Hindi home remedies to whiten yellow teeth – पीले दांत साफ करने के उपाय

दांत हमारे शरीर का काफी महत्वपूर्ण अंग हैं, जिनके बिना हमारी सूरत काफी खराब दिखती है। इस बात का अंदाज़ा आपको अपने दादा दादी को देखकर लग ही गया होगा। अगर आप कम उम्र में अपने दांतों को गंवाना नहीं चाहते हैं तो अपने दांतों की रोज़ाना देखभाल करना काफी ज़रूरी है। रोज़ाना सही प्रकार दांतों को साफ़ नहीं करने से उनपर पीलेपन की परत आ जाती है।

आजकल ज़्यादातर महिलाएं अपने दांतों को लेकर काफी सजग रहती हैं क्योंकि जब वे पीले दांतों के साथ मुस्कुराती हैं तो इससे उनकी सुंदरता और स्वरुप पर काफी बुरा प्रभाव पड़ता है। अतः पीले दांतों को दूर करने के लिए आपको कोई ना कोई उपाय अपनाने ही चाहिये। नीचे इसके कुछ घरेलू नुस्खे दिए गए हैं।

एक मुस्कुराता हुआ चेहरा हमेशा पसंद किया जाता है। मुस्कुराता हुआ चेहरा खुशी और पवित्रता का लक्षण है। मुस्कान की सुंदरता पीले दाँतों से कम हो जाती है।

दाँतों का पीलापन होने की कई वजह हो सकती हैं। बढती उम्र, वंशानुगत कारण, अनुचित दंत स्वच्छता, चाय और कॉफी का ज्यादा सेवन, तंबाकू और सिगरेट के अत्यधिक उपभोग दाँतों के पीले होने का कारण हो सकते हैं। अक्सर लोग दाँतों का पीलापन हटाने के लिए चिकित्सा उपचार करते हैं पर इसमें समय और पैसा खर्च होता है। दाँतों का पीलापन और बदबू की समस्याओं से बचाव के लिए आप कुछ प्राकृतिक उपचार का प्रयोग कर सकते हैं।

पीले दांत चमकाने के घरेलू नुस्खे (Home remedies for yellow teeth)

पीले दाँत के लिए घरेलु उपाय खाने का सोडा या बेकिंग सोडा (Home remedy for peele daant in Hindi)

मुंह के छाले कम करने के लिए उत्तम घरेलू उपचार

बेकिंग पाउडर का उपयोग करके हम दांतों के पीले रंग को मिटा सकते हैं। एक बड़ा चम्मच बेकिंग सोडा लेकर उसे आधे कप पानी में मिलाएं। इस मिश्रण से कुल्ला करें। बेहतर परिणाम के लिए दिन में दो से तीन बार कुल्ला करें।

स्ट्रॉबेरी (Strawberries)

स्ट्रॉबेरी में अच्छी मात्र में एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी होता है जो दांत सफ़ेद करने के मदद करता है। 3 स्ट्रॉबेरी लेकर उसे पीसकर अपने दाँतों पर 1 मिनट के लिए घिसें। 1 हफ्ते में हर दिन 3 बार यह उपचार करें।

नींबू से पीले दाँत साफ करने के उपाय (Lemon)

नींबू के रस में एक चुटकी नमक मिलाकर अपने दांत घिसें। नींबू के रस के बजाय नींबू का छिल्का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। नींबू का छिल्का दाँतों पर घिसकर फिर पानी से कुल्ला करें।

सेब (Apples hai peele danton ke liye)

सेब की अम्लता दाँतों को सफ़ेद करने में मदद करती है। सेब अच्छी तरह से चबाकर खाएं। इसमें तंतु की अच्छी मात्र होती है जो दांतों को सफ़ेद करने में मदद करती है।

पीले दाँतों के लिए नमक (Salt)

नमक जीवाणुरोधी होता है जो दांतों के कोनो से कीटाणुओं को मारकर दांतों को सफेदी देता है। इसके आलावा दाँतों को खनिज घटक दिलाता है। दाँतों को घिसते समय मसूड़ों को ज्यादा ना घिसें जिससे उन्हें नुकसान हो सकता है।

लकड़ी का कोयला (Charcoal)

रोज के टूथपेस्ट में लकड़ी के कोयले की पाउडर मिलाएं। इससे दांत घिसें। दिन में 2 बार इस्तेमाल करने से दांत चमकने लगेंगे।

मुंह के स्वास्थ्य के लिए दांतों को ब्रश करने के नुस्खे

दांतों की देखभाल संतरे का छिल्का से (Orange peel)

रात को सोने से पहले संतरे के छिलके से दांत घिसें। संतरे का विटामिन सी दाँतों के कीटाणुओं को मारता है। यह दांतों को मजबूत और ज्यादा सफ़ेद करता है।

हाइड्रोजन पेरोक्साइड (Hydrogen peroxide)

हाइड्रोजन पेरोक्साइड में विरंजन एजेंट होता है जो पीले दांतों की समस्या दूर करने में बहुत मदद करता है। अगर आप माउथवाश खरीदें तो यह ध्यान दें की इसमें हाइड्रोजन पेरोक्साइड शामिल हो। कुल्ला करते समय इसे ना निगलें।

तुलसी (Holy basil)

