठोर होने की बीमारी – जिसे आर्थेरोसक्लेरोसिस (artherosclerosis) कहते हैं – से आपको बचाता है। पॉलीफेनोलिक (polyphenolic) नामक एंटीऑक्सीडेंट करौंदे के रस में मौजूद होता है जो कैंसर एवं दिल की बीमारियों की समस्या से आपको बचाये रखता है।

दांतों की समस्या की रोकथाम (Prevents dental problems)

इस गर्मी में खाने के लिए सबसे अच्छा फल क्या हैं?

दांतों की समस्या से बचने के लिए रोज़ाना करौंदे के रस का सेवन करें।  यह अपने अम्लीय गुण के कारण दांतों एवं कैविटीज़ (cavities) की समस्या से लड़ने में सफल होता है। एस म्यूटंस (S. Mutans) एक प्रकार का बैक्टीरिया होता है जो दांतों की समस्या के लिए ज़िम्मेदार होता है। करौंदे का रस अपने अम्लीय गुणों के साथ इस बैक्टीरिया की रोकथाम करता है एवं इसे दूर भगाने में सहायता करता है।

Subscribe to Blog via Email

Join 45,129 other subscribers

पथरी के मरीज़ों के लिए लाभदायक (Beneficial for kidney stones patients)

करौंदे के रस का नियमित सेवन किडनियों के स्वास्थ्य को बनाये रखता है।  यह धीरे धीरे किडनी की पथरी एवं इससे सम्बंधित दर्द दूर करता है।

श्वसन संक्रमणों की रोकथाम (Avoids respiratory infections)

हेमोफाइलस इन्फ्लुएंजा (Haemophilus influenza) के कारण कानों एवं श्वसन की प्रणाली में संक्रमण उत्पन्न होता है।  करौंदे का रस इस समस्या को दूर करता है एवं भविष्य में इन संक्रमणों की रोकथाम भी करता है।

उपरोक्त करौंदे के रस का सेवन करने के स्वास्थ्य लाभ थे, परन्तु मधुमेह से ग्रस्त व्यक्तियों को अपने सेवन में नियंत्रण करना होगा, अन्यथा इससे उनके रक्त में ग्लूकोज़ (glucose) की मात्रा एवं अन्य समस्याओं में बढ़ोत्तरी होती है। दिन में दो बार से अधिक इसका सेवन ना करें, अन्यथा इससे दस्त की समस्या हो सकती है।  अतः रोज़ाना सीमित मात्रा में करौंदे के रस का सेवन करें।

loading...