Eye floaters? How to reduce eye floaters – आई फ्लोटर्स क्या हैं एवं इन्हें कैसे कम करें?

आई फ्लोटर्स छोटे घूमते हुए धब्बे हैं जो आँखों के आगे आ जाते हैं।  ये आपके सामने मुख्यतः तब आते हैं जब आप कोई उजली वस्तु जैसे सफ़ेद कागज़ या नीला आसमान देख रहे होते हैं। ये काफी परेशानी पैदा करने वाले होते हैं पर आमतौर पर ये आपकी नज़र को नुकसान नहीं पहुंचाते। अधिकतर लोग इन्हें नज़रंदाज़ करना सीख जाते हैं एवं कुछ महीनों या सालों में पूरी तरह कम हो जाते हैं।

कई बार आई फ्लोटर्स काफी मात्रा में बढ़ जाते हैं एवं इसके साथ रोशनी की झलक या पास की नज़र का कम होना चिंता का विषय बन जाता है एवं इसके लिए तुरंत चिकित्सकीय सहायता की दरकार होती है।  ये लक्षण स्थायी रूप से आपकी नज़र के जाने का कारण भी बन सकते हैं।

आई फ्लोटर्स के लक्षण (What are the symptoms of eye floaters?)

आँखों की तकलीफ का उपचार कैसे करें, आँखों में दर्द का प्राकृतिक इलाज

इसका नाम फ्लोटर इसलिए पड़ा क्योंकि यह आपकी आँखों के अन्दर तैरता रहता है।  जब भी आप इनपर ध्यान केन्द्रित करने का प्रयास करते हैं तो ये दूर हट जाते हैं। ये कई विभिन्न आकार प्रकार में दिखाई देते हैं :

  • काले या खाकी धब्बे
  • टेढ़ी मेढ़ी लकीरें
  • रस्सी जैसे रेशे जो खुरदुरे एवं तकरीबन पारदर्शी होते हैं
  • मकड़ी के जालों की तरह
  • वृत्ताकार

एक बार इनसे पीड़ित होने पर ये आसानी से नहीं जाते पर समय के साथ ये ठीक हो जाते हैं।

आई फ्लोटर्स के श्रेष्ठ प्राकृतिक उपचार (Best natural cure for eye floaters)

आई फ्लोटर्स कम करने के लिए आराम (Relaxation for reducing eye floaters)

यह आई फ्लोटर्स को दूर करने का श्रेष्ठतम उपाय है। लम्बे समय तक आँखों को तकलीफ देने के बाद इन्हें कोबंद करें एवं आँखों की मांसपेशियों को आराम दें।  आप अपनी हथेलियों को रगड़कर इनसे ताप उत्पन्न करके इनसे अपनी आँखें भी ढक सकते हैं।

आई फ्लोटर्स दूर करने के लिए मालिश (Massage to keep eye floaters away)

बंद आँखों के ऊपर गर्म पानी में भिगोया हुआ कपडा रखें एवं कनपटियों की मालिश करें।  इससे तनाव दूर करने एवं आई फ्लोटर्स से निजात पाने में सहायता मिलती है। वैकल्पिक रूप से दोनों हथेलियों को रगडें एवं इनसे अपनी आँखों को ढकें।  हथेलियों द्वारा पैदा की जाने वाली प्राकृतिक ऊर्जा तनाव को दूर करती है एवं थकी हुई आँखों को राहत प्रदान करती है।

फ्लोटर्स दूर करने के लिए आँखों के व्यायाम (Eye exercises to cure floaters)

व्यायाम से आई फ्लोटर्स को ठीक कैसे करें? आँखों का व्यायाम करने के लिए अपनी आँखों को गोलाकार मुद्रा में घुमाएं।  पहले दोनों आँखों को घड़ी की दिशा में और फिर घड़ी से उल्टी दिशा में घुमाएं।  आँखों के इस व्यायाम को प्रभावी परिणामों के लिए दिन में 10 बार दोहराएं।

आप पेंसिल की मदद से एक और व्यायाम कर सकते हैं जिसमें आपके हाथ पूरी तरह फैले हुए होने चाहिए।  पेंसिल पर ध्यान केन्द्रित करें एवं धीरे धीरे इसे आँखों की तरफ खींचें।  निरंतर पेंसिल पर नज़र टिकाये रखें।  इससे आपको आई फ्लोटर्स की समस्या से भी निजात प्राप्त होती है।

आई फ्लोटर्स से बचने के लिए जीवनशैली बदलें (Change your lifestyle to avoid eye floaters)

आँखों में एलर्जी के घरेलू उपाय

जीवनशैली में थोड़ा सा परिवर्तन आई फ्लोटर्स का इलाज करने में काफी मददगार साबित होते हैं।  आई फ्लोटर्स को कम करने के लिए टीवी देखना एवं कंप्यूटर पर काम करना कम करना आवश्यक है।  पर्याप्त नींद अवश्य लें। अतः आँखों को पर्याप्त आराम देने के लिए सोने का समय निर्धारित कर लें।  पर्याप्त निद्रा आई फ्लोटर्स को दूर करने में सहायक साबित होती है। कैफीन एवं अल्कोहल का आँखों पर बुरा असर पड़ता है।  अतः इनका सेवन बंद या कम करना फायदेमंद होता है।

आई फ्लोटर्स दूर करने के लिए खानपान में परिवर्तन (How to get rid of eye floaters naturally – Change in diet)

आई फ्लोटर्स दूर करने के लिए श्रेष्ठ खानपान क्या है? एंटीऑक्सिडेंट्स (antioxidants) से भरपूर भोजन जैसे संतरे, स्ट्रॉबेरी, कीवी (strawberries, kiwis), हरी पत्तेदार सब्जियां एवं ग्रीन टी (green tea) दूषित पदार्थों को साफ़ करने में सहायता करते हैं. ये  एंटीऑक्सिडेंट्स रेटिनल टिश्यूस (retinal tissues) को मजबूती प्रदान करके आँखों की रोशनी बढ़ाने एवं रक्त के संचार में बढ़ोत्तरी करने का काम करते हैं. टुरिन (Taurine) युक्त खाद्य पदार्थ जैसे मांस एवं सी फूड्स (sea foods) नज़र स्वस्थ रखने में काफी उपयोगी सिद्ध होते हैं …ओमेगा 3 फैटी एसिड्स (Omega-3 fatty acids) भी आई फ्लोटर्स के लक्षणों को कम करने में सहायता करते हैं. यह सन के तेल, मछलियों, वीटजर्म तथा अखरोट में पाया जाता है. अपने रोजाना के खानपान में इन खाद्य पदार्थों के मिश्रण से आई फ्लोटर्स से बचाव संभव होता है।