ये तो हम सब जानते हैं कि तुलसी का प्रयोग घर में पूजा के लिए किया जाता है, पर इसके कई औषधीय गुण भी होते हैं। यह बात काफी आश्चर्यजनक है कि तुलसी में भी दांतों को चमकाने एवं दांतों एवं मुंह की समस्याओं को दूर करने के गुण होते हैं। दांतों को पीलेपन से बचाने के लिए तुलसी के पत्ते तोड़ें और इन्हें धूप में कुछ घंटों के लिए रखें। एक बार इनके सूख जाने पर इन्हें ग्राइंडर (grinder) में डालकर पीस लें। आप तुलसी की सूखी पत्तियों के साथ सरसों के तेल का मिश्रण करके दांतों की मालिश भी कर सकते हैं।

दांत साफ करने के उपाय नीम से (Neem / Indian lilac)

पुराने ज़माने में जब टूथपेस्ट और टूथब्रश (tooth paste and tooth brush) नहीं होते थे तो लोग नीम की टहनी तोड़कर इससे दातुन कर लिया करते थे। इसमें एस्ट्रिंजेंट और एंटीसेप्टिक (astringent as well as antiseptic) के गुण होते हैं, जिससे दांतों में सफेदी आती है और साँसों की बदबू दूर होती है। इसका स्वाद ज़रूर कड़वा होता है, पर ये आपके दांतों को बिना किसी साइड इफ़ेक्ट (side effect) के चमकाने के लिए काफी अच्छा होता है।

केले का छिलका (Banana peel)

अच्छी महक के लिये बेहतरीन मुंह फ्रेशनर

हम सबको पता है कि केला पोषक पदार्थों से भरपूर होता है। आपको केले के छिलकों से भी कई लाभ मिल सकते हैं। आमतौर पर इसे कूड़े में फेंक दिया जाता है, पर इसमें पोटैशियम, मैग्नीशियम और मैंगनीज़ (potassium, magnesium and manganese) जैसे पोषक पदार्थ मौजूद होते हैं। इन पदार्थों की मदद से आपके दांत चमकदार बन सकते हैं। केले का थोड़ा सा छिलका लें और इसके सफ़ेद भाग को दांतों पर 2 से 3 मिनट तक घिसें। इसके बाद इसे 15 मिनट के लिए छोड़ दें और सामान्य टूथपेस्ट से दांतों को साफ़ करें। 2 से 3 हफ़्तों तक ऐसा करने पर आपको परिणाम दिखना शुरू हो जाएंगे।

किशमिश (Raisins)

भारतीय रसोइयों में कोई भी मीठा व्यंजन बनाते समय किशमिश का काफी इस्तेमाल किया जाता है। इसके थोड़े से इस्तेमाल से आपके पीले दांत सफ़ेद हो सकते हैं। जब भी आपको समय मिले तो किशमिश चबाना शुरू कर दें।  इससे मुंह के अंदर लार बनेगी और प्लाक (plaque) पूरी तरह हट जाएगा।

दांतों की चमक के लिए सिट्रस फल (Citrus fruits)

हम सभी जानते हैं कि सिट्रस फलों में रंगत को गोरा करने के गुण होते हैं। यह आपके पीले दांतों को भी सफ़ेद करने की क्षमता रखता है। सिट्रस फलों में मुख्य हैं संतरा, नीम्बू, अनानास आदि। सिट्रस फलों का एक टुकड़ा काटें और इसे अपने दांतों पर रगड़ें। वैकल्पिक तौर पर सिट्रस फलों को चबाने बिना किसी सौंदर्य प्रभाव के भी दांतों में सफेदी आती है।

मारगोसा (Margosa)

यह एक प्राकृतिक जड़ीबूटी है जो आपको साँसों की बदबू और दांतों के पीलेपन से बचाती है। अगर आप टूथपेस्ट का प्रयोग नहीं भी करते, तो भी मारगोसा के प्रयोग से आपके दांत चमकदार बन जाते हैं। इस जड़ीबूटी का प्रयोग कई सौंदर्य उत्पादों में किया जाता है, क्योंकि इसमें एंटीसेप्टिक गुण होते हैं।

दांतों का पीलापन के लिए ऑइल पुलिंग (Oil pulling)

स्वस्थ मुँह की देखभाल की सलह अच्छी मुस्कान के लिए

यह आपके दांतों को स्वस्थ रखने का प्राकृतिक तरीका है। इस विधि का प्रयोग सदियों से आपके पूर्वजों द्वारा भी किया जाता रहा है। इसके प्रयोग से आपको मोतियों से चमकदार दांत प्राप्त होते हैं। दांतों को चमकदार बनाने के अलावा यह बैक्टीरिया, जिंजीवाइटिस (gingivitis) और प्लाक को निकालने में मदद करता है।

दूध और दही (Milk and yogurt)

आपके दांतों को अच्छे से स्वास्थ्य के लिए कैल्शियम और फॉस्फोरस (calcium and phosphorous) की आवश्यकता होती है। आप दूध और दही के मिश्रण की सहायता से पीले दांतों की समस्या को दूर कर सकते हैं। इससे आपके दांतों के इनेमल (enamel) में खनिज की मात्रा दोबारा भर जाती है। चमकदार दांतों के लिए यह काफी बेहतरीन उपाय है।

पीले दाँतों के लिए पीपल की जड़ (Banyan roots)

आपके दांतों की समस्या को दूर करने के लिए पीपल के पेड़ की जड़ काफी कारगर साबित होती है। इससे आपको प्राकृतिक रूप से चमकदार दांत प्राप्त होंगे। आप इसे एक टूथब्रश की तरह भी इस्तेमाल में ला सकते हैं। पीपल की जड़ लेकर दांत साफ़ करें और इसे फेंक दें। इनके एस्ट्रिंजेंट गुण दांतों को चमकदार और स्वस्थ बनाने में काफी फायदेमंद सिद्ध होते हैं।